Create
Notifications

5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने रोहित शर्मा के बाद वनडे डेब्यू किया लेकिन अब संन्यास ले चुके हैं

न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के दौरान रोहित शर्मा और प्रवीण कुमार
न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के दौरान रोहित शर्मा और प्रवीण कुमार
reaction-emoji
Prashant Kumar

भारत के लिए तीनों प्रारूपों में अपनी बल्लेबाजी से बतौर ओपनर सफलता पाने वाले रोहित शर्मा आज दुनिया के दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार किये जाते हैं। इस बल्लेबाज की लोक्रप्रियता के पीछे सबसे ज्यादा वनडे प्रारूप में इनके जबरदस्त रिकॉर्ड हैं, जिन्हें हासिल कर पाना दूसरे बल्लेबाजों के लिए लगभग नामुमकिन सा है। रोहित शर्मा ने भारत के लिए सबसे वनडे प्रारूप में डेब्यू किया था। रोहित ने 23 जून, 2007 को आयरलैंड के खिलाफ अपने वनडे करियर का पहला मैच खेला था। हालांकि इस मैच में रोहित को बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था।

रोहित के नाम वनडे में कई बड़े रिकॉर्ड दर्ज हैं। रोहित वनडे में तीन दोहरे शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं। वहीं वनडे में सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड भी हिटमैन के नाम ही दर्ज है। रोहित ने अब तक अपने करियर में दो सौ से अधिक मुकाबले खेले हैं और वह जल्द ही दस हजार रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में शामिल हो जायेंगे।

रोहित शर्मा के बाद कई भारतीय खिलाड़ियों ने वनडे डेब्यू किया, लेकिन वे रोहित के जितना लंबा करियर बनाने में नाकाम रहे। उनमें से कुछ ने तो संन्यास भी ले लिया है। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही पांच खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्होंने रोहित शर्मा के बाद वनडे डेब्यू किया और अब संन्यास ले चुके हैं।

5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने रोहित शर्मा के बाद वनडे डेब्यू किया लेकिन अब संन्यास ले चुके हैं

#1 प्रवीण कुमार

प्रवीण कुमार
प्रवीण कुमार

प्रवीण कुमार ने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत वनडे प्रारूप से की थी। प्रवीण ने 18 नवंबर, 2007 को पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला मैच खेला था। इस गेंदबाज के पास गेंद को दोनों तरफ स्विंग कराने की काबिलियत थी और कुछ समय तक भारत के लिए अच्छा करते हुए नजर आये लेकिन बाद में लगातार चोट के कारण इनका करियर ज्यादा लम्बा नहीं चला। प्रवीण ने 68 वनडे में 77 विकेट झटके थे। प्रवीण ने अक्टूबर 2018 में अपने करियर पर विराम लगाते हुए संन्यास ले लिया था।

#2 युसूफ पठान

युसूफ पठान
युसूफ पठान

युसूफ पठान ने अपने वनडे करियर की शुरुआत 10 जून, 2008 को मीरपुर में की थी। पठान बड़े हिट लगाने के लिए मशहूर थे और उन्होंने कई मौको पर भारत को मैच भी जिताये लेकिन निरंतर अच्छा ना कर पाने की वजह से इनका करियर ज्यादा सफल नहीं हुआ। हालांकि पठान ने 2011 विश्व कप के दौरान जरूर कुछ मुकाबले खेले थे और भारत की उस टीम का हिस्सा बने, जिसने विश्व कप जीता। पठान ने 57 वनडे में 810 रन और 33 विकेट हासिल किये। पठान ने 2021 में संन्यास ले लिया था।

#3 प्रज्ञान ओझा

प्रज्ञान ओझा
प्रज्ञान ओझा

प्रज्ञान ओझा ने अपना पहला वनडे मैच एशिया कप 2008 में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था। बाएं हाथ के इस गेंदबाज को ज्यादा वनडे मैचों में खेलने का मौका नहीं मिला और इन्होंने मात्र 18 मुकाबले खेले। इस दौरान ओझा ने 21 विकेट हासिल किये। ओझा को 2012 के श्रीलंकाई दौरे के बाद कभी भी भारतीय वनडे टीम में जगह नहीं मिली। उन्होंने फरवरी 2020 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया।

#4 सुब्रमण्यम बद्रीनाथ

सुब्रमण्यम बद्रीनाथ
सुब्रमण्यम बद्रीनाथ

घरेलू क्रिकेट के स्टार बल्लेबाज सुब्रमण्यम बद्रीनाथ भारतीय टीम के लिए अपने वनडे करियर की शुरुआत 20 अगस्त, 2008 को श्रीलंका के खिलाफ दांबुला में की थी। बद्रीनाथ को वनडे प्रारूप में बहुत ज्यादा मौके नहीं मिले और इन्होंने आखिरी वनडे 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। बद्रीनाथ ने अपनी करियर में 7 वनडे मैचों में 79 रन बनाये और अगस्त 2018 में इन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर पर संन्यास लेकर विराम लगा दिया।

#5 विनय कुमार

विनय कुमार
विनय कुमार

विनय कुमार ने अपना वनडे डेब्यू मई 2010 में जिम्बाब्वे के खिलाफ किया था। उन्होंने नवंबर 2013 तक 31 वनडे खेले थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक वनडे मैच में 9-0-102-1 के आंकड़ों के बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया था। इसी मैच में रोहित ने पहला दोहरा शतक लगाया था। विनय इसके बाद दोबारा वापसी नहीं कर सके और फरवरी 2021 में संन्यास ले लिया था।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...