5 घरेलू बल्लेबाज़ जो भारतीय टेस्ट टीम में शामिल होने के प्रबल दावेदार हैं  

Shubman Gill is knocking at the selectors' doors with his impressive knocks

भारतीय टीम वर्तमान में अपने ऑस्ट्रेलियाई दौरे में नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है। विराट कोहली के नेतृत्व में, मेन इन ब्लू पहली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ जीतने के कगार पर हैं।

चार मैचों की टेस्ट सीरीज़ में दो मैच जीतने के बाद, सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेले जा रहे चौथे और अंतिम टेस्ट में ड्रॉ भी इतिहास रचने के लिए पर्याप्त होगा। हालांकि, रवि शास्त्री और टीम प्रबंधन के लिए सब कुछ अच्छा नहीं है और सलामी बल्लेबाज़ केएल राहुल और मुरली विजय का फॉर्म उनके लिए चिंता का विषय बना हुआ है।

ऐसे में टीम प्रबंधन को प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ियों का चुनाव करना होगा जो टीम को संतुलन प्रदान कर सकें। मयंक अग्रवाल और हनुमा विहारी, जिन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपने प्रदर्शन के दम पर राष्ट्रीय टीम में जगह बनाई है, ने वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली जा रही टेस्ट सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन किया है।

उनके अलावा भी घरेलू सर्किट में कई ऐसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो आने वाले समय में भारत की टेस्ट टीम का हिस्सा बनने के मजबूत दावेदार हैं। तो आइये जानते हैं इन पांच खिलाड़ियों के बारे में:

#5. सिद्धेश लाड

The Mumbaikar has already struck two centuries in the current edition of Ranji Trophy

मुंबई के प्रतिभाशाली युवा बल्लेबाज़ रणजी ट्रॉफी के मौजूदा संस्करण में दो शतक लगा चुके हैं।

हालाँकि, बहुत कम लोगों ने उनका नाम सुना होगा लेकिन घरेलू सर्किट में सिद्धेश लाड एक बहुत लोकप्रिय नाम हैं और जो लोग भारतीय घरेलू क्रिकेट सर्किट का अनुसरण करते हैं, वे उनकी प्रतिभा और कौशल से भली-भांति परिचित होंगे।

26 वर्षीय बल्लेबाज़ ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है और वर्तमान में खेली जा रही रणजी ट्रॉफी में, लाड ने सात मैचों में शानदार 652 रन बनाए हैं, जिसमें दो शतक और चार अर्धशतक भी शामिल हैं।

इससे पहले, पिछली बार खेली गई रणजी ट्रॉफी में, उन्होंने लगभग 60 की औसत से रन बनाए थे जबकि उनका करियर औसत 54 है। इन आंकड़ों के साथ वह टेस्ट टीम में शामिल होने के प्रबल दावेदार हैं।

#4 रिकी भुई

Bhui has time on his side

22 साल के युवा और प्रतिभाशाली बल्लेबाज़ रिकी भुई ने पिछले कुछ समय से बल्ले से बेहतरीन प्रदर्शन किया है। अपने प्रदर्शन से उन्होंने निश्चित रूप से राष्ट्रीय चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी और आकर्षित किया होगा। उन्होंने पहले ही भारत 'ए' टीम में अपनी जगह बना ली है।

मध्य प्रदेश में जन्मे भुई घरेलू सर्किट में आंध्रा का प्रतिनिधित्व करते हैं। रणजी ट्रॉफी के चालू संस्करण में उन्होंने सात मैचों में अभी तक कुल 766 रन बनाए हैं। जिसमें एक अर्धशतक और चार शतक शामिल हैं, जो स्पष्ट रूप से उनकी लंबी पारी खेलने की प्रतिभा को दर्शाता है। इससे पहले रणजी ट्रॉफी के पिछले सीज़न में, उन्होंने 61 की औसत से शानदार 553 रन बनाए थे।

इसके अलावा, 33 प्रथम श्रेणी मैचों में, भुई ने लगभग 50 की औसत से 2200 रन बनाए हैं, जिसमें आठ शतक और दस अर्धशतक शामिल हैं और उनका लिस्ट 'ए' मैचों में भी प्रदर्शन प्रभावशाली रहा है। ऐसे में, निश्चित रूप से जल्द ही रिकी भुई को भारतीय टेस्ट टीम में शामिल होने का मौका मिल सकता है।

