Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वेस्टइंडीज़ क्रिकेट इतिहास से जुड़े 5 सबसे बड़े विवादों पर एक नज़र

Modified 20 Dec 2019, 18:42 IST
अगर क्रिकेट की दुनिया में कामयाबी की बात करें तो कुछ ही टीम ऐसी हैं जो वेस्टइंडीज़ की बराबरी कर पाएगी। हांलाकि वेस्टइंडीज़ अपने आप में कोई देश नहीं है, बल्कि ये कई कैरिबियाई द्वीपों और देशों को मिलाकर एक क्रिकेट टीम तैयार की गई है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलती है। जिस तरह से इस टीम ने 1970 के दशक से लेकर 1990 के दशक तक अपनी कामयाबी का परचम लहराया है, वो क़ाबिल-ए-तारीफ़ है। इस टीम और इसके खिलाड़ियों ने कई विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं जो आज भी नहीं टूट पाए हैं।

इन सब के अलावा इस टीम के साथ कई विवाद भी जुड़े हैं, हम यहां उन 5 बड़े विवादों के बारे में चर्चा कर रहे हैं जो वेस्टइंडीज़ टीम से जुड़े हैं।

#5 लंदन में ही रुक जाने की घटना




 

वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड और वहां के खिलाड़ियों के बीच पेमेंट का विवाद आजकल आम बात है, लेकिन ये हालात हमेशा से नहीं रहे हैं। यही वजह है कि नवंबर 1998 की घटना को हमेशा याद किया जाता है, क्योंकि ये ऐसे विवाद की शुरुआत थी। वेस्टइंडीज़ को उस वक़्त दक्षिण अफ़्रीकी दौरे पर जाना था। खिलाड़ियों ने यात्रा भत्ता देने की मांग की थी जो पूरी नहीं हुई। ऐसे में टीम के कप्तान ब्रायन लारा और उप-कप्तान कार्ल हूपर की अगुवाई में सभी खिलाड़ियों ने लंदन में ही ठहरने का फ़ैसला किया, क्योंकि बिना पेमेंट उन्हें टूर पर जाना नामंज़ूर था। जवाबी कार्रवाई करते हुए ब्रायन लारा और कार्ल हूपर को बर्खास्त कर दिया। इस बात को लेकर काफ़ी बहसबाज़ी हुई। कई दिनों तक हुए विवाद के बाद इस मामले को सुलझा लिया गया। खिलाड़ियों को उनका भुगतान किया गया, लारा को फिर से कप्तान बनाया गया और टीम दक्षिण अफ़्रीका के लिए रवाना हो गई। वेस्टइंडीज़ को दक्षिण अफ़्रीका में 5-0 से टेस्ट सीरीज़ में हार का सामना करना पड़ा था।
1 / 5 NEXT
Published 04 Jul 2018, 10:15 IST
Advertisement
Fetching more content...