Create
Notifications

एकदिवसीय क्रिकेट के 5 अनचाहे व्यक्तिगत रिकॉर्ड

ऋषि
visit

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के शुरू हुए करीब 46 साल हो चुके है। उस समय से एकदिवसीय मैच में लगातार रिकॉर्ड टूटते और बनते रहे है। क्रिकेट खेलने वाले सभी खिलाड़ी रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज करवाना चाहते हैं।

परन्तु, कुछ ऐसे भी रिकॉर्ड होते हैं जिसे कोई भी खिलाड़ी अपने नाम के साथ जुड़ा हुआ देखना पसंद नहीं करता है और हमेशा उसके टूटने के बारे में सोचता रहता है।

आज हम आपको एकदिवसीय मैचों के 5 ऐसे ही अनचाहे रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं

#1 रॉबिन पीटरसन, दक्षिण अफ्रीका-पूर्ण सदस्य टीम के गेंदबाज द्वारा सबसे महंगा ओवर

रॉबिन पीटरसन के नाम एकदिवसीय मैच में आईसीसी के पूर्ण सदस्य टीमों के किसी भी गेंदबाज द्वारा सबसे महंगा ओवर फेंकने का रिकॉर्ड दर्ज है। श्रीलंका के थिसारा परेरा ने 2013 में पाल्लेकेले में खेले गए मैच में दक्षिण अफ्रीका के इस बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज के एक ओवर में 5 छक्के और एक चौका जड़ दिया। पीटरसन ने 33वें ओवर में क्रमशः ऐसे रन दिए: 6, वाइड, 6, 6, 6, 4, 6

पीटरसन के इस ओवर में कुल 35 रन बने जो एकदिवसीय मैच का दूसरा सबसे महंगा ओवर है। वहीं ओवर में सबसे ज्यादा रन देने का रिकॉर्ड नीदरलैंड के वैन बंज के नाम दर्ज है जिनके ओवर में दक्षिण अफ्रीकी के ही हर्शल गिब्स ने 2007 विश्वकप में 36 रन बनाए थे लेकिम नीदरलैंड को आईसीसी की पूर्ण सदस्यता प्राप्त नहीं है।

ओवर में 35 रन देने के बावजूद पीटरसन में मैच में 7 ओवर में 51 रन ही दिए और 1 विकेट भी हासिल किया। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैच को 56 रनों से जीत लिया। पीटरसन ने 9 नवम्बर 2016 को क्रिकेट से सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया।#2 सलमान बट्ट, पाकिस्तान- प्रति पारी शून्य बनाने का सबसे खराब अनुपात

2

पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाज सलमान बट्ट के नाम यह अनचाहा रिकॉर्ड है। बट्ट हर 5 पारी में एक बार शून्य पर आउट होते हैं और एकदिवसीय क्रिकेट में किसी भी बल्लेबाज का यह सबसे खराब रिकॉर्ड है। पाकिस्तान की तरफ से 78 एकदिवसीय मैच खेलने वाले सलमान बट्ट 15 बार शून्य पर आउट हुए हैं। इसके बावजूद उनका उनका औसत 36.82 का है और 8 शतक और 14 अर्द्धशतकीय पारियां भी खेली है।

सलमान बट्ट के बाद श्रीलंका के कालुबितान का अनुपात सबसे खराब है। उनका प्रति पारी शून्य पर आउट होने का अनुपात 1:8 है। इसके अलावा सनथ जयसूर्या के नाम एकदिवसीय में सर्वाधिक शून्य(34) बनाने का रिकॉर्ड है फिर भी उनका प्रति पारी शून्य पर आउट होने का अनुपात 1:13 और शाहिद अफरीदी का भी इतना ही है। फिर सलमान बट्ट का इन सब से काफी खराब अनुपात है।#3 मिक लुईस, ऑस्ट्रेलिया- सबसे महंग गेंदबाजी स्पेल

lik

क्रिकेट के सभी प्रशंसक ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिक लुईस को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में 113 रन देने के लिए ही जानते हैं। इसी मैच में दक्षिण अफ्रीका की टीम ने आज से करीब 11 साल पहले ऑस्ट्रेलिया के 434 रनों के जवाब में 438 रन बनाकर मैच जीत लिया था।

सबसे मजेदार बात यह है कि दक्षिण अफ्रीका की तरह से उस मैच में 175 रन बनाने वाले हर्शल गिब्स का लुईस की गेंद पर 2 बार कैच छूटा। पहले बार जब गिब्स 44 रनों पर थे और दूसरी बार जब 108 रनों पर थे। इस मैच के बाद मिक लुईस को ऑस्ट्रेलिया टीम से बाहर कर दिया गया जिसके बाद वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी नहीं कर पाए।#4 डेविड बून, ऑस्ट्रेलिया- एकदिवसीय मैचों के सबसे धीमा शतक

boom

डेविड बून शानदार सलामी बल्लेबाज थे और उन्होंने अपने साथी सलामी बल्लेबाज जॉफ़ मार्श के साथ मिलकर कई मैच जिताऊ पारियां खेली है। उन्होंने अपने खेल से 80 के दशक के शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया के उसके निराशाजनक प्रदर्शन से भी उभारा था।

10 दिसंबर 1991 को बेन्सन और हेजेज वर्ल्ड सीरीज के एक मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफटॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया की खतरनाक गेंदबाजी के सामने भारतीय टीम 175 रनों पर ढेर हो गयी। ऑस्ट्रेलिया के लिए यह आसान लक्ष्य था और सलामी बल्लेबाज बून ने समझ बुझ भरी पारी खेली। बून ने उस मैच में 166 गेंदों पर शतक बनाकर "मैन ऑफ द मैच" हासिल किया पर यह अनचाहा रिकॉर्ड आज भी उनके नाम ही दर्ज है।#5 मोहम्मद समी, पाकिस्तान- एकदिवसीय मैचों का सबसे लंबा ओवर

shami

दुर्भाग्यवश एकदिवसीय क्रिकेट का सबसे लम्बा ओवर फेंकने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद समी के नाम दर्ज है। उन्होंने बांग्लादेश के फिर एशिया कप 2004 में मैच के तीसरे ओवर में 17 गेंदे फेंकी थी।

उन्होंने इस ओवर में 4 नो बॉल और 7 वाइड गेंदे फेंकी थी। वह ओवर कुछ इस प्रकार घटा था: wd-4-2-nb-wd-nb1-0-wd-wd-0-wd-nb-wd-wd-nb-0-4

समी का इससे पहले का ओवर विकेट मेडेन था और अब उनका गेंदबाजी आंकड़ा 2-1-22-1 हो गया था।

टीम प्रबंधन ने समी का बचाव करते हुए कहा कि वो गेंदबाजी एक्शन में थोड़ा बदलाव करने की वजह से लय प्राप्त नहीं कर पा रहे थे। टेस्ट मैचों में सबसे लंबा ओवरों 15 गेंदों का है जिसे वेस्टइंडीज के कर्टली एम्ब्रोस ने 1996-97 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में फेंका था। उस ओवर में 9 नो बॉल थी। इस तरह समी के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का सबसे लंबा ओवर डालने का शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज है।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now