Create
Notifications
Advertisement

3 ऐसे मुकाबले जब भारतीय टीम ने आखिरी गेंद पर मैच जीतकर टूर्नामेंट अपने नाम किया

  • भारतीय टीम ने आखिरी गेंद पर मुकाबला जीता और टूर्नामेंट भी अपने नाम किया
  • इनमें से दो बार चेज करते हए भारतीय टीम ने जीत हासिल की
SENIOR ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 13 May 2020, 14:53 IST

चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीतने के बाद भारतीय टीम
चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीतने के बाद भारतीय टीम

भारतीय टीम ने अभी तक कई रोमांचक मुकाबले खेले हैं। इस दौरान टीम ने कई मैचों में जीत हासिल की है तो कई मैचों में उसे हार का सामना भी करना पड़ा है। क्रिकेट का असली रोमांच तभी होता है, जब मुकाबला आखिरी गेंद तक हो और तब तक विजेता टीम के बारे में पता ना हो जब तक कि आखिरी गेंद ना पड़ जाए।

ये भी पढ़ें: युवराज सिंह ने भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ पर उठाए सवाल

भारतीय टीम ने भी अब तक आखिरी गेंद तक चले कई ऐसे मुकाबले खेले हैं, जिसमें उसे जीत भी मिली है। वहीं कई बार टीम ने आखिरी गेंद पर मुकाबला जीतकर टूर्नामेंट भी जीता है। इस लिस्ट में कई प्रमुख टूर्नामेंट या ट्रॉफी शामिल हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि वो 3 कौन से मुकाबले हैं जब भारतीय टीम ने आखिरी गेंद पर मैच जीतकर वो ट्रॉफी या टूर्नामेंट अपने नाम किया।

3.निदहास ट्रॉफी फाइनल 2018

दिनेश कार्तिक विजयी छक्का लगाने के बाद
दिनेश कार्तिक विजयी छक्का लगाने के बाद

निदहास ट्रॉफी के फाइनल को दिनेश कार्तिक के आखिरी गेंद पर छक्के के लिए याद किया जाएगा। फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट के नुकसान पर 166 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम को आखिरी 18 गेंद पर 35 रन चाहिए थे।

मनीष पांडे और विजय शंकर क्रीज पर मौजूद थे। मुस्तफिजुर रहमान ने 18वें ओवर में जबरदस्त गेंदबाजी की 4 डॉट गेंद डाली। पांचवी गेंद पर विजय शंकर ने लेग बाई के रूप में एक रन लिया और आखिरी गेंद पर मनीष पांडे आउट हो गए।

ये भी पढ़ें: तिलकरत्ने दिलशान ने ऑल टाइम वनडे इलेवन का किया चयन, भारत से सिर्फ सचिन तेंदुलकर शामिल

अब दो ओवर में 34 रनों की जरुरत थी। मनीष पांडे के बाद दिनेश कार्तिक बल्लेबाजी के लिए आए और 19वें ओवर में उन्होंने 2 छक्के और 2 चौके लगाते हुए 22 रन बटोर लिए। अब आखिरी ओवर में जीत के लिए 12 रन चाहिए थे। विजय शंकर उस दिन टच में नहीं थे और पहली 3 गेंद पर सिर्फ 2 रन ही बना पाए, चौथी गेंद पर जरुर उन्होंने चौका लगाया लेकिन 5वीं गेंद पर आउट हो गए। अब आखिरी गेंद पर जीत के लिए 5 रनों की दरकार थी और विजय शंकर ने शानदार छक्का लगाकर टीम को जीत दिला दी। इसके साथ ही भारत ने निदहास ट्रॉफी अपने नाम कर ली।


1 / 3 NEXT
Published 13 May 2020, 14:15 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit