Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

पिछले दशक के पांच सबसे रोमांचक ड्रॉ टेस्ट मैच

Modified 11 Aug 2017, 17:17 IST
Advertisement

क्रिकेट का सबसे लंबा प्रारूप का आकर्षण ना सिर्फ केवल 22 खिलाड़ियों के कौशल दिखाने का मौका देता है बल्कि उनके कठिन परिश्रम को भी दर्शाता है। जीत और हार के अलावा टेस्ट के ड्रॉ मैचों में भी जोश और जूनून पैदा करने की अनूठी क्वालिटी होती है और कई बार मैच का फुल और फाइनल निर्णय मैच के आखिरी दिन की अंतिम बॉल तक होता है।

हांलाकि खेल के इस सबसे लंबे फॉर्मेट में कई बार सवाल भी उठे लेकिन इस फॉर्मेट ने हर बार इस जोश को बनाये रखा। कई बार खराब रौशनी ने मैच का निर्णय किया। 2013 इंग्लैंड में फाइनल एशेज टेस्ट के दौरान और 2016 में इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच केप टाउन टेस्ट में खराब मौसम के कारण जहां खेल को और दिलचस्प बनाने में बारिश ने भी अपना काम किया और मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ।

यहां कुछ ऐसे ही बेहद रोमांचक ड्रॉ मैचों की लिस्ट है जो पिछले दशक में हुए हैं-

भारत बनाम साउथ अफ्रीका, जोहान्सबर्ग टेस्ट 2013

भारत 280 & 421, साउथ अफ्रीका 244 & 450/7 पर मैच ड्रॉ

Advertisement

तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला 0-2 से हारने के बाद, जिसमें एक मैच धुल गया था। भारत एक ऐसे दौरे में वापसी करने के लिए उत्सुक था जिसने उन्हें निराशा के अलावा कुछ भी नहीं दिया। वाँडरर्स की पिच पर बल्लेबाजी का चुनाव करने वाले एमएस धोनी को अच्छी गति और उछाल की उम्मीद थी।

युवा खिलाड़ी विराट कोहली की 119 रन की सहासिक पारी भारत के लिए एकमात्र बड़ा स्कोर थी, जिसके दम पर भारत 280 के स्कोर पर पहुंचने में कामयाब रहा, जिसमें मेजबान टीम के वर्नन फिलैंडर ने 61 रन पर 4 विकेट झटक टीम इंडिया को बड़ा स्कोर खड़ा करने नहीं दिया। हालांकि भारतीय पेस जोड़ी इशांत शर्मा और जहीर खान ने चार- चार विकेट लेते हुए साउथ अफ्रीका को 244 पर समेट दिया। साउथ अफ्रीका की तरफ से कप्तान ग्रीम स्मिथ(68) ही भारतीय गेंदबाजों के आगे कुछ टिक सके।

पहली पारी में छोटी सी लीड लेने के बाद दूसरी पारी खेलने उतरी भारतीय टीम को दो उभरते बल्लेबाजों ने अपना कमाल दिखाया। टेस्ट के विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली ने शानदार खेल दिखाते हुए साउथ अफ्रीका में किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा सर्वाधिक साझेदारी निभायी। उन्होंने तीसरे विकेट के लिए 222 रन जोड़े, जिसमें पुजारा ने 153 रनों की पारी खेली और विराट कोहली अपने शतक से सिर्फ चार रन दूर रह गये। आखिरकार 421 रन बनाकर भारत ने 136 ओवर में दक्षिण अफ्रीका को 458 रन बनाने का मौका दिया।

108/0 की अच्छी शुरुआत के बाद साउथ अफ्रीका की पारी डगमगा गई। 197 रन पर 4 विकेट गिरने के बाद मैच भारत की तरफ जाता दिखने लगा। भारत को जीत के लिए 75 ओवर में बाकी 6 विकेट चटकाने थे। लेकिन एबी डीविलियर्स के शतक और फाफ डू प्लेसी की 62 रन की बेहतरीन पारी के साथ दोनों ने पांचवे विकेट के लिए 205 रन जोड़ दिये।

मेजबान टीम को इस समय जीत के लिए 16 रन ही दरकार थी। डेल स्टेन ने मैच की अंतिम गेंद में शमी पर छक्का जड़ा, लेकिन इसके बावजूद उनकी टीम जीत से आठ रन दूर रह गई।

1 / 5 NEXT
Published 11 Aug 2017, 17:17 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit