Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

एबी डीविलियर्स की 5 पारियां जो साबित करती हैं कि वह एक कम आंके जाने वाले टेस्ट बल्लेबाज़ हैं

Rahul Pandey
ANALYST
Modified 22 Jan 2018, 12:45 IST
Advertisement

  वह बहुत ज्यादा सोचते नही हैं, वह सिर्फ सरलता से मैदान पर अपना काम करते है और शांत दिमाग से अपने आप पर काबू रखते हुए एक आक्रामक और बेहद खतरनाक खिलाड़ी बनकर उभरते है। वह दुनिया के सबसे शक्तिशाली गेंदबाजी आक्रमणों तक को अपने बल्लेबाज़ी कौशल से टुकड़े टुकड़े कर देते हैं। एबी डीविलियर्स के हाथ मे जब बल्ला हो तो वह एक योद्धा में बदल जाते हैं। जब दक्षिण अफ्रीका का यह बल्लेबाज पूरे लय में होता है तो किसी भी गेंदबाज के पास कोई मौका नहीं होता है। हालांकि, इसमें कोई संदेह नहीं है कि 33 वर्षीय यह खिलाड़ी सीमित ओवरों के क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं, पर कई लोग मानते हैं कि डीविलियर्स को खेल के सबसे लंबे प्रारूप में अपनी योग्यता साबित करने की आवश्यकता है। टेस्ट क्रिकेट में धैर्य और धीरज का एक खिलाड़ी के पास होना बेहद जरुरी है। डीविलियर्स के धीरज और ताकत की कई बार परीक्षा ली गयी, लेकिन वह कभी भी फेल नहीं हुए, उन्होंने अपने आलोचकों को गलत साबित करते हुए कठिन बल्लेबाजी परिस्थितियों में कुछ महत्वपूर्ण टेस्ट पारी खेली। यहाँ हम उनकी ऐसी ही पांच शानदार परियों पर नजर डाल रहे हैं जो साबित करती हैं कि अब्राहम बेंजामिन डीविलियर्स पांच दिवसीय प्रारूप में एक कम आंके जाने वाले बल्लेबाज है और एक टेस्ट बल्लेबाज के रूप में जितना आदर उन्हें मिलता है उससे अधिक आदर के योग्य हैं।  



# 5 106 * बनाम ऑस्ट्रेलिया, पर्थ (2008)



  दिसंबर 2008 में ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका को वाका में तीन मैचों की श्रृंखला का पहला टेस्ट जीतने के लिए 414 रन का लक्ष्य दिया। कप्तान ग्रीम स्मिथ ने आउट होने से पहले 108 रनों की पारी खेली और लक्ष्य का पीछा करने के लिए एक ठोस नींव रखी। हाशिम अमला (53) के आउट होने के बाद 179 रन पर तीन विकेट के स्कोर पर डीविलियर्स मैदान पर उतरे। डीविलियर्स जो कि वहां लगातार खड़े रहे थे, दो 100 से ज्यादा रन वाली साझेदारी में शामिल थे, पहले जैक्स कैलिस (57) के साथ 124 रनों और फिर जेपी डुमिनी (50 *) के साथ 111 रन की साझेदारी में शामिल रहे और मेजबान टीम के खिलाफ 6  विकेट से जीत हासिल करने में सफल रहे। यह टेस्ट इतिहास में दूसरा सबसे बड़ा लक्ष्य का पीछा करते मिली जीत थी। डीविलियर्स के शानदार नाबाद 106 रनों के बूते दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलियाई सरज़मीं पर सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करने में सफल रहा।
1 / 5 NEXT
Published 22 Jan 2018, 12:45 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit