Create

बीसीसीआई एजीएम में महिला टेस्ट मैचों को 5 दिन करने की मंजूरी

बीसीसीआई ने कुछ अहम निर्णय लिए हैं
बीसीसीआई ने कुछ अहम निर्णय लिए हैं

बीसीसीआई ने 4 दिसम्बर को कोलाकाता में अपनी 90वीं वार्षिक आम बैठक आयोजित की और कई मामलों पर बात की इसमें दक्षिण अफ्रीका दौरे को भी एक सप्ताह के लिए स्थगित करने की पुष्टि हुई। इसके अलावा महिला क्रिकेट के टेस्ट मैचों को पांच दिन का करने की मंजूरी दी गई।

एजीएम में महिला टीम के टेस्ट मैचों को लेकर सबसे अहम निर्णय लिया गया। यह एक बड़ा फैसला माना जा सकता है। महिला टीम चार दिवसीय टेस्ट मैच बड़े पैमाने पर खेलती हुई नजर आई है। बीसीसीआई ने अब महिला वर्ग के लिए भी पांच दिन का टेस्ट मैच रखने की मंजूरी दी है।

बीसीसीआई ने टूर्स, फिक्स्चर्स एंड टेक्निकल कमेटी, अंपायर कमेटी और डिफरेंटली एबल्ड क्रिकेट कमेटी के गठन की भी घोषणा की। मैच अधिकारियों और सहयोगी स्टाफ के लिए आयु सीमा 60 वर्ष से बढ़ाकर 65 वर्ष कर दी गई है, जो उनकी फिटनेस के ऊपर निर्भर करेगी। पूर्वोत्तर राज्यों, पांडिचेरी, बिहार और उत्तराखंड में भी बीसीसीआई द्वारा बुनियादी ढांचे के विकास की पहल की जाएगी।

दादा की टीम को मैत्री मैच में हार का सामना करना पड़ा
दादा की टीम को मैत्री मैच में हार का सामना करना पड़ा

इसके अलावा एजीएम की अन्य घोषणाओं में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सामान्य निकाय द्वारा वार्षिक बजट और ऑडिट अकाउन्ट्स को अपनाना शामिल था।

मीटिंग से एक दिन पहले अध्यक्ष एकादश और सचिव एकादश के बीच एक मैत्री मैच खेला गया। इसमें सौरव गांगुली की टीम को जय शाह की टीम ने 1 रन से हरा दिया। जय शाह की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 128 रन बनाए। जवाब में दादा की टीम 127 रन तक ही पहुँच पाई। सौरव गांगुली ने अपनी टीम के लिए 20 गेंदों पर 2 छक्कों से 35 रन बनाए। उन्होंने इस दौरान चार चौके भी लगाए। सचिन जय शाह ने अपनी टीम को गेंदबाजी से जिताया। लेफ्ट आर्म फ़ास्ट बॉलिंग से जय शाह ने तीन विकेट हासिल करते हुए अपनी टीम को मुकाबले में जीत दिलाई।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment