Create
Notifications

5 पाकिस्तनी क्रिकेटर जो भारत में कमा रहे हैं शोहरत

Syed Hussain

भारत और पाकिस्तान दो ऐसे देश, जिनका नाम हमेशा एक साथ जोड़कर देखा जाता है। खेल का मैदान हो या जंग का जब ये दो देश आमने सामने होते हैं तो दुनिया मानो थम सी जाती है। दो ऐसे देश जहां प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है, दोनों ही देशों की जनता भी प्रतिभाओं की क़द्र करती है और उन्हें इज़्ज़त देती है। ख़ास तौर से अगर बात क्रिकेट की करें, तो इस खेल में देश से बड़े खिलाड़ी हो जाते हैं। फिर चाहे वसीम अकरम हो या शाहिद आफ़रीदी या एबी डीविलियर्स क्रिकेट प्रेमी उन्हें उनके खेल के लिए जानते हैं न कि देश से पहचानते हैं। मुंबई का वानखेड़े हो या कोलकाता का इडेन गार्डेन्स क्रिस गेल या शाहिद आफ़रादी के लिए दर्शकों में वैसा ही जुनून रहता है जैसे विराट कोहली को देखने के लिए। क्रिकेट प्रेमियों की यही बात निराली है जो इस खेल को बनाती है सबसे अलग। सिर्फ़ क्रिकेट प्रेमी ही नहीं बल्कि मैदान के बाहर भी इन खिलाड़ियों की हौसलाअफ़ज़ाई के लिए शब्दों की कमी नहीं है और न ही पैसों की। भारत में कई पाकिस्तानी क्रिकेटर बिल्कुल आराम से आते हैं और यहां काम भी करते हैं और जमकर पैसा भी कमाते हैं। ऐसी ही 5 पाकिस्तानी क्रिकेटरों को हम इस फ़ेहरिस्त में शामिल कर रहे हैं जिनके लिए भारत है रोज़ी-रोटी का ज़रिया। #1 शोएब अख़्तर shoa-1473605847-800 एक वक़्त था जब पाकिस्तान का ये रफ़्तार का सौदागर भारतीय हसीनाओं के दिलों की धड़कन होता था और बल्लेबाज़ों की धड़कन बढ़ा जाता था। शोएब अख़्तर ने गेंद से कई बार भारत में आकर टीम इंडिया के बल्लेबाज़ों के लिए विलेन बने हैं। रावलपींडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर इस तेज़ गेंदबाज़ का विवादों से गहरा नाता रहा है और मीडिया की सुर्खियों में रहा है। अब एक बार फिर भारतीय मीडिया में शोएब अपने जलवे बिखेर रहे हैं, लेकिन फ़र्क इतना है कि अब इसके लिए उन्हें कैमरे से भागना नहीं बल्कि कैमरे पर आना पड़ रहा है। शोएब अख़्तर आजकल एक बेहतरीन क्रिकेट कॉमेंटेटर और एक्सपर्ट के तौर पर ख़ुद को साबित कर रहे हैं। उनका पंजाबी में बोलने का स्टाइल और वीरेंदर सहवाग के साथ हाज़िरजवाबी दर्शकों का दिल जीत रही है। अब तो वह हरभजन सिंह के साथ एक शो भी कर रहे हैं जिसका नाम है ‘इंडिया मज़ाक लीग’। शोएब अख़्तर के लिए भारत दूसरा घर हो चुका है जहां वह जमकर पैसे भी कमा रहे हैं। #2 वक़ार युनिस waqar-1473605933-800 क्रिकेट की दुनिया में वक़ार युनिस और क्रिकेट के भगवान का दर्जा हासिल रखने वाले सचिन तेंदुलकर ने एक साथ क़दम रखा था। सचिन जहां अपने बल्ले से कई रिकॉर्डों के बादशाह हो गए। तो पाकिस्तान के इस तेज़ गेंदबाज़ ने अपनी गेंदो से एक अलग ही छाप छोड़ी। वसीम अकरम के साथ मिलकर वक़ार युनिस ने क्रिकेट जगत में बल्लेबाज़ों के लिए सबसे बड़ा सिर दर्द के साथ साथ पैर दर्द भी बन गए थे। इन दोनों की यॉर्कर ने कई बल्लेबाज़ों के पैर के अंगूठे तोड़े हैं। गेंद के साथ कमाल करने वाले वक़ार युनिस क्रिकेट को बेहद क़रीब से समझते हैं। यही वजह है कि क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद उन्होंने कोचिंग की ज़िम्मेदारी संभाल ली। वक़ार अपनी राष्ट्रीय टीम के भी कोच रह चुके हैं और