#3. अभिमन्यु ईश्वरन

Easwaran is currently Bengal's most trusted batsman

बंगाल के प्रतिभाशाली बल्लेबाज़ उस समय सुर्ख़ियों में आये जब उन्होंने हाल ही में दिल्ली के खिलाफ शानदार शतक लगाकर अपनी टीम को जिताया था। लेकिन यह एकमात्र ऐसा प्रदर्शन नहीं था, इससे पहले के मैचों में भी ईश्वरन लगातार लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं और कप्तान मनोज तिवारी के भरोसे पर हमेशा खरे उतरे हैं।

ईश्वरन ने मौजूदा रणजी ट्रॉफी में 80 से भी ज़्यादा की औसत से कुल 653 रन बनाए हैं। दिल्ली के खिलाफ शतक के अलावा, उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में अभी तक एक शतक और तीन अर्धशतक बनाए हैं। भुई की तरह, उन्होंने भी अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खींचा है।

अपने 41 मैचों के लंबे प्रथम श्रेणी करियर में, देहरादून में जन्मे इस खिलाड़ी ने 47 की औसत से 3000 से अधिक रन बनाए हैं। इसके अलावा, उन्होंने नौ शतक और 16 अर्धशतक भी जमाए हैं जबकि नाबाद 183 रन उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा है।

#2. प्रियांक पांचाल

Many fans are asking for Panchal's inclusion in the Indian Test team

प्रियांक पांचाल भारतीय टेस्ट टीम में शामिल होने के प्रबल दावेदार हैं क्योंकि अहमदाबाद के 28 वर्षीय खिलाड़ी ने रणजी ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया है और इस टूर्नामेंट में वह अब तक 887 रन बनाकर तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं, यह रन उन्होंने लगभग 70 की औसत से बनाए हैं। इनमें चार शतक और पांच अर्धशतक भी शामिल हैं।

इससे पहले, पिछले सीजन में, उन्होंने 60 से अधिक की औसत के साथ कुल 542 बनाए थे। लेकिन समय के साथ-साथ पांचाल का प्रदर्शन और बेहतर हुआ है। गुजरात के भरोसेमंद बल्लेबाज ने घरेलू सर्किट में 76 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं और इनमें 5400 से अधिक रन बनाए हैं जिसमें 19 शतक और एक अर्धशतक भी शामिल है। हाल ही में प्रियांक पांचाल ने महाराष्ट्र के खिलाफ शानदार 141 रन बनाए थे। जबकि कुछ हफ़्ते पहले रेलवे और कर्नाटक के खिलाफ उन्होंने लगातार दो अर्धशतक लगाए थे।

#1. शुबमन गिल

Gill is currently leading the race to enter the Indian team

अंत में, एक नाम जो शायद सभी ने सुना होगा। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं पंजाब के ज़बरदस्त बल्लेबाज़ शुबमन गिल की I उन्होंने आईसीसी अंडर-19 विश्व कप 2018 में अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा, जिसके परिणामस्वरूप उन्हें एक आईपीएल में अनुबंध मिला। कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए, उन्होंने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ काफी सराहनीय प्रदर्शन किया।

घरेलू प्रदर्शन की बात करें, तो इसमें भी वह बेमिसाल रहे हैं। सिर्फ चार मैचों में, पंजाब के युवा खिलाड़ी ने 629 रन बनाए, जिसमें दो शतक और एक अर्धशतक शामिल है, सबसे बड़ी बात यह कि इसमें उनका औसत 125 के करीब था।

हालाँकि, इस सूची में शामिल बाकी के खिलाड़ियों की अपेक्षा गिल का प्रथम श्रेणी करियर ज़्यादा लंबा नहीं रहा और उन्होंने केवल आठ प्रथम श्रेणी मैचों में 990 रन बनाकर अपनी बल्लेबाज़ी क्षमता का प्रदर्शन किया, जिसमें तीन शतक भी शामिल हैं।

Get Cricket News In Hindi Here

Quick Links

App download animated image Get the free App now