Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

भारत-श्रीलंका के बीच 5 यागदार टेस्ट मैच

SENIOR ANALYST
Modified 23 Jul 2017, 12:15 IST
Advertisement
भारत औऱ श्रीलंका एशिया की दो बेस्ट क्रिकेट टीमे हैं। दोनों टीमों के बीच क्रिकेट में कई यादगार मैच हुए हैं। भारत और श्रीलंका के बीच 2011 का वर्ल्ड कप फाइनल कौन भूल सकता है। लेकिन हम यहां बात करेंगे भारत और श्रीलंका के बीच सफेद कपड़ों के मैच यानि टेस्ट मैच की। भारत और श्रीलंका के बीच अब तक कुल 38 टेस्ट मैच खेले गए हैं। इनमे से भारत ने 21 मैचों की मेजबानी की जबकि श्रीलंका ने 17 टेस्ट मैचों की मेजबानी की। अपने घरेलू पिच पर दोनों ही टीमों का रिकॉर्ड काफी बढ़िया रहा है। भारत कभी भी अपनी घरेलू पिच पर  श्रीलंका से कोई टेस्ट मैच नहीं हारा है। भारतीय टीम ने जिन 21 मैचों की मेजबानी की उसमे से 10 में उसे जीत हासिल हुई।  वहीं श्रीलंका ने भी अपनी जमीन पर अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन भारतीय टीम का जीत प्रतिशत उनसे ज्यादा है। श्रीलंका में हुए 17 टेस्ट मैचो में से भारत ने 6 में जीत हासिल की है, जबकि श्रीलंकाई टीम ने 7 मैचो में जीत हासिल की। हालांकि अगर श्रीलंका में खेले गए पिछले 2 टेस्ट सीरीज की बात करें तो भारत का पलड़ा भारी रहा है। पिछले 5 सालो में भारतीय टीम ने 3 टेस्ट मैच श्रीलंका में जीते हैं। 2010 में खेली गई सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी जबकि 2015 की टेस्ट सीरीज 2-1 से भारतीय टीम ने अपने नाम की थी। श्रीलंकाई टीम के दिग्गज खिलाड़ी कुमार संगकारा, महेला जयवर्द्धने और मुथैया मुरलीधरन अब संन्यास ले चुके हैं। इस समय श्रीलंका की टीम में अनुभव की कमी है। ऐसे में पूरी उम्मीद है कि इस सीरीज में विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम टेस्ट सीरीज जरुर जीतेगी। बात भारत और श्रीलंका के बीच टेस्ट मैचों की हो रही है तो आइए आपको बताते हैं दोनों टीमों के बीच खेले गए 5 सबसे यादगार टेस्ट मैचों के बारे में । अगस्त 2015, 20 से 24 अगस्त, कोलंबो में दूसरा टेस्ट मैच भारतीय टीम टेस्ट सीरीज में 1-0 से पिछड़ रही थी। श्रीलंका ने गाल में खेला गया पहला मैच 63 रनों से जीतकर सीरीज में बढ़त ले ली थी। लेकिन इसके बाद भारतीय टीम ने कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में जबरदस्त वापसी की। टॉस जीतकर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पिच देखकर लग रहा था कि दूसरे दिन से स्पिनरों को मदद मिलने लगेगी। इसी वजह से कोहली ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। लेकिन उनका ये फैसला शुरुआत में श्रीलंकाई गेंदबाजों ने गलत साबित कर दिया। महज 12 रनों के स्कोर पर ही भारतीय टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज मुरली विजय और अंजिक्या रहाणे पवेलियन लौट गए। हालांकि इसके बाद केएल राहुल ने 108 रनों की शानदार शतकीय पारी खेलकर पारी को संभाला। राहुल का कप्तान कोहली, रोहित शर्मा और रिद्धिमान साहा ने अच्छा साथ दिया। तीनों ने अर्धशतकीय पारियां खेलीं। मध्यक्रम के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम 393 रन बनाने में कामयाब रही। श्रीलंका की तरफ से रंगना हेराथ ने 4 विकेट चटकाए। जवाब में श्रीलंकाई टीम अपनी पहली पारी में 306 रन ही बना सकी। श्रीलंकाई टीम और पहले ही सिमट जाती लेकिन दिनेश चांदीमल ने 102 रन, लाहिरु थिरिमाने ने 62 रन और कौशल सिल्वा ने 51 रनों की पारियां खेलकर श्रीलंकाई टीम को भारत के स्कोर के करीब पहुंचाया। भारत की तरफ से अमित मिश्रा ने 21 ओवरो में 43 रन देकर 4 विकेट चटकाए। बल्लेबाजी के लिए पिच काफी मुश्किल होती जा रही थी। दूसरी पारी में रहाणे और विजय ने शानदार पारियां खेलीं। विजय ने 82 और रहाणे ने 126 रनों की शानदार पारी खेली।  लेकिन बाकी बल्लेबाज ज्यादा देर तक पिच पर टिक नहीं सके। हालांकि रहाणे और विजय की पारियों की बदौलत भारतीय टीम दूसरी पारी में 325 रन बनाने में कामयाब रही। पहली पारी के आधार पर श्रीलंका को 413 रनों का विशाल लक्ष्य मिला। लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम शुरुआत से ही मुश्किल में नजर आई। कोई भी बल्लेबाज अमित मिश्रा और रविचंद्रन अश्विन की स्पिन जोड़ी के आगे टिक नहीं पा रहा था। दोनों ने मिलकर 8 विकेट चटकाए और पूरी श्रीलंकाई पारी को महज 134 रनों पर समेट दिया। भारतीय टीम ने 278 रनों के विशाल अंतर से मैच जीतकर सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। पहली पारी में शानदार शतक लगाने वाले के एल राहुल को मैन ऑफ द् मैच चुना गया।
1 / 5 NEXT
Published 23 Jul 2017, 12:15 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit