5 गेंदबाज़ जिन्होंने वनडे में बिना विकेट लिए ख़ूब रन लुटाए

102489-1469593799-800

क्रिकेट को बल्लेबाज़ों का खेल माना जाता है, और ख़ास तौर से जब बात सीमित ओवर क्रिकेट की हो तो फिर गेंदबाज़ों के लिए मुश्किलें बढ़ जाया करती हैं। हर टीम सीमित ओवर के क्रिकेट में बड़े स्कोर की फ़िराक में रहती है। इसमें कोई शक नहीं है कि कई मैच में गेंदबाज़ो ने अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीत लिया हो, लेकिन ज़्यादातर माहौल और हालात बल्लेबाज़ों के ही पक्ष में जाते दिखते हैं। आपके सामने जो आज हम रखने जा रहे हैं उसे जानने के बाद आप भी कहेंगे कि क्रिकेट में बल्लेबाज़ों का ही बोलबाला रहता है। 5 ऐसे गेंदबाज़ों की ये फ़हरिस्त देखिए जिसमें बिना विकेट लिए हुए सीमित ओवर में इन्होंने लुटाए हैं जमकर रन #5 पीटर कॉनेल 9-0-95-0, आयरलैंड vs न्यूज़ीलैंड, 2008 आयरलैंड का ये वनडे में पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच था, और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ इस मैच में इस आयरिश टीम की शुरुआत ऐसी रही जिसे शायद ही वह कभी भूला पाएं। न्यूज़ीलैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 402 रन बनाए और फिर आयरिश टीम को 112 रनों पर सिमेटते हुए 290 रनों से जीत दर्ज की। पीटर कॉनेल इस मैच में आयरलैंड के प्रमुख गेंदबाज़ थे और नई गेंद से शुरुआत कर रहे थे। लेकिन न्यूज़ीलैंड के सलामी बल्लेबाज़ जेम्स मार्शल (161) और ब्रेंडन मैकुलम (166) ने मिलकर इस गेंदबाज़ की ख़ूब धुनाई की। कॉनेल ने 9 ओवर में 10.55 की इकॉनमी रेट से 95 रन लुटा दिए और एक विकेट भी नहीं ले पाए, हालांकि बल्ले से उन्होंने 22 नाबाद रन बनाए, जो आयरिश टीम की ओर से उच्चतम स्कोर भी था। #4 स्टीव हारमिसन 10-0-97-0, इंग्लैंड vs श्रीलंका, 2006 steve-harmison-england-world-cup_3250919-1469526646-800 इस मैच में श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों ने इस लंबे क़द के इंग्लिश तेज़ गेंदबाज़ की बखिया उधेड़ डाली थी। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 324 रन बनाए थे, और ऐसा लगा था कि ये स्कोर श्रीलंका के लिए काफ़ी होगा। श्रीलंकाई दिग्गज सलामी बल्लेबाज़ सनथ जयसूर्या और उपल थरंगा ने शानदार आग़ाज़ किया और रिकॉर्ड 286 रनों की साझेदारी कर डाली थी। इस दौरान इन दोनों बल्लेबाज़ों ने स्टीव हारमिसन के ख़िलाफ़ ख़ूब रन बटोरे। हारमिसन ने अपने 10 ओवर के कोटे में 97 रन लुटाए और कोई विकेट भी हासिल नहीं कर पाए। श्रीलंका 37.3 ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर लिया था, जयसूर्या ने 152 रन बनाए और थरंगा के बल्ले से आए 109 रन। #3 मुथैया मुरलीधरण, 10-0-99-0, ऑस्ट्रेलिया vs श्रीलंका, 2006 muttiah-muralitharan1-1469526623-800 इस फ़हरिस्त में अगला नाम जानकर आप ज़रूर हैरान रह गए होंगे, लकिन क्रिकेट का खेल यही है जहां कब क्या हो जाए कहा नहीं जा सकता है। वीबी सीरीज़ के दूसरे सेमीफ़ाइनल में ऑस्ट्रेलियाई टीम का एक वक़्त 3 विकेट सिर्फ़ 10 रन पर गिर गया था। इसके बाद रिकी पॉन्टिंग और एंड्रयू साइमंड्स ने 200 से ज़्यादा रनों की साझेदारी निभाई और इस दौरान इस दिग्गज स्पिनर के ख़िलाफ़ विकेट के चारों ओर रन बनाए। मुरलीधरण ने अपने 10 ओवर में 99 रन ख़र्च कर दिए और कोई शिकार भी नहीं कर पाए। #2 टिम साउदी, 10-0-105-0, न्यूज़ीलैंड vs भारत, 2009 tim-southee-of-new-zealand-takes-the-ball-for-his-over-during-the-one-day-international-match-1469526609-800 न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च पर मुक़ाबला खेला गया था, छोटा ग्राउंड था और शानदार विकेट यानी बल्लेबाज़ों के लिए जन्नत। टॉस जीतने के बाद न्यूज़ीलैंड ने भारत को बल्लेबाज़ी का न्योता दिया था और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने इस मौक़े का ख़ूब फ़ायदा उठाया। तेंदुलकर ने ताबड़तोड़ 163 रनों की पारी खेली और भारत को 392 रनों के पहाड़ जैसे स्कोर तक पहुंचा दिया था। तेंदुलकर ने इस पारी के दौरान साउदी पर ख़ूब प्रहार किया, साउदी ने अपने 10 ओवर में शतक लगा दिया था, उन्होंने बिना कोई विकेट हासिल किए 105 रन लुटाए। #1 मिक लुईस, 10-0-113-0, ऑस्ट्रेलिया vs दक्षिण अफ़्रीका, 2006 60124.4-1469526584-800 दक्षिण अफ़्रीका के वांडेरर्स पर खेला गया ये मुक़ाबला इतिहास के पन्नों में दर्ज हो चुका है, जहां ऑस्ट्रेलिया ने 434 रन बनाए थे, अंतर्राष्ट्रीय सीमित ओवर क्रिकेट में पहली किसी टीम ने 400 के आंकड़े को पार किया था। ऑस्ट्रेलिया का ये रिकॉर्ड कुछ ही घंटो बाद, अगले 50 ओवर में ही टूट गया जब 434 के जवाब में प्रोटियाज़ ने 438 रन बना दिए और वर्ल्ड रिकॉर्ड चेज़ अपने नाम किया जो आज तक क़ायम है। ज़ाहिर है 100 ओवर में 872 रन वाले इस मैच में कई गेंदबाज़ों के आंकड़े भी ख़राब हुए होंगे और उन्हीं में से एक हैं मिक लुईस, जिन्होंने अपने 10 ओवर में 113 रन लुटाए और क्रिकेट इतिहास में सबसे ज़्यादा रन खर्च करने वाले गेंदबाज़ बन गए।

App download animated image Get the free App now