4 मौक़े जब एक बल्लेबाज़ के ज़रिए बनाए रन को भी विरोधी टीम पार नहीं कर पाई

फटाफट क्रिकेट के इस दौर में चीजें काफी जल्दी बदल जाती है। वहीं बदलाव भी काफी तेज आता है। टी20 क्रिकेट में हर टीम को खेलने के लिए 120 गेंदें ही मिलती हैं जिसके कारण दोनों टीमों पर ही काफी दबाव देखा जाता है। एक टीम जहां इस दबाव को झेलकर बेहतर प्रदर्शन करती और रन स्कोर करती है तो वहीं दूसरी तरफ विरोधी टीम इस दबाव में ही उलझकर रह जाती है। इसके अलावा टी20 क्रिकेट में कई ऐसे मौके भी देखे गए हैं जब किसी एक टीम के बल्लेबाज के जरिए बनाए गए रनों के आस पास ही कोई दूसरी विरोधी टीम पूरी तरह से सिमट कर रह जाती है। वहीं कई मैच ऐसे भी देखे गए हैं जिनमें पहले बल्लेबाजी करते हुए किसी खिलाड़ी के जरिए बनाए गए स्कोर को भी बाद में बल्लेबाजी करने वाली पूरी टीम मिलकर भी नहीं बना पाती है। आइए यहां नजर डालते हैं ऐसे ही बल्लेबाजों पर जिनके जरिए किसी टी20 मैच में बनाए गए रनों के आंकड़े को भी विरोधी टीम पार नहीं कर पाई और पूरी तरह से सिमट गई।

#1 हैमिल्टन मसाकाड्ज़ा बनाम कनाडा, 2008

साल 2008 में जिम्बाब्वे और कनाडा के बीच टी20 मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे की टीम ने पांच विकेट के नुकसान पर 184 रन स्कोर किए। टीम के इस स्कोर में सबसे ज्यादा रनों का योगदान हैमिल्टन मसाकाजा का रहा। जिन्होंने धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए 79 रनों की पारी खेली। इसके अलावा जिम्बाब्वे की ओर से चिभाभा ने 40 रनों की पारी खेली। जिम्बाब्वे के स्कोर के जवाब में कनाडा की टीम कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पाई और जिम्बाब्वे के आगे कनाडाई बल्लेबाज एक के बाद एक धराधायी होते गए। इस मैच में पूरी कनाडा की टीम 75 रन के स्कोर पर ही समिट गई। इसके साथ ही जिम्बाब्वे की टीम को 109 रनों से जीत हासिल हुई। इस मैच में जिम्बाब्वे के मसाकाजा ने 79 रन बनाए तो वहीं कनाडा की टीम उतने रन भी स्कोर नहीं कर पाई और उससे चार रन पहले ही सिमट गई।

#2 ल्यूक राइट बनाम अफ़ग़ानिस्तान, 2012

साल 2012 में इंग्लैंड और अफगानिस्तान के बीच टी20 मुकाबला खेला गया। इंग्लैंड के सामने अफगानिस्तान जैसी कमजोर टीम थी, लेकिन इंग्लैंड ने फिर भी उसके खिलाफ दमदार प्रदर्शन किया। इस मुकाबले में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट के नुकसान पर 196 रन का स्कोर बनाया था। इस स्कोर में सबसे ज्यादा योगदान ल्यूक राइट का रहा, जो शतक बनाने से चूक गए थे। राइट ने इस मुकाबले में धमाकेदार पारी को अंजाम देते हुए नाबाद 99 रन बनाए थे। ल्यूक को आखिरी गेंद पर शतक बनाने के लिए तीन रनों की दरकार थी लेकिन वो तीन रन स्कोर नहीं कर पाए थे। वहीं अफगानिस्तान के लिए 196 का स्कोर काफी बड़ा था और इंग्लैंड के गेंदबाजों के आगे पूरी टीम झूझती नजर आई। इंग्लैंड के गेंदबाजों ने भी अफगानिस्तान के बल्लेबाजों की जमकर खैर ली और 80 रन के स्कोर पर पूरी टीम को ही समेट कर रख दिया। इसके साथ ही अफगानिस्तान की टीम ल्यूक राइट के जरिए बनाए गए 99 का स्कोर भी पार नहीं कर पाई और 19 रन पहले ही घुटने टेक दिए।

#3 माइकल स्वार्ट बनाम नेपाल, 2015

साल 2015 में नीदलैंड्स और नेपाल के बीच टी20 मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए नीदलैंड्स की टीम ने नेपाल के खिलाफ चार विकेट के नुकसान पर 172 रनों का स्कोर खड़ा कर दिया। इस मैच में नीदलैंड्स की ओर से सबसे बड़ी पारी माइकल स्वार्ट ने खेली। माइकल स्वार्ट ने इस मुकाबले में अर्धशतकीय पारी को अंजाम दिया। स्वार्ट ने इस पारी में 59 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 76 रन की पारी को अंजाम दिया। वहीं नीदलैंड्स की ओर से कूपर ने भी 66 रनों की पारी खेली। 172 रनों का स्कोर नेपाल के लिए काफी बड़ा था और पूरे मैच में ही नेपाल की टीम संघर्ष करती हुई दिखाई दी। बल्लेबाजी करते हुए नेपाल की ओर से केवल तीन बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू पाए और नेपाल की पूरी टीम ही 69 के स्कोर पर सिमट गई। माइकल स्वार्ट के जरिए बनाए गए 76 रन भी नेपाल की पूरी टीम मिलकर नहीं बना पाई।

#4 केएल राहुल बनाम आयरलैंड, 2018

साल 2018 में भारत और आयरलैंड के बीच टी20 मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी की और धमाकेदार खेल के दम पर टीम का स्कोर 200 पार ही पहुंचा दिया। भारतीय टीम ने इस मुकाबले में 213 रन बनाए। इस मैच में सबसे ज्यादा रनों का योगदान केएल राहुल का रहा। इसके अलावा भारत की ओर से सुरेश रैना ने भी बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 69 रन स्कोर किए। हालांकि जवाब में आयलैंड की टीम एकदम फिसड्डी साबित हुए और 70 रनों के स्कोर पर ही समिट गई। भारत की ओर से इस मैच में कुलदीप यादव ने 16 रन देकर तीन विकेट और युजवेंद्र चहल ने 21 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। आखिर में भारत ने आयरलैंड की टीम को जल्द ही समेट कर रख दिया और इस मुकाबले को भारत ने 143 रनों से अपने नाम किया। इसके साथ ही आयरलैंड की टीम सिर्फ उतने रन ही स्कोर कर पाई जितना की अकेले केएल राहुल ने अकेले ही स्कोर कर दिए थे। लेखक: अनिकेत दास अनुवादक: हिमांशु कोठारी

App download animated image Get the free App now