Create

जसप्रीत बुमराह के साथ खेलने वाले पांच गेंदबाज जो दुर्भाग्यशाली रहे

Enter caption
varsha

जसप्रीत बुमराह को वर्तमान समय में भारतीय टीम का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज माना जा सकता है। जसप्रीत बुमराह एक ऐसे गेंदबाज है जिनकी बाॅलिंग इकॉनोमी, गेंदबाजी की रफ्तार, बाॅल के ऊपर नियंत्रण सभी काफी अच्छा होता है। 2016 जसप्रीत बुमराह के लिए काफी शानदार रहा क्योंकि इसी दौरान उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना वनडे मुकाबलों में डेब्यू किया था। अपने पहले ही मुकाबले में जसप्रीत बुमराह ने 40 रन देकर दो विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने टी-20 मैच में भी अपना डेब्यू किया। यह वह समय था, जब भारतीय टीम अंतिम ओवरों में गेंदबाजी करने के लिए सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज की तलाश में थी, और उनकी तलाश जसप्रीत बुमराह के ऊपर आकर रुकी।

वनडे मुकाबलों के अलावा टेस्ट मैच में भी जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन लाजवाब रहा, जसप्रीत बुमराह ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गई अपनी पहली ही टेस्ट सीरीज में तीन मुकाबलों में 14 विकेट लिए, और टीम में अपनी उपयोगिता साबित की। जसप्रीत बुमराह की जैसी भूमिका भारतीय टीम में देखने को मिलती है, ठीक उसी प्रकार की भूमिका वे आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम की ओर से निभाते हैं। जसप्रीत बुमराह के शानदार प्रदर्शन के कारण कुछ अन्य भारतीय गेंदबाजों को टीम में जगह बनाने में काफी दिक्कतें हुई, तो आइए जान लेते हैं ऐसे ही पांच गेंदबाज के बारे में।

#5 धवल कुलकर्णी

Enter caption

धवल कुलकर्णी के लिए 2016 का आईपीएल सीजन काफी अच्छा रहा था, जहां उन्होंने 14 मुकाबलों में 18 विकेट अपने नाम किए थे। किंतु अगले दो आईपीएल के सीजन में मात्र 7 विकेट लेने में कामयाब हुए। किंतु धवल कुलकर्णी ने अपनी वापसी शानदार तरीके से की, और वे वर्तमान में जारी सैयद मुस्तफा अली ट्रॉफी में 7 मुकाबलों में 11 विकेट ले चुके हैं। भारतीय टीम की ओर से वे 14 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेल चुके हैं, जहां उन्हें 21 विकेट लेने में सफलता मिली। भारतीय टीम में अच्छा प्रदर्शन ना करने के कारण उन्हें टीम से बाहर निकाल दिया गया और वह जसप्रीत बुमराह के निरंतर अच्छे प्रदर्शन के कारण टीम में अभी तक अपनी जगह बनाने में सफल नहीं हुए हैं। 2019 के आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा होंगे, और अपने प्रदर्शन से भारतीय चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश करेंगे।

Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 हर्षल पटेल

Enter caption

हर्षल पटेल ने घरेलू क्रिकेट में हरियाणा की ओर से लगातार अच्छा प्रदर्शन दिया है। अपने फर्स्ट क्लास मुकाबलों में वे अभी तक 96 पारियों में 174 विकेट ले चुके हैं। 2015 के आईपीएल सीजन में हर्षल पटेल ने 17 विकेट अपने नाम किए थे, और सभी दर्शकों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया था। हाल ही में हुई रणजी ट्रॉफी में हर्षल पटेल ने 9 मुकाबलों में 22 विकेट लिए, जो उनके शानदार प्रदर्शन को दर्शाता है। किंतु उन्हें भारतीय टीम का हिस्सा बनने का मौका नहीं मिल सका। आईपीएल के इस सीजन में हर्षल पटेल दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा होने वाले हैं, जहां वे अपने प्रदर्शन में और भी सुधार कर भारतीय टीम में शामिल होने का प्रयत्न करेंगे।

#3 बेसिल थंपी

Enter caption

2017 के आईपीएल में बेसिल थंपी को गुजरात लॉयन टीम की ओर से 85 लाख रुपए में खरीदा गया और बेसिल थंपी ने अपनी कीमत को सही साबित करते हुए उस सीजन 11 विकेट लिए। अपने इस प्रदर्शन के कारण उन्हें 2017 का इमर्जिंग प्लेयर अवार्ड दिया गया। 2018 के आईपीएल सीजन में उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद टीम की ओर से खरीदा गया, किंतु मौके कम मिलने की वजह से वे इस सीजन मात्र 5 विकेट ही ले सके।

आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद उन्हें भारतीय टीम में शामिल होने का कोई भी मौका नहीं दिया गया, जो बासिल थंपी के लिए निराशाजनक बात है।

#2 संदीप शर्मा

Enter caption

आईपीएल के अंतिम 5 सीजन इस 25 वर्षीय गेंदबाज के लिए काफी शानदार रहे। संदीप शर्मा ने 2014 में किंग्स इलेवन पंजाब टीम की ओर से खेलते हुए 11 मुकाबलों में 18 विकेट लिए। जिसके बाद 2017 तक किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए उन्होंने 71 विकेट लिए। 2018 में उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद टीम के लिए चुना गया, जहां उन्होंने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए 12 मुकाबलों में 12 विकेट लिए।

संदीप शर्मा के आईपीएल में अच्छे प्रदर्शन के बावजूद उन्हें भारतीय टीम की ओर से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलने का कोई मौका नहीं दिया गया। अपने प्रदर्शन के कारण संदीप शर्मा भारतीय खिलाड़ियों में अपना विशिष्ट स्थान बना चुके हैं। किंतु इसके बावजूद चयनकर्ताओं की नजर उन के ऊपर अभी तक नहीं गई, जिसका मुख्य कारण जसप्रीत बुमराह का भारतीय टीम में लगातार अच्छा प्रदर्शन देना है।

#1 शार्दुल ठाकुर

Enter caption

जसप्रीत बुमराह के बाद शार्दुल ठाकुर ने वनडे मुकाबलों में अपना डेब्यूू 2018 में किया था। किंतु उन्हें टीम में जसप्रीत बुमराह के सब्स्टीट्यूट खिलाड़ी के रूप में खिलाया गया और उन्हें टीम में खेलने के ज्यादा मौके नहीं दिए गए। शार्दुल ठाकुर ने अंतिम दो आईपीएल सीजन में अपना शानदार प्रदर्शन दिया, पिछले सीजन चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल खिताब जिताने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। शार्दुल ठाकुर ने इस दौरान 13 मुकाबलों में 16 विकेट लिए थे। यही कारण है कि वह एक बार फिर 2019 में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा होने वाले हैं। शार्दुल ठाकुर ने अपना अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला अक्टूबर 2018 में खेला था, किंतु उस मुकाबले में चोट के कारण उन्हें बीच में ही बाहर होना पड़ा। अब वे पूरी तरीके से ठीक हो चुके हैं और टीम में वापसी का कोई अन्य मौका चाहते हैं।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...