4 मौके जब भारतीय टीम टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में 100 रन भी नहीं बना पाई 

भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया अपना सबसे कम स्कोर
भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया अपना सबसे कम स्कोर

टी20 अंतर्राष्ट्रीय में सबसे कम स्कोर बनाने वाली टीम की बात करें, तो यह रिकॉर्ड टर्की के नाम है, जिन्होंने 2019 में चेक रिपब्लिक के खिलाफ सिर्फ 21 रन बनाए थे। हालांकि टेस्ट खेलने वाली टीमों द्वारा बनाए गए सबसे कम स्कोर की बात करें, तो यह रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के नाम है। वेस्टइंडीज की टीम 2019 में ही इंग्लैंड के खिलाफ सिर्फ 45 रनों पर ऑलआउट हो गई थी।

टेस्ट खेलने वाली प्रमुख टीमों की बात करें तो पाकिस्तान, वेस्टइंडीज, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, बांग्लादेश जैसी सभी प्रमुख टीमें अभी तक 100 के नीचे स्कोर पर ऑलआउट हो चुकी है। भारतीय टीम के बारे में बात करें, तो वो भी टी20 अंतर्राष्ट्रीय में 3 बार 100 के नीचे के स्कोर पर ऑलआउट हुई है।

इस आर्टिकल में हम ऐसे ही मौकों पर नजर डालेंगे, जब भारत की टीम 100 रन भी नहीं बना पाई:

#) भारत vs ऑस्ट्रेलिया, 2008 एकमात्र टी20 (74 रन)

भारतीय टीम के 10 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई थी
भारतीय टीम के 10 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई थी

2008 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर दोनों टीमों के बीच मेलबर्न में एकमात्र टी20 मुकाबला 1 फरवरी 2008 को खेला गया था। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया था, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी के आगे भारतीय बल्लेबाज बुरी तरह फेल हुए।

भारत की टीम 17.3 ओवरों में सिर्फ 74 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। गौर करने वाली बात यह थी कि इरफान पठान (30 गेंदों में 26 रन) के अलावा दूसरे 10 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए थे। ऑस्ट्रेलिया के लिए नाथन ब्रेकन ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए थे और भारत का टी20 में यह सबसे कम स्कोर भी है।

ऑस्ट्रेलिया ने इस स्कोर को एक विकेट खोकर 12वें ओवर में हासिल कर लिया। माइकल क्लार्क (36 गेंदों में 37 रन और एक रनआउट) को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

#) भारत vs श्रीलंका, तीसरा कोलंबो (81-8)

भारतीय टीम का शर्मनाक प्रदर्शन
भारतीय टीम का शर्मनाक प्रदर्शन

श्रीलंका और भारत के बीच 29 जुलाई को कोलंबो में तीन टी20 मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला गया। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय बल्लेबाजी पूरी तरह लड़खड़ा गई और टीम ने काफी निराश किया। भारतीय टीम ने 20 ओवर में सिर्फ 81-8 का स्कोर ही बना पाई और यह भारत का टी20 अंतरराष्ट्रीय में तीसरा सबसे कम स्कोर है।

इस मैच में शिखर धवन (0), ऋतुराज गायकवाड (14), देवदत्त पडिक्कल (9), संजू सैमसन (0) और नितीश राणा (6) ने काफी निराश किया। अंत में भुवनेश्वर कुमार (16) और कुलदीप यादव (23*) की महत्वपूर्ण पारियों की बदौलत टीम ने 20 ओवर पूरे खेले। हालांकि श्रीलंका ने इस स्कोर को आसानी से 15वें ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।

#) भारत vs दक्षिण अफ्रीका, दूसरा टी20 2015 (92 रन)

कटक में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय पारी लड़खड़ा गई थी
कटक में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय पारी लड़खड़ा गई थी

2015 में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का दूसरा टी20 मुकाबला कटक में खेला गया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम 17.2 ओवरों में सिर्फ 92 रनों पर ऑलआउट हो गई। भारत के लिए रोहित शर्मा (22), शिखर धवन (11), सुरेश रैना (22) और रविचंद्रन अश्विन (11) को शुरुआत मिली, लेकिन कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल पाया। दक्षिण अफ्रीका ने इस स्कोर को 4 विकेट खोकर 18वें ओवर में हासिल कर लिया। एल्बी मोर्कल को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया था।

#) भारत vs न्यूजीलैंड, 2016 वर्ल्ड टी20 (79 रन)

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय पारी लड़खड़ा गई थी
न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय पारी लड़खड़ा गई थी

2016 वर्ल्ड कप में भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए दोनों टीमों का पहला मुकाबला नागुपर में खेला गया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम 126-7 का स्कोर ही बना पाई और भारत को जीतने के लिए 127 रनों का लक्ष्य दिया। हालांकि भारतीय बल्लेबाजी बुरी तरह फ्लॉप हुई और टीम 19वें ओवर में 79 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। भारत का यह टी20 में दूसरा सबसे कम स्कोर है। मिचेल सैंटनर (18 रन और 4 विकेट) को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता