Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

5 मौके जब खिलाड़ियों ने कैच नहीं विश्व कप ही छोड़ दिया 

ऋषि
ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
16 Nov 2018, 15:47 IST

4. स्टीव वॉ का कैच बनाम दक्षिण अफ्रीका (1999)

Enter caption

1999 में विश्‍व कप का एक मैच दक्षिण अफ्रीका बनाम ऑस्‍ट्रेलिया के बीच खेला गया था। इस मैच में हर्षल गिब्‍स ने शानदार प्रदर्शन किया और शतक बनाया था। उसी के बदौलत अफ्रीका ने ऑस्‍ट्रेलिया को 271 रनों का लक्ष्‍य दिया। ऑस्‍ट्रेलिया टीम की शुरुआत ज्‍यादा अच्‍छी न रही और पहले तीन विकेट महज 48 रनों पर ही गिर गए थे। इसके बाद कप्‍तान स्‍टीव वॉ बल्‍लेबाजी करने आए और उनका एक कैच गिब्‍स के हाथों में चला गया। इस से आसान से कैच को गिब्‍स ने छोड़ दिया।

स्‍टीव वॉ ने इस कैच के बाद शानदार पारी खेलते हुए न सिर्फ शतक जमाया बल्कि 110 गेंदों में 120 रनों की धमाकेदार पारी भी खेली। इसी मैच की वजह से ऑस्‍ट्रेलिया सेमीफाइनल में पहुंच गया था। दिलचस्‍प बात एक यह भी है कि विश्व कप के बाद यह खबरें भी सुनने को मिली थी कि कैच छोड़ने के बाद स्टीव वॉ ने गिब्स से कहा था कि गिब्स तुमने कैच ही नहीं विश्व कप छोड़ दिया।


3. एडम गिलक्रिस्‍ट का कैच बनाम श्रीलंका (2007)

Enter caption

2007 का विश्व कप वेस्‍टइंडीज में खेला गया था। इस विश्वकप को कोई भार‍तीय याद नहीं रखना चाहेगा क्‍योंकि टीम इंडिया बांग्लादेश से हारकर बाहर हुई थी। विश्वकप का फाइनल मुकाबला श्रीलंका और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच खेला गया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्‍ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्‍लेबाज एडम गिलक्रिस्‍ट ने तेजी से रन बनाए।

बारिश से बाधित 38-38 ओवरों के इस मैच में जब गिलक्रिस्‍ट महज 31 रन बनाकर खेल रहे थे तब एक कैच दिलहारा फर्नानेंडो ने टपका दिया। इस मैच में एडम गिलक्रिस्‍ट ने ताबड़तोड़ 104 गेंदों में 149 रनों की पारी खेली थी। इसी पारी का नतीजा था कि ऑस्‍ट्रेलिया ने यह मैच और विश्वकप अपने नाम लिया था।

PREVIOUS 2 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...