Create
Notifications

5 बल्लेबाज़ जिन्होंने पृथ्वी शॉ की तरह डेब्यू टेस्ट में सेंचुरी लगाई लेकिन वे लंबे वक़्त तक टिक नहीं पाए

Enter caption
Modified 19 Oct 2018
टॉप 5 / टॉप 10

जो कामयाबी पृथ्वी शॉ ने अपने पहले टेस्ट मैच में हासिल की है वो हर युवा क्रिकेटर का ख़्वाब होता है। शॉ ने अपने डेब्यू टेस्ट में शानदार शतक लगाया था। जब वो वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ भारतीय पारी की शुरुआत कर रहे थे तो हर भारतीय क्रिकेट फ़ैंस की नज़र उन पर थी। उन्होंने मुंबई की घरेलू सर्किट में शानदार प्रदर्शन किया था। इसी की बदौलत उन्हें इतनी कम उम्र में टेस्ट खेलने का मौका मिला।राजकोट में हुए टेस्ट मैच में वैसा ही हुआ जैसा कि पृथ्वी शॉ चाहते थे। उम्मीद है कि वो अपना बेहतरीन खेल ऐसे ही जारी रखेंगे।

जिस तरह से पृथ्वी ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की है, उस से कई ऐसे बल्लेबाज़ों की यादें ताज़ा हो जाती हैं जिन्होंने इसी तरह अपने करियर का आग़ाज़ किया था, लेकिन वक़्त के साथ उनकी चमक फ़ीकी हो गई। हर क्रिकेटर अपनी शुरुआती कामयाबी को लंबे वक़्त जारी नहीं रख पाता, हर कोई लंबी रेस का घोड़ा बने ये ज़रूरी नहीं है। यहां उन 5 बल्लेबाज़ों को लेकर चर्चा कर रहे हैं जिन्होंने शॉ की तरह अपने पहले टेस्ट मैच में शतक लगाया था, लेकिन जल्द ही वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लापता हो गए।

#5 हामिश रदरफ़ोर्ड

Enter caption

स्टीफ़न फ़्लेमिंग के संन्यास लेने के बाद न्यूज़ीलैंड टीम को मज़बूत टॉप ऑर्डर बल्लेबाज़ों की तलाश थी। ब्रैंडन मैक्कुल की विदाई और मार्टिन गुप्टिल के अस्थाई फ़ॉम की का ख़ामियाज़ा कीवी टीम आज भी भुगत रही थी। ऐसे में हामिश रदरफ़ोर्ड से उम्मीद की जा रही थी कि वो न्यूज़ीलैंड टीम में नई जान फूंक देंगे। साल 2013 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अपने पहले टेस्ट में रदरफ़ोर्ड ने 171 रन की पारी खेली थी। कीवी टीम मैनेजमेंट को लगा कि उन्हें भविष्य का सितारा मिल गया है, लेकिन ख़राब प्रदर्शऩ की वजह से वो अगले 15 टेस्ट के बाद टीम से बाहर हो गए। 

1 / 5 NEXT
Published 19 Oct 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now