Create
Notifications

5 क्रिकेटर जिनका करियर एमएस धोनी ने संवारा

Modified 06 Jan 2017

मैदान में हो या मैदान से बाहर एमएस धोनी के फैसले हमेशा चौंकाने वाले रहे। टेस्ट से संन्यास लिए धोनी को 25 महीने हुए ही थे कि उन्होंने वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी छोड़कर सबको हैरत में डाल दिया। विश्लेषक पूर्व कप्तान धोनी की सफलता और सफलता आंकने में लगे हैं। लेकिन इन सब बातों की एक बात यही उभरकर सामने आती है कि धोनी ने भारतीय टीम को नई ऊंचाई दी। ट्राफी जीतने के बाद धोनी पर्दे के पीछे होते थे। धोनी कोई भी दांव खेल बैठते थे, जिससे लोग हैरत में होते थे, लेकिन आखिरी परिणाम टीम के हित में ही आता था। उदाहरण के तौर पर आईसीसी की तीनों ट्राफी उनकी कप्तानी में भारत को मिली। धोनी एक अद्भुत कप्तान थे, जिनकी पहचान भी अद्भुत थी। धोनी ने इसी के साथ युवा प्रतिभाओं को खूब मौका दिया। जिनमें से कई ने खुद को टीम में स्थापित भी किया। आज हम आपको इस लेख के जरिये आपको यही बता रहे हैं कि भारतीय खिलाड़ियों के करियर में धोनी का सबसे ज्यादा हाथ रहा है:

रोहित शर्मा

साल 2013 रोहित शर्मा के लिए अहम साल रहा था, जब उन्हें टीम का सलामी बल्लेबाज़ बनाया गया। उस समय तक उनका औसत 30.43 था। साल 2013 के अंत में रोहित ने पूरे कैलेंडर वर्ष में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बने। लगातार खराब फॉर्म के चलते धोनी ने रोहित को बतौर सलामी बल्लेबाज़ के रूप में मौका दिया। जिससे उनका करियर पूरी तरह से बदल गया। हमेशा आलोचकों के निशाने पर रहने वाले रोहित बतौर सलामी बल्लेबाज़ पूरी तरह से बदले नजर आये। रोहित शर्मा को सलामी बल्लेबाज़ बनाने में धोनी का अहम योगदान था। साल 2013 में इंग्लैंड के खिलाफ इस 29 वर्षीय बल्लेबाज़ को मोहाली में इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार पारी की शुरुआत करने के लिए भेजा गया था। जिसमें रोहित ने 93 गेंदों में 83 रन की पारी खेली थी। उसके बाद श्रीलंका दौरे पर रोहित बुरी तरह विफल हुए जहां उन्होंने 5 मैचों में मात्र 13 रन बनाये थे। लेकिन शर्मा पर धोनी का भरोसा कायम रहा और उन्होंने चैंपियंस ट्राफी में शानदार खेल दिखाया। उसके बाद रोहित ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।
1 / 5 NEXT
Published 06 Jan 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now