Create
Notifications

IPL: इंडियन प्रीमियर लीग के अबतक के सफ़र में इन 5 वेस्टइंडीज़ के बल्लेबाज़ों ने मचाई है धूम

Himanshu Kothari
visit

क्रिकेट के एकदिवसीय प्रारूप और टेस्ट प्रारूप की तरफ गौर किया जाए तो वेस्टइंडीज कम प्रभावशाली टीमों के तौर पर देखी जाती है लेकिन जब क्रिकेट के फटाफट फॉर्मेट यानी टी20 की बात आती है तो वेस्टइंडीज की टीम निश्चित रूप से सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक है। इंडियन प्रीमियर लीग में भी वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने अपने खेल से काफी प्रभावित किया है। अपनी ऑलराउंड प्रतिभा के चलते वेस्टइंडीज के खिलाड़ी आईपीएल नीलामी में भी फ़्रैंचाइज़ियों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करते हैं। भारत की प्रमुख टी20 लीग के 10 सालों में वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने काफी बेहतरीन खेल दिखाया है। आइए यहां एक नजर डालते हैं इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने वाले पांच बेहतरीन वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों पर।

#5 ड्वेन ब्रावो (चेन्नई सुपर किंग्स, गुजरात लायंस, मुंबई इंडियंस)

आईपीएल में सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले खिलाड़ियों में से ड्वेन ब्रावो भी एक हैं। ड्वेन ब्रावो ने मुंबई इंडियंस के साथ आईपीएल की शुरुआत की था और शरुआती तीन सीजन तक मुंबई की टीम का हिस्सा रहे थे। उन्होंने आईपीएल के पहले सीजन में 154 रन बनाए और 2009 में 218 रन बनाए। हालांकि, 2010 में वो विफल रहे और सीजन में 10 मैचों में सिर्फ 61 रन बनाये और 4 विकेट लिए। वहीं चेन्नई सुपर किंग्स ने 2011 आईपीएल नीलामी में ड्वेन ब्रावो को अपने साथ जोड़ लिया। 2011 में उन्होंने 46.37 की औसत और 140.53 की स्ट्राइक रेट से 371 रन बनाए। हालांकि पिछले कुछ सीजन से ब्रावो ने गेंद से काफी कमाल दिखाया है। विशेषकर 2013 और 2015 के सीजन के दौरान उन्होंने क्रमश: 32 और 26 विकेट लिए थे। इसके बाद चैन्नई पर 2 साल के बैन के चलते ब्रावो 2016 में गुजरात लायंस में शामिल हो गए। साल 2017 में बिग बैश लीग में लगी चोट के कारण ड्वेन ब्रावो पूरी तरह से आईपीएल 2017 में खेलने से चूक गए। अब साल 2018 के सीजन में चैन्नई ने ड्वेन ब्रावो को आरटीएम कार्ड का इस्तेमाल कर वापस रिटेन कर लिया है।

#4 ड्वेन स्मिथ (मुंबई इंडियंस, डेक्कन चार्जर्स, चेन्नई सुपर किंग्स, गुजरात लायंस)

आईपीएल में ड्वेन स्मिथ भी काफी प्रभावशाली खिलाड़ी रहे। 2008 में मुंबई इंडियंस से आईपीएल की शुरुआत की और अगले सीजन में डेक्कन चार्जर्स में ड्वेन स्मिथ शामिल हो गए और साल 2010 में फिर से वो मुंबई में शामिल हो गए। हालांकि, ड्वेन स्मिथ का शानदार आईपीएल करियर चैन्नई से जुड़ने के बाद साल 2013 से 2015 तक आया। साल 2013 में ड्वेन स्मिथ ने आईपीएल में 13 मैचों में 418 रन बनाए थे तो वहीं साल 2014 में उन्होंने और बेहतर प्रदर्शन किया और 16 मैचों में 566 रन बनाए, जिसमें पांच अर्धशतक भी शामिल हैं। स्मिथ ने आईपीएल के पिछले तीन सीजन में 399, 324 और 239 रन बनाए हैं। जिनमें से पिछले दो साल उन्होंने गुजरात लायंस के लिए खेले हैं। हालांकि 2018 आईपीएल नीलामी में उन्हें कोई खरीदार नहीं मिला। स्मिथ फिलहाल आईपीएल में दूसरे सबसे ज्यादा रन स्कोर करने वाले वेस्टइंडीज के खिलाड़ी हैं। उन्होंने 28.39 की औसत और 135.20 की स्ट्राइक रेट के साथ 91 मैचों में 2385 रन बनाए हैं।

#3 काइरोन पोलार्ड (मुंबई इंडियंस)

