Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IPL 2018: 5 खिलाड़ी जो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को प्ले-ऑफ़ में पहुंचा सकते हैं

  • रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को अब बचे हुए सभी 6 मैचों में जीत है ज़रूरी
Modified 20 Dec 2019, 18:39 IST
अगर आप रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के प्रशंसक हैं, तो निश्चित रूप से आप इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सत्र में अपनी पसंदीदा टीम के प्रदर्शन से निराश होंगे। बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली को पूरी उम्मीद थी कि उनकी टीम इस बार अंततः ट्रॉफी जीतने में क़ामयाब होगी, लेकिन मौजूदा स्थिति को देखते हुए ऐसा नहीं लगता। इस सीज़न में टीम में काफ़ी बदलाव देखने को मिले। सबसे उल्लेखनीय है क्रिस गेल का टीम से बाहर होना, जो अब तक आरसीबी टीम का नियमित हिस्सा रहे हैं। हालांकि इस सीज़न की चयनित टीम भी बहुत प्रतिभाशाली है। अब तक के निराशाजनक प्रदर्शन के बावजूद ऐसे बहुत सारे स्टार क्रिकेटर आरसीबी के पास हैं जो अपनी टीम को फिर से टूर्नमेंट में वापस ला सकते हैं। आइये जानते हैं ऐसे पांच क्रिकेट खिलाड़ियों के बारे में जो आरसीबी को प्लेऑफ में जगह बनाने और इस साल का अपना पहला आईपीएल खिताब जीताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

#1 क्विंटन डी कॉक


  दक्षिण अफ़्रीकी बल्लेबाज़ क्विंटन डी कॉक किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। इस प्रतिभाशाली बल्लेबाज ने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी शैली से सबको प्रभावित किया। डी कॉक पहले दिल्ली डेयरडेविल्स के सदस्य थे लेकिन इस सीज़न में वे विराट कोहली के नेतृत्व खेल रहे हैं। टीम में क्रिस गेल की ग़ैरमौजूदगी में आरसीबी को एक उपयुक्त प्रतिस्थापन की आवश्यकता थी, और ऐसा लगता है कि युवा डी कॉक टीम की अपेक्षाओं पर खरा उतरने में सफल रहे हैं।

सहायक आंकड़े


आईपीएल में डी कॉक ने अब तक धुआंधार बल्लेबाज़ी की है। आईपीएल 2016 में दिल्ली की और से खेलते हुए उन्होंने बैंगलोर के ख़िलाफ महज 51 गेंदों पर 108 रनों की विस्फोटक पारी खेली थी। बाद में डी कॉक अपने पूर्व फ्रैंचाइजी (दिल्ली डेयरडेविल्स) से आरसीबी में चले गए। आईपीएल के मौजूदा सीज़न में भी उन्होंने अपनी आक्रामक शैली बरकरार रखी है। आरसीबी के लिए एक अर्धशतक लगा चुके इस बल्लेबाज़ से टीम को निश्चित रूप से आगे भी ऐसा शानदार प्रदर्शन जारी रखने की अपेक्षाएं होंगी।

उन्हें क्या करने की ज़रूरत है?


आरसीबी ने डी कॉक को सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर इस्तेमाल किया है, जो कि एक अच्छा फ़ैसला है। उन्होंने अब तक काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और इस साल के टूर्नामेंट में अब तक एक अर्धशतक भी लगाया है। हालांकि, वे अपनी अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलने में असफल रहे हैं। डी कॉक टीम को अच्छी शुरुआत देते हैं लेकिन उन्हें डेविड वॉर्नर की तरह ज़्यादा समय क्रीज़ पर बिताने की ज़रूरत है जिस से विरोधी टीम के गेंदबाज़ों पर दबाव बढ़ेगा और बाकी बल्लेबाज़ों के लिए ठोस शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलना आसान हो जाएगा। वे किसी भी मैच के परिणाम को पलटने का माद्दा रखते हैं लेकिन उन्हें आक्रमक शैली के साथ ही क्रीज पर अधिक समय बिताने की जरूरत है।
1 / 5 NEXT
Published 04 May 2018, 08:55 IST
Advertisement
Fetching more content...