Create
Notifications

पाकिस्तान टीम के 5 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें भ्रष्टाचार करने के कारण बैन किया गया

शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda
visit

भ्रष्टाचार और धोखा क्रिकेट के खेल का हिस्सा रहा है। मैच फिक्सिंग, स्पॉट फ़िक्सिंग, खिलाड़ी और बुकी के बीच अनैतिक रिश्ते, इन सभी घटनाओं की वजह से क्रिकेट की छवि पर काफ़ी धक्का लगा है। पाकिस्तान, दक्षिण अफ़्रीका, भारत और बांग्लादेश जैसी टीमों के आरोपी खिलाड़ियों को या तो मैनेजमेंट की फटकार लगी है या फिर जेल भी गए हैं। पाकिस्तान के खिलाड़ी सबसे ज़्यादा ऐसे आरोपों का शिकार हुए हैं। कुछ को तो आजीवन प्रतिबंध झेलना पड़ा है। हम यहां उन 5 पाकिस्तानी खिलाड़ियों को लेकर चर्चा कर रहे हैं जिनपर भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद प्रतिबंध लगाया गया है।

#1) सलीम मलिक

1990 में सलीम मलिक को मैच फ़िक्सिंग के आरोपों का सामना करना पड़ा था, जिसके बाद उन पर आ लगाजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया था। साल 1995 में पाक के पूर्व विकेटकीपर राशिद लतीफ़ ने मलिक के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी। उनका आरोप था कि मलिक ने ख़राब खेलने के लिए पैसे लिए हैं। जस्टिस कय्यूम ने न्यायिक जांच के बाद मलिक को दोषी पाया और जेल भेज दिया।

#2) मोहम्मद आमिर

मोहम्मद आमिर पर आरोप था कि उन्होंने साल 2010 में इंग्लैंड के दौरे पर जानबूझ कर नो बॉल फेंकी थी। इंग्लैंड के अख़बार ‘न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड’ ने एक स्टिंग ऑपरेशन में ये साबित किया था कि इस काम के लिए बुकी से पैसे लिए गए थे। आईसीसी ने आमिर को एंटी करप्शन कोड के तहत निलंबित कर दिया था।

#3) दानिश कनेरिया

दानिश कनेरिया को इंग्लैंड की पुलिस ने एसेक्स टीम के ख़िलाफ़ मैच में अनियमितता के आरोपों के बाद गिरफ़्तार किया था। उन्हें ईसीबी के आधिकार क्षेत्र के सभी मैच खेलने पर बैन लगा दिया गया था। इस घटना के बाद कनेरिया की काफ़ी किरकिरी हुई थी।

#4) शरजील खान

शरजील खान पर पाकिस्तान सुपर लीग 2017 के दौरान स्पॉट फ़िक्सिंग का आरोप लगा था। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इसे गंभीरता से लेते हुए शरजील पर 5 साल का प्रतिबंध लगा दिया था। शरजील ने पीसीबी के सभी 5 आरोपों का स्वीकार करने से इंकार कर दिया था। इसके ख़िलाफ़ उन्होंने स्विट्ज़रलैंड के लुज़ान में स्थित कोर्ट ऑफ़ आर्बिट्रेशन फ़ॉर स्पोर्ट्स में केस किया था।

#5) सलमान बट्ट

साल 2010 में पाकिस्तान के खिलाड़ी सलमान बट्ट ने पीसीबी के चेयरमैन शहरयार ख़ान के सामने स्पॉट फ़िक्सिंग के आरोपों को स्वीकार किया था। उनके ऊपर आरोप था कि अगस्त 2010 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ लॉर्ड्स मैदान में नो बॉल फेंकने की साज़िश रची थी। इसकी वजह से सलमान बट्ट पर 10 साल का बैन लगाया गया।

लेखक- प्रवीर राय, अनुवादक- शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now