बहुत कम खिलाड़ी विश्व क्रिकेट में काइरोन पोलार्ड की तरह प्रदर्शन कर सकते हैं। अपने ऑलराउंड प्रदर्शन के चलते पोलार्ड मैच का रुख पलटने में माहिर हैं। साल 2009 के चैंपियंस लीग टी20 और बिग बैश लीग में पोलार्ड के प्रदर्शन ने उन्हें साल 2010 में आईपीएल नीलामी में सबसे अधिक मांग वाले खिलाड़ियों में से एक बना दिया था। जिसके बाद नीलामी प्रक्रिया में मुंबई इंडियंस ने कीरोन पोलार्ड को लेकर एक मुश्किल बोली में बाजी मारी। पोलार्ड ने हर सीजन में मुंबई इंडियंस के लिए शानदार प्रदर्शन किया है और हर सीजन में 200 से ज्यादा रन स्कोर करते आए हैं। इसके साथ ही साल 2013 में आईपीएल के फाइनल मुकाबले में चैन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ खेली गई उनकी दमदार पारी आज भी याद की जाती है। फाइनल मुकाबले में मैच जिताऊ पारी खेलते हुए काइरोन पोलार्ड ने 32 गेंदों में नाबाद 60 रन बनाए और अपनी टीम को 20 ओवर में 148 रन बनाने में मदद की। इसके बाद उन्होंने गेंदबाजी में एक विकेट भी लिया और आखिर में मुंबई ने फाइनल मुकाबला 23 रनों से जीत लिया। इस मुकाबले में पोलार्ड को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। कुल मिलाकर पोलार्ड ने 123 आईपीएल मैचों में 2343 रन बनाए हैं और निसंदेह आईपीएल के इतिहास में सबसे बड़े मैच विजेता हैं।

#2 लेंडल सिमंस (मुंबई इंडियंस)

2014 के सीजन में लेंडल सिमन्स ने आईपीएल में अपनी दस्तक दी। लेंडल सिमन्स ने आईपीएल 2014 के पहले शतक लगाने वाले खिलाड़ी भी रहे। उन्होंने इस शतक के दौरान 61 गेंदों में नाबाद 100 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 14 चौके और 2 छक्के भी लगाए। सीमन्स ने पूरे सीजन में अपनी शानदार फॉर्म जारी रखी और मुंबई इंडियंस के सलामी बल्लेबाज के तौर पर 8 मैचों में 56.28 की औसत और 135.39 की स्ट्राइक रेट से 394 रन बनाए। इसके अगले 2015 के सीजन में भी लेंडल सिमन्स की फॉर्म जारी रही और 13 मैचों में खेलते हुए 540 रन बनाए। इसके साथ ही उन्होंने मुंबई इंडियंस को दूसरी बार आईपीएल का खिताब जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके बाद उनका प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा और उन्होंने 8 मैचों में सिर्फ 74 रन बनाए। जिसके चलते वो 2018 में आईपीएल नीलामी के दौरान बिना बिके ही रह गए। आईपीएल में लेंडल सिमन्स ने 29 मैच खेलते हुए 1079 रन बनाए हैं। इस दौरान उनकी औसत 40 के करीब रही।

#1 क्रिस गेल (कोलकाता नाइट राइडर्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर)

आईपीएल मैचों में क्रिस गेल ने जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए अपनी धाक कायम की है और 101 मैचों में 3626 रनों के साथ पांच शतक लगाने में भी कामयाबी हासिल की है। इस दौरान उनकी औसत 41.20 और स्ट्राइक रेट 150 की रही। क्रिस गेल आईपीएल लीजेंड हैं और आईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों के मामले में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। गेल ने 2008 में केकेआर के साथ अपनी आईपीएल की शुरूआत की थी लेकिन आरसीबी के लिए खेलते हुए उनके आईपीएल करियर में इजाफा दर्ज किया गया। केकेआर के लिए खेलते हुए क्रिस गेल कुछ खास कमाल नहीं दिया पाए लेकिन आरसीबी के लिए खेलते हुए क्रिस गेल ने झंड़े ही गाड़ दिए। गेल ने आईपीएल के 2011, 2012 और 2013 के सीजन में धूम मचाकर रखी और क्रमशः 608, 733 और 708 रन बनाए थे। इसके साथ ही आईपीएल में क्रिस गेल गेंदबाजों के लिए किसी खौफ से कमतर नहीं देखे जाते हैं। आईपीएल के 2011 और 2012 के सीजन में गेल ने ऑरेंज कैप भी जीती। हालांकि पिछले दो सीजन से गेल अपने नाम के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम साबित हुए हैं। वहीं इस सीजन के लिए आईपीएल में बिना बिके रह जाने से बचते हुए किंग्स इलेवन पंजाब ने नीलामी के अंतिम दौर में उन्हें अपने साथ शामिल किया है। लेखक:प्रांजल मेछ अनुवादक: हिमांशु कोठारी

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now