Create
Notifications

वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए अब तक के 5 सबसे यादगार मैच

CONTRIBUTOR
Modified 11 Dec 2016
भारत और इंग्‍लैंड के बीच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज का चौथा मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जा रहा हैं। चौथे दिन का खेल जारी है औऱ अब तक टीम इंडिया का प्रदर्शन भी अच्छा चल रहा हैं। खास बात ये है वानखेड़े स्टेडियम पर टीम इंडिया के इंग्लैण्ड के खिलाफ रिकार्ड पर नज़र डाले तो आंकडे टीम इंड़िया का कोई खास साथ देते नजर नहीं आते हैं। इंग्लैंड भले ही भारत के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-2 से पिछड़ रहा हैं, लेकिन वानखेड़े स्टेडियम में उसका रिकॉर्ड बहुत अच्छा रहा हैं। इंग्लैंड टीम ने ‍इस मैदान पर पिछले दोनों टेस्ट मैचों में भारत पर शानदार जीत दर्ज की थी इसीलिए ये मुकाबला औऱ भी रोमांचक हैं। खैर आंकड़े चाहे साथ न दे रहे हो पर मुम्बई का वानखेड़े स्टेडियम वही स्टेडियम हैं जो भारतीय क्रिकेट के कई यादगार और ऐतिहासिक लम्हों का गवाह बना हैं। फिर चाहे वो 2011 का विश्वकप हो या क्रिकेट के भगवान सचिन की क्रिकेट से विदाई का  पल।धोनी के मैच विनिंग सिक्सर का गवाह भी मुम्बर्ई का वानखेड़े स्टेडियम ही बना है।इसीलिए ऐसे में उम्मीद यही हैं कि इस बार भी विराट की सेना के लिए भी ये मैदान कुछ ऐसा ही करिश्माई साबित होगा। वैसे तो क्रिकेट की दुनिया में हर मैच अपने आप में रोमांचक होता हैं और हर पिच अपने आप में खास मगर बात जब वानखेड़े की हो तो कुछ यादगार औऱ अपने आप में कई मायनों में ऐतिहासिक मैच अपने आप याद आ जाते हैं उन्ही में से 5 ऐसे ही यादगार मैचों के बारे में आपको बताते हैं। #1 जनवरी 1975 भारत बनाम वेस्टइंडीज 25clive-lloyd-2-1481108257-800 1975 ये वही साल था जब पहला विश्पकप हुआ औऱ इसका विजेता भी वेस्टइंडीज ही बना। आज से 40 साल पहले वानखेड़े की पिच पर पहली बार 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने वाली टीम भी वेस्टइंडीज ही थी। सीरीज में रोमांच अपने चरम पर था क्योंकि सीरीज 2-2 से बराबरी पर थी और सीरीज का आखिरी मैच हो रहा था वानखेड़े की पिच पर। साथ ही  इस मैच से कई और यादगार पहलू भी जुड़े है। सर विवियन रिचर्ड ने इसी सीरीज के बैंगलोर में खेले गए पहले मैच से टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था। साथ ही सबसे महान कप्तानों में से एक माने जाने वाले नवाब पटौदी का ये आखिरी मैच था। वानखेड़े की पिच से ही उनकी विदाई भी हुई थी। 6 दिन चलने वाले इस मैच में वेस्टइंडीज के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया वेस्टइंडीज ने 2 दिन से ज्यादा बल्लेबाजी कर 604 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर तीसरे दिन की सुबह पारी डिक्लेयर की। ओपनर रॉय फ्रेडरिक्स ने 104,एल्विन कालिचरन एल्विन कालीचरण ने 98 और डेरेक मरे ने 91 रन का शानदार स्कोर बनाया तो वही जवाब में भारतीय टीम की तरफ. से बल्लेबाजी करते हुए फॉलोऑन बचाते हुए एकनाथ सोलकर ने अपने टेस्ट करियर का पहला शतक बनाया।इन सबके अलावा ये मैच कॉन्ट्रोवर्सी को लेकर भी चर्चा में रहा। इस मैच के दूसरे दिन ही एक प्रशंसक लॉयड को उनके दूसरे शतक की बधाई देने के लिए मैदान पर जा पहुंचा जिसे काबू में करने के लिए पुलिस की कार्रवाई के बाद भीड़ के बेकाबू होने की वजह से दंगे जैसी स्थिती हो गई हालाकिं जल्द ही उस पर काबू भी पा लिया गया।
1 / 5 NEXT
Published 11 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now