Create
Notifications

5 बल्लेबाज़ जो विराट कोहली के रिकॉर्ड्स के लिए हैं बड़ा ख़तरा

देवांश अवस्थी

टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली का करियर ग्राफ़ पिछले कई सालों से लगातार बढ़ते हुए ही देखा गया है। भारतीय क्रिकेट फ़ैन्स कयास लगाते ही रहते हैं कि ऐसे कौन से रिकॉर्ड्स बचे हैं, जो कोहली को तोड़ने हैं और फिर कितने नए कीर्तिमान उन्हें स्थापित करने हैं। महज़ 208 मैचों के वनडे करियर में कोहली 35 शतकों के साथ 10 हज़ार का जादुई आंकड़ा छूने के बेहद क़रीब हैं। उनकी रफ़्तार को देखते हुए लगता है कि जल्दी ही वह वनडे में सचिन के 49 शतकों और 18426 रनों के रिकॉर्ड को भी तोड़ देंगे। एक वक़्त तक सचिन के रिकॉर्ड्स को तोड़ पाना असंभव सा जान पड़ता था, लेकिन अब विराट कोहली ने संभावनाओं का रुख़ बदलकर दिखा दिया है। ठीक इसी तरह कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हो सकते हैं, जो कोहली से भी आगे निकल जाएं। आइए जानते हैं ऐसे 5 खिलाड़ियों के बारे में, जो कोहली से भी आगे निकलने का माद्दा रखते हैं।

#1 हाशिम अमला

मैदान पर हाशिम अमला की बॉडी लैंग्वेज कोहली से बिल्कुल जुदा है, लेकिन कोहली की तेज़ी की बराबरी करने की सबसे ज़्यादा संभावनाएं भी हाशिम अमला से ही जुड़ी हैं। कोहली जब किसी रिकॉर्ड तक पहुंचते हैं तो उनकी सफलता का शोर पूरे विश्व क्रिकेट को सुनाई देता है। कोहली ने जब वनडे में 5000,6000 और 7000 रन पूरे किए तब वह इन मुकामों तक पहुंचने वाले सबसे तेज़ बल्लेबाज़ साबित हुए, लेकिन हाशिम अमला उनसे पीछे नहीं रहे। हालिया आंकड़ों के मुताबिक, अमला 2000-7000 तक हर बार सबसे तेज़ रहे। शतकों की तेज़ी के मामले में भी वह कई बार कोहली को भी पीछे छोड़ जाते हैं।

#2 शिखर धवन

वनडे के आंकड़ों के मामले में शिखर धवन भी आगे चलकर कोहली के रिकॉर्ड्स को चुनौती दे सकते हैं। 2000 और 3000 रन बनाने में वह कोहली से भी तेज़ थे और 4000 रन पूरे करने में वह कोहली से थोड़ा ही पीछे रह गए। धवन अर्धशतक तक पहुंचने के लिए जिस लय और आक्रामकता का इस्तेमाल करते हैं, अगर वह उसी लहजे को सटीक ढंग से जारी रख सकें तो वह कोहली और अमला के शतकों के रिकॉर्ड्स को पा सकते हैं या उनसे आगे भी निकल सकते हैं। बिल्कुल ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक़, धवन कोहली से भी तेज़ रफ़्तार से अपने शतकों की संख्या बढ़ा रहे हैं।

#3 क्विंटन डी कॉक

क्विंटन डी कॉक कितने घातक बल्लेबाज़ हैं, इस तथ्य का टीम इंडिया से बड़ा दूसरा गवाह कौन हो सकता है। इस दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ी ने सिर्फ़ 12 मैचों में 5 बार भारत के ख़िलाफ़ शतक जड़ा है। डी कॉक भी कोहली के रिकॉर्ड्स के लिए बड़ा ख़तरा साबित हो सकते हैं। लगातार तीन वनडे शतक जड़ने वाले बल्लेबाज़ों में भी क्विंटन का नाम शुमार है। कोहली के मुक़ाबले में धवन और अमला की अपेक्षा डी कॉक के पक्ष में उम्र का फैक्टर अधिक है, वह कोहली से 3 साल छोटे हैं।

#4 बाबर आज़म

मौजूदा वक़्त में क्रिकेट खेलने वाला हर देश अपनी टीम में कोहली जैसा एक खिलाड़ी चाहता है। पाकिस्तान को बाबर आज़म में कोहली की झलक नज़र आती है। 2015 में डेब्यू के बाद से आज़म ने सभी को अपने प्रदर्शन से चौंकाया। 2016 में उन्होंने वेस्टइंडीज के ख़िलाफ़ लगातार तीन शतक जड़े। उन्होंने सिर्फ़ 33 मैचों में ही अपने 7 शतक पूरे कर लिए। हालांकि, उनकी तुलना अभी कोहली से करना थोड़ी जल्दबाज़ी भी कही जा सकती है क्योंकि दोनों के लहजे में अंतर है। आज़म धीरे-धीरे पारी को गढ़ने में माहिर हैं, जबकि कोहली पूरी आक्रामकता के साथ रन बटोरते हैं। लेकिन आज़म में कुछ सालों में बदलाव देखने को मिल सकता है। हाल ही में 10-10 ओवरों के एक चैरिटी मैच में उन्होंने 26 गेंदों में शतक जमाया, जिससे साबित होता है कि वह तेज़ पारी खेलने में भी सक्षम हैं।

#5 जो रूट

जो रूट की तुलना कोहली से सिर्फ़ इसलिए नहीं होती कि उन्होंने 3000 और 4000 वनडे रनों का आंकड़ा कोहली से भी तेज़ छुआ।दरअसल, रूट ने बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में यह स्वीकार किया कि वह कोहली के वनडे रिकॉर्ड्स की बराबरी की चाह रखते हैं। दो बातें हैं, जो रूट के पक्ष में जाती हैं। एक तो यह कि उनकी उम्र कोहली से कम है और वह कोहली से ज़्यादा वक़्त तक क्रिकेट खेल सकते हैं। दूसरा, जब उन्होंने करियर की शुरूआत की है, तब से आज तक वह कभी भी पूरी तरह फ़ॉर्म से बाहर नहीं हुए हैं। लेखकः अक्षय शर्मा अनुवादकः देवान्श अवस्थी

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...