Create
Notifications

5 ऐसे भारतीय क्रिकेटर जिन्हें ज़्यादा मौके मिलने चाहिए थे

Enter caption
Modified 19 Oct 2018
टॉप 5 / टॉप 10

हर युवा क्रिकेटर का ख़्वाब होता है कि वो अपने देश के लिए खेले। अपनी राष्ट्रीय टीम में शामिल होना किसी भी खिलाड़ी लिए बड़ी उपलब्धि होती है। भारत में हुनरमंद क्रिकेटर की कोई कमी नहीं है। इस देश ने विश्व क्रिकेट को सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर और राहुल द्रविड़ जैसे महान बल्लेबाज़ दिए हैं। इसके अलावा अनिल कुंबले, ज़हीर ख़ान और हरभजन सिंह जैसे गेंदबाज़ों ने अपनी ख़ास पहचान बनाई है। अफ़सोस की बात ये है कि मौजूदा दौर में ज़्यादातर युवा क्रिकेट पैसे से भरपूर आईपीएल में जगह बनाने को बेताब रहते हैं। सभी का ध्यान टेस्ट क्रिकेट से दूर होता जा रहा है।

किसी टीम के कप्तान और चयनकर्ताओं की ये बड़ी ज़िम्मेदारी है कि वो सही और क़ाबिल खिलाड़ियों का चयन करें। एक कामयाबी रोहित शर्मा को लेकर देखी गई है, वो अपने करियर के शुरुआती दौर में काफ़ी जद्दोजहद कर रहे थे। लेकिन धोनी ने अपनी कप्तानी के दौरान रोहित को टॉप ऑर्डर में बल्लेबाज़ी करने भेजा। इसके बाद रोहित का करियर पूरी तरह बदल गया। आज वो सीमित ओवर के खेल के बेतरीन बल्लेबाज़ बन चुके हैं। हम यहां 5 ऐसे खिलाड़ियों की चर्चा कर रहे हैं जिन्हें अगर ज़्यादा मौके मिलते तो वो लंबी रेस का घोड़ा बन सकते थे।


#5 अमित मिश्रा

Enter caption

अनिल कुंबले के बाद अगर भारतीय को सबसे बेहतरीन लेग स्पिनर कोई मिला था, वो थे अमित मिश्रा। इनके बारे में कहा जाता है कि वो ग़लत युग में पैदा लिए हैं क्योंकि जब वो घेरेलू सर्किट में शानदार प्रदर्शन कर रहे तो तब टीम इंडिया में आने के लिए कुंबले और भज्जी से प्रतिद्वंदिता करनी पड़ी थी। कुंबले और हरभजन ने करीब एक दशक तक टीम इंडिया के लिए अपना योगदान दिया है, ऐसे में तीसरे स्पिनर की जगह नहीं बन पा रही थी। अमित ने प्रथम श्रेणी में 535 विकेट लिए हैं। उन्होंने 22 टेस्ट मैच में 76 विकेट और 36 वनडे में 64 विकेट हासिल किए हैं। 

1 / 3 NEXT
Published 19 Oct 2018
1 comment
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now