Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

3 मौके जब भारत ने टेस्ट में 1 या 2 विकेट से जीत दर्ज की

  • भारत ने यह तीनों जीत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दर्ज की है
  • भारतीय टेस्ट इतिहास का एकमात्र टाई टेस्ट भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही आया है
EXPERT COLUMNIST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 10 Jun 2020, 18:25 IST
3 मौके जब भारत ने टेस्ट में 1 या 2 विकेट से जीत दर्ज की
3 मौके जब भारत ने टेस्ट में 1 या 2 विकेट से जीत दर्ज की

भारत ने 1932 से लेकर अभी तक कुल मिलाकर 532 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 157 मैच जीते हैं, और 167 मैच हारे हैं। इसके अलावा 217 मैच ड्रॉ हुए हैं, वहीं एक मैच टाई भी हुआ है। अपने 157 टेस्ट जीत में भारतीय टीम ने काफी एकतरफा जीत भी हासिल की, लेकिन कुछ मैच बेहद रोमांचक भी हुए और भारत ने काफी कम अंतर से मुकाबला अपने नाम किया।

रनों के लिहाज से भारत की सबसे छोटी जीत की अगर बात करें तो यह रिकॉर्ड 13 रनों का है, जब 2004 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को मुंबई टेस्ट में 13 रनों से हराया था। 1972 में भारत ने इंग्लैंड को कोलकाता टेस्ट में 28 रनों से हराया था, वहीं 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट में भारत ने 31 रनों से जीत हासिल की थी।

यह भी पढ़ें - 6 मौके जब नाइटवॉचमैन ने टेस्ट शतक लगाया

भारत के सबसे बड़े टेस्ट जीत की अगर बात करें तो रनों के लिहाज़ से रिकॉर्ड 337 रनों का है, जब भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को दिल्ली टेस्ट में हराया था। पारी के हिसाब से भारत की सबसे बड़ी जीत वेस्टइंडीज के खिलाफ 2018 में आई थी, जब राजकोट टेस्ट में उन्होंने एक पारी 272 रनों से जीत हासिल की थी। विकेट के मामले में भारतीय टीम ने अभी तक आठ बार टेस्ट क्रिकेट में 10 विकेट से जीत दर्ज की है।

हालाँकि आज हम बात करने जा रहे हैं विकेट के लिहाज से भारतीय टीम की तीन सबसे छोटी जीत के बारे में, जब उन्होंने 1 या 2 विकेट से टेस्ट में रोमांचक जीत हासिल की।

# भारत vs ऑस्ट्रेलिया (1 विकेट, मोहाली 2010)

भारत vsऑस्ट्रेलिया, मोहाली 2010
भारत vsऑस्ट्रेलिया, मोहाली 2010

2010 में मोहाली में दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेला गया और भारत ने जबरदस्त रोमांचक मैच में ऑस्ट्रेलिया को एक विकेट से हरा दिया। टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में शेन वॉटसन (126) के शतक और टिम पेन के 92 एवं रिकी पोंटिंग के 71 रनों की मदद से 428 रन बनाये, जिसके जवाब में भारत ने सचिन तेंदुलकर (98), सुरेश रैना (86), राहुल द्रविड़ (77) और वीरेंदर सहवाग (59) के अर्धशतकों की मदद से 405 रन बनाये और ऑस्ट्रेलिया को 23 रनों की मामूली बढ़त हासिल हुई।

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी फ्लॉप रही और पूरी टीम सिर्फ 192 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। भारत को जीत के लिए 216 रनों का लक्ष्य मिला, लेकिन टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और एक समय स्कोर 48/4 हो गया था। इसके बाद भी ऑस्ट्रेलिया ने मेजबानों को झटके दिए और स्कोर जब 124/8 हो गया, तब भारत की हार तय लग रही थी, लेकिन वीवीएस लक्ष्मण ने 73 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को एक विकेट से चौंकाने वाली जीत दिला दी। लक्ष्मण ने पहले इशांत शर्मा (31) के साथ नौवें विकेट के लिए 81 रन जोड़े और उनके आउट होने के बाद प्रज्ञान ओझा (5*) के साथ मिलकर टीम को यादगार जीत दिला दी। मैच में 8 विकेट लेने वाले ज़हीर खान को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

1 / 3 NEXT
Published 10 Jun 2020, 18:25 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit