Create
Notifications

5 बल्लेबाज़ जो अपने ओपनिंग जोड़ीदार की वजह से फेमस हुए

विजय शर्मा

क्रिकेट एक टीम गेम है, इसमें जीत के लिए एक से ज्यादा खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करना पड़ता है। ये बात खेल के तीनों डिपार्टमेंट बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग पर लागू होती है। बल्लेबाजी की बात करें तो ये जरुरी हो जाता है कि टीम के सबसे अच्छे बैट्समैन को दूसरे खिलाड़ियों से भरपूर सहयोग मिले। वनडे क्रिकेट में कई महान खिलाड़ियों ने अपने टीम के लिए ओपनिंग की है। उनमें से कुछ जोडीदारों की अपनी पहचान है, जबकि कुछ अपने पार्टनर से जु़ड़ने की वजह से फेमस हुए। ऐसे खिलाड़ियों को अपने करियर में ज्यादा कामयाबी नहीं मिली, लेकिन अपने पार्टनर के साथ खेलते समय उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। ऐसे ही 5 बल्लेबाजों पर एक नजर: # एंड्रयू हडसन (साउथ अफ्रीका) balle 1 ओपनिंग पार्टनर- गैरी कर्स्टन एंड्यू हडसन ने अपने जोड़ीदार गैरी कर्स्टन से 2 साल पहले डैब्यू किया था। हडसन ने अपने करियर में 2500 से ज्यादा रन बनाए औऱ उनका सर्वाधिक स्कोर 1996 वर्ल्ड कप में नीदरलैंड्स के खिलाफ आया। हडसन और कर्स्टन ने दिसंबर 1993 से ओपनिंग करना किया, उनकी शुरुआत काफी खराब रही। पहले मैच में खराब शुरुआत के बावजूद दोनों ने 90 के दशक में टीम की जीत में अहम रोल निभाया। दोनों ने 39 बार ओपनिंग करते हुए 1500 से ज्यादा रन बनाए, जिनमें 4 शतकीय और 8 अर्धशतकीय साझेदारियां हैं। # उपुल थरंगा (श्रीलंका) balle 2 ओपनिंग पार्टनर- तिलकरत्ने दिलशान उपुल थरंगा ने भले ही अपने वनडे करियर में 5 हजार से ज्यादा रन, 13 सैंचुरी लगाई हो, लेकिन उनका करियर उस मुकाम तक नहीं पहुंच पाया। थरंगा को आज भी दिलशान के साथ उनकी जोड़ी के लिए जाना जाता है, जिसकी वजह से श्रीलंकाई क्रिकेट को काफी कामयाबी मिली। रनों के लिहाज से दिलशान-थरंगा की जोड़ी टॉप 10 में शामिल है। 2009-14 के बीच दिलशान थरंगा ने 3159 रन बतौर ओपनर्स बनाए। जिम्बाब्वे के खिलाफ 2011 वर्ल्ड कप में उनकी 282 रनों की ओपनिंग साझेदारी वनडे की दूसरी सबसे बड़ी है। # वेवल डिंड्स (वेस्टइंडीज़) balle 3 ओपनिंग पार्टनर- क्रिस गेल वेवल हिंड्स को बल्लेबाज के तौर पर कम ही सफलता मिली। अपने 11 साल के करियर में उन्होंने 45 टेस्ट और 100 वनडे मैच खेले। हालांकि हिंड्स को क्रिस गेल के साथ उनकी तूफानी जो़ड़ी के लिए हमेशा याद किया जाएगा। गेल और हिंड्स ने 41 मैचों में ओपनिंग कर 1687 रन बनाए, जिसमें 4 बार शतकीय और 5 बार अर्धशतकीय साझेदारी की। उनकी सर्वाधिक रन वाली पार्टनरशिल 192 की बांग्लादेश के लिए 2004 चैंपियंस ट्रॉफी में हुई। इस बात में कोई दोराय नहीं है कि उन्होंने क्रिस गेल के लिए सपोर्टिंग रोल निभाया। # आमिर सोहेल (पाकिस्तान) balle 4 ओपनिंग पार्टनर- सईद अनवर बाएं हाथ के आमिर सोहेल ने पाकिस्तान के लिए 47 टेस्ट और 156 वनडे मैच खेले। 1996 वर्ल्ड कप में वेंकटेश प्रसाद के साथ झड़प के अलावा उन्हें सईद अनवर के साथ उनकी ओपनिंग जोड़ी के लिए जाना जाता है। दोनों की ओपनिंग जोड़ी पाकिस्तान की सबसे बेहतरीन ओपनिंग जोडी है। 73 मैचों की ओपनिंग पार्टनरशिप में दोनों ने 40 से ज्यादा की औसत से 3 हजार से ज्यादा रन बनाए। उसके अलावा उन्होंने 3 शतकीय और 20 से ज्यादा अर्धशतकीय साझेदारियां की। सईद अनवर पाकिस्तान के महान बल्लेबाज बने, लेकिन सईद अनवर को ये सफलता नहीं मिल पाई। # रमेश कालुवितर्ना (श्रीलंका) balle 5 ओपनिंग पार्टनर- सनथ जयसूर्या वर्ल्ड कप विजेता खिलाड़ी कालुवितर्ना का करियर श्रीलंका के साथ ज्यादा अच्छा नहीं रहा। उन्होंने 189 वनडे मैचों में 3711 रन बनाए, जिसमे सिर्फ 2 शतक शामिल है। इनको सनथ जयसूर्या के साथ ओपनिंग जोड़ी के लिए हमेशा याद किया जाएगा। इन दोनों ही खिलाडि़यों ने 1996 के वर्ल्ड कप से कुछ महीनों पहले ही श्रीलंका के लिए ओपनिंग शुरु की थी। उनकी कामयाबी के चलते ही अर्जुन रणतुंगा ने वर्ल्ड कप में भी इसी जोड़ी को उतारा। इस जोड़ी ने श्रीलंका को शानदार शुरुआत दिलाई, जिसका उन्होंने भरपूर फायदा उठाया। इन दोनों खिलाड़ियों ने ओपनिंग करते हुए 105 पारियों ने 3230 रन बनाए और 6 शतकीय साझेदारियां की। सनथ आगे चलकर श्रीलंका के सबसे महान बल्लेबाज बने, लेकिन कालुवितर्ना का नाम कहीं गुम सा हो गया।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...