Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

4 महान क्रिकेटर जिन्होंने अपना पहला और अंतिम टेस्ट एक ही मैदान पर खेला

Rahul Pandey
ANALYST
09 Jun 2018, 12:05 IST
 

क्रिकेट प्रशंसकों के लिए वह एक बहुत भावुक क्षण होता है जब कोई महान खिलाड़ी खेल को अलविदा कहता है। लेकिन, यह उन खिलाड़ियों के लिए और भी अधिक भावुक और विशेष मौका बन जाता है, जब वो उसी मैदान पर अपना अंतिम मैच खेलते हैं जहां उन्होंने अपना पहला क्रिकेट मैच खेला रहा हो।

यह वैसा ही होता जैसे उनकी आँखों के सामने उनके क्रिकेट जीवन के 15-16 साल का पूरा सफ़र किसी ने रख दिया हो।

सभी महान खिलाड़ियों को ऐसी भव्य विदाई नहीं मिलती है जिसके वो हकदार होते हैं। वहीं कुछ क्रिकेटर बहुत भाग्यशाली होते हैं कि अपना आखिरी टेस्ट वही खेलने को मिलता जहाँ से उन्होंने शुरुआत की हो, और क्रिकेट इतिहास में यह अवसर कुछ की खिलाड़ियों को मिला है।

यहाँ हम ऐसे ही 4 बड़े नाम वाले खिलाड़ियों पर नज़र डाल रहे जिनके टेस्ट करियर का अंत वहीं हुआ जहाँ शुरुआत हुई:

 

# 4 ग्रीम स्मिथ (केप टाउन)




 

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में किसी भी टीम द्वारा किसी कप्तान के ऊपर लगाये गये सबसे बड़े दांव में से एक था जब अफ्रीका ने ग्रीम स्मिथ को टेस्ट कप्तान नियुक्त किया, मगर आगे चलकर यह दांव बेहद सफल रहा और दक्षिण अफ्रीका के लिए 109 टेस्ट में 53 जीत दिला स्मिथ सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाले कप्तान बन गए। बल्ले के साथ, उन्होंने 47 के औसत से 9265 रन बनाए।

8 मार्च 2002 को न्यूलैंड्स, केप टाउन में ऑस्ट्रेलियाई टीमों के खिलाफ स्मिथ का कैरियर शुरू हुआ। अपने पहले टेस्ट मैच में, उन्होंने घातक ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजी आक्रमण के सामने 3 और 68 रन बनाए। इसके 15 महीने बाद ही उनके कंधे पर एक बड़ी ज़िम्मेदारी आई जब उन्हें 23 साल की उम्र में टेस्ट कप्तान बनाया गया। स्मिथ ने कप्तानी का भार सफलतापूर्वक संभाला और अफ्रीकी क्रिकेट को निरंतर आगे ले जाते रहे।

अपनी आखिरी श्रृंखला में फॉर्म से बाहर होने के कारण, उन्हें एहसास हो गया कि अब संन्यास लेने का समय आ गया है। स्मिथ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ केप टाउन में अपने अंतिम टेस्ट के चौथे दिन की शुरुआत से पहले अपने संन्यास की घोषणा की।

वह अपनी आखिरी श्रृंखला में 7.5 की औसत से केवल 45 रन ही बना सके थे।
1 / 4 NEXT
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...