अब उनकी नई पारी आईपीएल में सनराइज़र्स हैदराबाद के साथ कोच के तौर पर शुरू हुई है। आईपीएल के दौरान कोच के साथ साथ वक़ार एक कॉमेंटेटर की भूमिका में भी दिखाई देते हैं और उनके एक्सपर्ट कमेंट को क्रिकेट प्रेमी पसंद भी करते हैं। #3 वसीम अकरम wasim-1473605998-800 अजीब इत्तेफ़ाक है वक़ार युनिस के साथ वसीम अकरम का नाम न जुड़े ये इसके बिना शायद क्रिकेट अधूरा है। क्रिकेट जगत सबसे बेहतरीन बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों में शुमार वसीम अकरम अपनी स्विंग गेंदो से बल्लेबाज़ों के होश फ़ाख़्ता कर देते थे। वसीम अकरम इकलौते पाकिस्तानी क्रिकेटर हैं जिनका नाम विस्डेन क्रिकेट की 150वीं जयंति के मौक़े पर चुनी गई क्रिकेट इतिहास की ऑलटाइम-XI में शामिल हुआ था। क्रिकेट के मैदान पर शानदार प्रदर्शन करने के बाद वसीम अकरम ने दूसरी पारी कॉमेंटेटर और कोच के तौर पर शुरू की। क्रिकेट कॉमेंट्री में भी वसीम अकरम ने ख़ूब तारीफ़े लूटी, भारतीय दिग्गज और मशहूर कॉमेंटेटर रवि शास्त्री के साथ इन दोनों का क्रिकेट शो ‘शैज़ एंड वैज़’ बेहद लोकप्रिय हुआ था। साथ ही साथ अकरम एक कोच भी हैं जिन्हें हर टीम अपने साथ जोड़ना चाहती है। अकरम फ़िलहाल आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स के कोच हैं और साथ ही साथ भारतीय टेलीवीज़न की एक मशहूर शख्सियत भी, अकरम को जितना प्यार और इज़्ज़त पाकिस्तान में मिलती है उससे कहीं ज़्यादा भारत में भी उनकी लोकप्रियता है। #4 रमीज़ राजा rameez-1473606061-800 रमीज़ राजा भारतीय क्रिकेट फ़ैस के लिए आम और सबसे ज़्यादा दिखने वाला चेहरा हैं। कभी कभी तो लगता भी नहीं ये खिलाड़ी पाकिस्तान से ताल्लुक़ रखता है। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद दाएं हाथ के इस बल्लेबाज़ के हाथो में माइक्रोफ़ोन आ गया। पाकिस्तान के इस दिग्गज बल्लेबाज़ ने जितना नाम और शोहरत क्रिकेट खेलने के दौरान नहीं कमाई उससे कहीं ज़्यादा अब क्रिकेट कॉमेंटेटर की हैसियत से कमा रहे हैं। इंग्लिश के साथ साथ रमीज़ राजा की हिंदी कॉमेंट्री भी कमाल की है। आईपीएल के दौरान रमीज़ राजा का अंदाज़ और निराला हो जाता है, सिद्धू के साथ मिलकर उनकी कॉमेंट्री और शेरो शायरी का मज़ा ही अलग है। #5 इंज़माम-उल-हक़ inzy-1473606155-800 पाकिस्तान के इस भारी भरकम कप्तान को हर कोई पसंद करता है। इंज़माम के खेलने का स्टाइल और उनके बात करने का सरल अंदाज़ उन्हें दूसरों से अलग करता है। इंज़माम फ़िलहाल पाकिस्तान क्रिकेट टीम के राष्ट्रीय चयनकर्ता हैं। इंज़माम इससे पहले भारतीय टेलीवीज़न इंडस्ट्री में कई चैनलों के लिए क्रिकेट एक्सपर्ट की भूमिका भी निभा चुके हैं। आपको याद होगा इंज़माम-उल-हक़ 2007 में शुरु हुए भारतीय क्रिकेट लीग (ICL) की टीम हैदराबाद हीरोज़ के कप्तान भी थे। ICL के दूसरे सीज़न में उन्होंने लाहौर बादशाह का प्रतिनिधित्व किया था। ये सच है कि पाकिस्तानी क्रिकेटर आईपीएल के पहले सीज़न के बाद से नहीं खेल पाए हैं। लेकिन उसके बावजूद इस फ़ेहरिस्त में शामिल इन दिग्गजों के लिए क्रिकेट जगत में शोहरत हासिल करने में मुश्किल नहीं हुई। किसी को उनके क्रिकेट के अनुभव के आधार पर कोचिंग की ज़िम्मेदारी मिली तो कोई अपनी आवाज़ से अलग पहचान बना रहा है।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...