Create
Notifications

IPL 2018: मुंबई इंडियंस के 4 खिलाड़ी जिन्होंने किया निराशाजनक प्रदर्शन

आशीष कुमार

आईपीएल के वर्तमान सीज़न में मुंबई इंडियंस के सभी प्रशंसकों को अपनी टीम के खराब प्रदर्शन से निराशा हुई होगी। दिल्ली डेयरडेविल्स ने उन्हें हराकर आईपीएल से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। हालाँकि मुंबई इंडियंस ने अपने आखिरी मैचों में वापसी करने की कोशिश की थी लेकिन शुरुआती चरणों में अपने खराब प्रदर्शन का खामियाज़ा उन्हें भुगतना पड़ा। मुंबई के लीग से बाहर होने का मुख्य कारण स्टार खिलाड़ियों का खराब फॉर्म है। तो आइये जानते हैं मुंबई इंडियंस के ऐसे 4 खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने इस सीज़न में निराशाजनक प्रदर्शन किया:

हार्दिक पांड्या (बल्लेबाज़ी)

सीजन की शुरुआत में हार्दिक पांड्या मुंबई इंडियंस के स्टार खिलाड़ी थे। आईपीएल नीलामी से पहले मुंबई द्वारा रिटेन किए गए तीन खिलाड़ियों में पांड्या भी एक थे। उनकी टीम को पांड्या से बल्ले और गेंद दोनों से अहम योगदान देने की उम्मीद थी। हालाँकि पांड्या ने इस सीजन में गेंदबाज़ी में तो अच्छा प्रदर्शन किया और मुंबई की ओर से विकेट लेने वाले आग्रणी गेंदबाज़ रहे लेकिन बल्लेबाज़ी में अहम मौकों पर अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। कप्तान रोहित शर्मा और काइरोन पोलार्ड पूरे सीज़न में खराब फॉर्म से जूझते रहे हैं, ऐसे में इस 24 वर्षीय आलराउंडर पर अपनी टीम को जीत दिलाने का सारा दारोमदार था। पिछले सत्रों के विपरीत इस साल पांड्या ने एक भी मैच में उम्मीद के मुताबिक बल्लेबाज़ी नहीं की। सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ 119 रनों का पीछा करते हुए उनकी 19 गेंदों में सिर्फ 3 रन की पारी उनके निराशाजनक प्रदर्शन का उदाहरण है। इस पारी के लिए उन्हें आलोचनाओं का शिकार भी होना पड़ा।

मुस्तफ़िज़ुर रहमान

मुस्तफिज़ुर रहमान ने आईपीएल सीज़न 2016 में अपनी बेहतरीन गेंदबाज़ी से सनराइज़र्स हैदराबाद को अपना पहला खिताब जिताने में मुख्य भूमिका निभाई थी। बाएं हाथ के इस तेज़ गेंदबाज ने अपनी सटीक और विविधतापूर्ण गेंदबाज़ी से विरोधी बल्लेबाज़ों को अपनी उँगलियों पर नचाया था। हालांकि, दो साल चोटों का शिकार रहे रहमान का प्रदर्शन निरंतर गिरता गया और आईपीएल 2018 में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलने वाले इस गेंदबाज़ ने बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया। शुरुआती मैचों में अच्छी गेंदबाज़ी करने के बाद वह अपने प्रदर्शन में निरंतरता बरकरार नहीं रख पाए और इस सीज़न में खेले अपने 7 मैचों में वह 8.36 की महंगी इकोनॉमी रेट से केवल 7 विकेट लेने में कामयाब रहे।

काइरोन पोलार्ड

पिछले कुछ वर्षों में काइरोन पोलार्ड मुंबई फ्रैंचाइजी के अभिन्न अंग बन गए हैं। पिछले सात सालों में मुंबई की ओर से खेलते हुए उन्होंने अपनी विस्फोटक बल्लेबाज़ी से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया है। सीज़न से पहले जोस बटलर के टीम से बाहर होने के बाद, मुंबई इंडियंस को पोलार्ड से बहुत उम्मीदें थीं, लेकिन यह विंडीज़ का खिलाड़ी उम्मीदों पर खरा उतरने में नाकाम रहे। आईपीएल 2018 में तो पोलार्ड ने बेहद खराब प्रदर्शन किया है और कई अहम मौकों पर वह टीम को जीत दिलाने में नाकाम रहे हैं। पर्याप्त अवसर दिए जाने के बावजूद, त्रिनिदाद और टोबैगो के इस बल्लेबाज़ ने अपनी 8 पारियों में 19 के निराशाजनक औसत पर सिर्फ 133 रन बनाए हैं।

रोहित शर्मा

आम तौर पर, प्रशंसकों को हर साल आईपीएल में रोहित शर्मा से धमाकेदार बल्लेबाज़ी की उम्मीद रहती है। हालांकि, इस सीज़न में उनका बल्ला खामोश रहा है। मुंबई इंडियंस के कप्तान और सबसे अहम खिलाड़ी होने के नाते, रोहित शर्मा के फॉर्म पर टीम का भाग्य निर्भर करता है। हाल ही में श्रीलंका में आयोजित निदाहस ट्रॉफी में बढ़िया प्रदर्शन के बाद मुंबई को उनसे तीसरी बार ख़िताबी जीत दिलाने की अपेक्षा थी, लेकिन दाएं हाथ के बल्लेबाज पिछले सीज़न के अपने शानदार प्रदर्शन को दोहराने में नाकाम रहे। उन्होंने खेले गए 14 मैचों में सिर्फ 286 रनों का योगदान दिया और अपनी टीम के प्लेऑफ से बाहर होने की बड़ी वजह बने। लेखक: कोव्वाली तेजा अनुवादक: आशीष कुमार

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...