COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

भारतीय मूल के 5 खिलाड़ी जिन्होंने भारत के खिलाफ की अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत

6   //    03 Jul 2018, 08:05 IST

भारत क्रिकेट की दुनिया में एक वैश्विक शक्ति है। निःसंदेह, भारतीय टीम इस समय सबसे मजबूत क्रिकेट टीमों में से एक है। क्रिकेट खेलने वाले सबसे ज़्यादा जनसंख्या वाले देश होने के नाते भारत दुनिया में क्रिकेट का प्रतिनिधित्व करता है।

पिछले कुछ वर्षों में, हमने भारतीय मूल के कई क्रिकेटरों को अपनी टीम के लिए खेलते देखा है। उन्होंने दूसरे देशों की तरफ से खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया है और टीम का बेहद अहम हिस्सा रहे हैं। इन खिलाडियों में नासिर हुसैन, शिवनारायण चंद्रपॉल, मोंटी पनेसर, हाशिम अमला प्रमुख हैं।

इस लेख में हम भारतीय मूल के पांच खिलाड़ियों पर एक नज़र डालेंगे जिन्होंने टेस्ट, वनडे या टी 20 में भारत के खिलाफ अपनी अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की।

शिवनारायण चंद्रपॉल




 

वेस्टइंडीज़ के बाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज़ शिवनारायण चंद्रपॉल अपनी अपरंपरागत और प्रभावी बल्लेबाजी शैली के लिए जाने जाते थे। वह वेस्टइंडीज के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज़ों में से एक रहे हैं। महान बल्लेबाज़ ब्रायन लारा के क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद चंद्रपॉल को उनके उत्तराधिकारी के तौर पर विंडीज़ टीम में शामिल किया गया था।

हालांकि उन्हें धीमी गति से बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है, लेकिन फिर भी चंद्रपॉल ने क्रिकेट इतिहास में कुछ अनोखे रिकॉर्ड बनाए हैं। उनके पास सबसे तेज टेस्ट शतक का रिकॉर्ड है, जो उन्होंने 2002 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया था।

टेस्ट मैच से अपने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत करने वाले चंद्रपॉल ने 17 अक्टूबर 1994 को भारत के खिलाफ अपना वनडे करियर का आगाज़ किया था। उन्हें वनडे में अपना पहला शतक बनाने के लिए लगभग तीन साल इंतजार करना पड़ा। दिलचस्प बात यह है कि उन्होंने अपना पहला वनडे शतक भी 3 मई 1997 को भारत के खिलाफ बनाया था।

सभी वेस्ट इंडीज खिलाड़ियों में, चंदरपॉल वनडे में भारत के खिलाफ दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं।
1 / 5 NEXT
Advertisement
Fetching more content...