Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

IPL: इंडियन प्रीमियर लीग इतिहास के 5 सबसे कम टीम स्कोर

  • आईपीएल में जिस टीम के नाम सबसे ज़्यादा रनों का रिकॉर्ड है वही इस फ़ेहरिस्त में अव्वल नंबर पर है
Rahul Pandey
ANALYST
Modified 20 Dec 2019, 18:37 IST
  टी 20 क्रिकेट धीरे-धीरे बल्लेबाजों का खेल बन गया है। बड़े बल्ले और छोटी सीमा रेखाओं के साथ, टीमें नियमित रूप से 20 ओवर में 200 के स्कोर को पार कर जाती है और खिलाड़ी भी शतक बनाते हैं। आईपीएल में क्रिस गेल ने नाबाद 175 रनों की पारी भी खेली है। हालांकि, बल्लेबाज हमेशा हावी नही रहते हैं, ऐसा भी कई बार देखा गया है जब बेहतरीन गेंदबाजी के चलते टीमें बड़ा स्कोर करने में विफल रही है। इस लेख में हम आईपीएल के इतिहास के 5 सबसे कम टीम स्कोरों पर नज़र नज़र डाल रहे हैं:

# 5 रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर - 70 बनाम राजस्थान रॉयल्स


    2014 आईपीएल के 14वें मैच में जब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की राजस्थान रॉयल्स से अबु धाबी में भिड़ंत हुई, तो प्रशंसकों को एक करीबी टक्कर वाले मुकाबले की उम्मीद थी। दोनों टीम मजबूत थी और बैंगलोर के बल्लेबाज़ी क्रम में पार्थिव पटेल, विराट कोहली, एबी डीविलियर्स और युवराज सिंह जैसे सितारे भरे थे। फिर भी, वे 15 ओवर में 70 रन के स्कोर पर आउट हो गए। आरसीबी की शुरुआत खराब थी, जहाँ पारी के पहले ओवर में दो विकेट गंवाए गए थे, जिसमें एक खतरनाक रन आउट भी शामिल था। दूसरे ओवर में दो विकेट भी गिर गए, और केन रिचर्डसन ने दो गेंदों में दो विकेट लेकर, विशेषकर डीविलियर्स को शून्य पर पवेलियन वापस भेज दिया। बैंगलोर 2.2 ओवर में सिर्फ 5 रन पर 4 विकेट गंवा कर संघर्ष कर रहा था। इसके बाद विराट कोहली और नीतीश राणा ने पारी का पुनर्निर्माण करना शुरू कर दिया, लेकिन शेन वॉटसन ने बाद में राणा को भी निपटा दिया। यह मैच पूरी तरह से प्रवीण तांबे के नाम था। अनुभवी स्पिनर ने आरसीबी के निचले क्रम को भी रन बनाने का मौका नही दिया, और अंत में विराट कोहली का शानदार विकेट हासिल किया। उनके अन्य शिकारों में एल्बी मोर्कल, मिचेल स्टार्क और अशोक डिंडा रहे और इस प्रकार उन्होंने ने 4-0-20-4 के आंकड़े के साथ गेंदबाजी समाप्त की। आरसीबी के लिए 21 रन के साथ कोहली सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे, उनके बाद स्टार्क ने 18 रन बनाए। राजस्थान के लिये भी लक्ष्य का पीछा करना इतना आसान नही रहा क्योंकि उन्होंने इस प्रक्रिया में 4 विकेट गंवाए थे। फिर भी, कम लक्ष्य के चलते और अजिंक्य रहाणे और शेन वॉटसन की पारियों के बूते उन्होंने 13 ओवरों में लक्ष्य हासिल किया। तांबे को उनकी शानदार गेंदबाज़ी के लिये ‘मैन ऑफ़ द मैच’ पुरस्कार मिला था।
1 / 5 NEXT
Published 03 Apr 2018, 10:30 IST
Advertisement
Fetching more content...