वनडे के 4 दिग्गज भारतीय खिलाड़ी जो टेस्ट क्रिकेट में बुरी तरह से फ्लॉप रहे 

England v India - 1st ODI: Royal London One-Day Series

एकदिवसीय और टी-20 मैचों की तुलना में टेस्ट मैच को काफी कठिन माना जाता है। क्रिकेट का यह प्रारूप पूरी तरह से एकदिवसीय और टी-20 से अलग है। खिलाड़ियों की असली परीक्षा टेस्ट क्रिकेट में ही होती है। अगर किसी बल्लेबाज के पास अच्छी तकनीक नहीं है तो वो कभी भी टेस्ट क्रिकेट में सफल नहीं हो सकता। अच्छी तकनीक के अलावा खिलाड़ियों के पास धैर्य और एकाग्रता जैसे गुणों का होना भी अति आवश्यक है। हर खिलाड़ी का ये सपना होता है की वो अपने देश के लिए टेस्ट मैच खेले। ज्यादातर खिलाड़ियों का सपना पूरा हो जाता है लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी होते हैं जिनके सपने अधूरे ही रह जाते हैं। इसके अलावा कुछ खिलाड़ी ऐसे भी होते हैं जो एकदिवसीय और टी-20 में तो जबरदस्त प्रदर्शन करते हैं लेकिन टेस्ट क्रिकेट में वो पूरी तरह से फ्लॉप साबित होते हैं। आज हम आपको भारतीय टीम के कुछ ऐसे ही 4 दिग्गज खिलाड़ियों के बारे में बताने वाले हैं जो एकदिवसीय मैच में तो बहुत सफल हुए लेकिन टेस्ट क्रिकेट में बुरी तरह से फ्लॉप रहे।

#4 सुरेश रैना

India v South Africa - ICC Twenty20 World Cup Warm Up

लिमिटेड ओवर क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी सुरेश रैना एकदिवसीय और टी-20 में मिली सफलता को टेस्ट क्रिकेट में दोहरा नहीं सके। वे एकदिवसीय मैचों में टीम इंडिया के मध्यक्रम की रीढ़ हुआ करते थे। उन्होंने कई मौकों पर टीम इंडिया को अपने शानदार प्रदर्शन से जीत दिलवाई है लेकिन टेस्ट क्रिकेट में ये दिग्गज फिसड्डी साबित हुआ। फिलहाल वो सभी प्रारूपों में टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं।

#3 युवराज सिंह

India v Sri Lanka - ICC World Twenty20 Bangladesh 2014 Final

एकदिवसीय मैचों के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक युवराज सिंह जैसे दिग्गज खिलाड़ी भी टेस्ट क्रिकेट में बुरी तरह फ्लॉप साबित हुए। अपने शानदार प्रदर्शन से टीम इंडिया को 2007 के टी-20 विश्व कप तथा 2011 के विश्वकप में जीत दिलवाने वाले इस महारथी ने कुल चालीस टेस्ट मैच खेले हैं और उन चालीस मैचों में उन्होंने 33.93 की औसत से सिर्फ 1900 रन बनाएं। टेस्ट में उनके नाम सिर्फ तीन शतक तथा ग्यारह अर्धशतक शामिल है। इस दिग्गज खिलाड़ी को टेस्ट में पर्याप्त मौके दिए गए लेकिन उन मौकों को भुना पाने में वो असफल रहे। सुरेश रैना की तरह ही वो भी अभी क्रिकेट के सभी प्रारूपों में टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं।

#2 रोहित शर्मा

Australia v India - Game 1

रोहित शर्मा एकदिवसीय और टी-20 मैचों में टीम इंडिया की बल्लेबाजी के स्तंभ हैं। विराट कोहली के बाद टीम इंडिया के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज फिलहाल वो ही हैं। बेहद ही प्रतिभावान रोहित शर्मा को अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में आए हुए एक दशक से भी ज्यादा हो गए हैं लेकिन अब भी वो टेस्ट में अपनी जगह मजबूती से बना नहीं पाएं हैं। एकदिवसीय और टी-20 में शायद उनसे अच्छा सलामी बल्लेबाज इस समय पूरी दुनिया में कोई नहीं है लेकिन अब तक वो टेस्ट क्रिकेट में असफल ही रहे हैं। उन्होंने अब तक 27 टेस्ट खेले हैं जिसमें उनके नाम 1585 रन हैं वो भी 39.62 की साधारण सी औसत के साथ।

#1 महेंद्र सिंह धोनी

England v India - 2nd Vitality International T20

महेंद्र सिंह धोनी को एकदिवसीय मैचों का सर्वश्रेष्ठ फिनिशर कहा जाता है। टीम इंडिया के महानतम कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी ने भले ही एकदिवसीय मैचों में सफलता के कई झंडे गाड़े हों लेकिन टेस्ट क्रिकेट में वो भी बतौर बल्लेबाज वो कारनामा नहीं कर पाएं जो उन्होंने एकदिवसीय मैचों में किया। टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके धोनी ने 90 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उनके नाम मात्र 4876 रन ही हैं। जहाँ एकदिवसीय मैचों में उनका औसत 50.11 का है तो वही टेस्ट में उनका औसत 38.09 का है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now