COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बने 3 रिकॉर्ड जिन्हें तोड़ना लगभग नामुमकिन है

Pranshu Singh
CONTRIBUTOR
टॉप 5 / टॉप 10
5.71K   //    07 Mar 2019, 11:57 IST

Enter caption

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रोज नए रिकॉर्ड बनते हैं और रोज कुछ रिकॉर्ड टूटते हैं। मगर कुछ खिलाड़ियों द्वारा बनाए गये कुछ रिकॉर्डों को तोड़ना लगभग नामुमकिन हो चुका है, क्योकि जिस प्रकार से क्रिकेट बदल रही है लोग टेस्ट क्रिकेट से ज्यादा वनडे व वनडे से ज्यादा टी20 क्रिकेट पसंद कर रहे हैं उसके देखकर तो यही लगता है कि कुछ कीर्तीमान जो दिग्गज खिलाड़ी बनाकर गये हैं उन कीर्तीमानों को तोड़ना बेहद ही मुश्किल काम होगा।

आइए नजर डालते हैं ऐसे ही 3 कीर्तिमानों पर:

1.सचिन द्वारा सबसे ज्यादा बार वनडे क्रिकेट में “मैन ऑफ द मैच” बनना:

सचिन तेंदुलकर पूरे विश्व में अपनी बल्लेबाजी के लिए प्रसिद्ध थे। उनके द्वारा बनाए गये कुछ बेहतरीन रिकॉर्ड ऐसे हैं जिसे तोड़ना किसी के बल्लेबाज के लिए बेहद मुश्किल का काम होगा। एक समय यह कहा जाता था कि सचिन द्वारा बनाए गये शतकों के आस-पास भी कोई नहीं पहुच सकता है मगर जिस हिसाब से विराट कोहली बल्लेबाजी कर रहे हैं उसे देखकर लगता है कि बहुत जल्द उनका ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे। मगर इसके अलावा भी सचिन के पास बहुत से ऐसे रिकॉर्ड हैं जोकि सबसे परे हैं। उन्हें अपने वनडे करियर में कुल 62 बार मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला है जोकि दूसरे नम्बर पर मौजूद विराट कोहली (32) से बहुत ज्यादा है।

इसके अलावा सचिन ने अपने 23 साल लम्बे अंतरराष्ट्रीय करियर में 463 मैच खेले हैं जोकि आज के समय में किसी भी खिलाड़ी के लिए खेलना बहुत बड़ी बात होगी। इसके अलावा उन्होंने अपने करियर में कुल 6 बार विश्वकप खेला है जिसमें 1992, 1996,1999, 2003, 2007 व 2011 विश्वकप शामिल है। यह भी किसी भी एक खिलाड़ी द्वारा खेले गये सर्वाधिक विश्वकप में से एक है। सचिन ने 2003 विश्वकप में 673 रन बनाए थे यह एक खिलाड़ी द्वारा किसी भी एक विश्वकप में बनाए गये सबसे ज्यादा रन हैं।

1 / 2 NEXT
Advertisement
Topics you might be interested in:
Pranshu Singh
CONTRIBUTOR
Advertisement
Fetching more content...