Create
Notifications

टी-20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा पारियां खेलकर पहला अर्धशतक बनाने वाले 5 बल्लेबाज

आभास शर्मा
visit

टी-20 फॉर्मेट में किसी भी बल्लेबाज के पास खुद को साबित करना का बहुत कम समय होता है। एक खिलाड़ी को ग्राउंड पर खेल को समझना होता है, खुद को क्रीज पर जमाना होता है और साथ ही परिस्थियों को भी समझना होता है। लेकिन ये सारे काम करने के लिए उसके पास केवल कुछ ही ओवर होते हैं। ऐसे में अपने पहले ही अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैच में कोई बल्लेबाज करिश्मा कर दे, इसकी संभावना कम है। किसी बल्लेबाज के लिए इस सबसे सीमित ओवर के क्रिकेट में अर्धशतक जड़ना काफी मुश्किल काम है। ये काम उस बल्लेबाज के लिए तो और भी कठिन हो जाता है जो निचले क्रम में बैटिंग करने आए। दुनिया में अभी तक 14 ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने अपने डेब्यू टी-20 मैच में अर्धशतक मारा है। लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जिन्हें अपनी एक फिफ्टी के लिए कई पारियों तक इंतजार करना पड़ा। क्या आप सोच सकते हैं वो कौन खिलाड़ी हैं जिन्हें 20 ओवरों के इस खेल में पहले अर्धशतक के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा? आपको बता दें कि पूर्व भारतीय कप्तान एम एस धोनी भी अपनी पहली फिफ्टी इस फॉर्मेट में 10 साल खेलने के बाद मार सके थे। तो, ये हैं वो बल्लेबाज जिन्होंने अपना पहला टी-20 अर्धशतक कई पारियों बाद मारा :


#5 करीम सादिक (अफ़ग़ानिस्तान)- 31 innings

karim-sadiq-1485981821-800

इस लिस्ट में पांचवें नंबर आते हैं अफ़ग़ानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज करीम सादिक। करीम ने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय टी-20 अर्धशतक 31वीं पारी में लगाया। टीम में लगातार छह सालों से टॉप ऑर्डर में खेल रहे करीम को पहली फिफ्टी के लिए इतना लंबा इंतजार करना पड़ा। उन्होंने ये अर्धशतक एशिया-कप में यूएई के खिलाफ 177 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए जमाया। इस मैच में अफ्गानिस्तान 9/2 के स्कोर पर जूझ रहा था, तब सादिक बैटिंग करने आए। उन्होंने टीम के लिए इस मैच में 48 गेंदों पर 78 रन मारकर अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी खेली। हालांकि वो टीम को ये मैच जिता नहीं पाए। इससे पहले सादिक का बेस्ट स्कोर 42 रन था। उन्होंने अपने करियर में 34 इनिंग्स खेली हैं जिसमें उन्होंने 505 रन बनाए हैं। टी-20 क्रिकेट में सादिक का एवरेज 14.85 का है और उन्होंने अभी तक एक ही अर्धशतक बनाया है। #4 डेविड मिलर (दक्षिण अफ्रीका) - 34 innings

miller fifty

एक मिडल ऑर्डर बल्लेबाज के लिए टी-20 में बड़ी पारी खेलना काफी मुश्किल कहा जाता है। क्योंकि इस क्रम के बल्लेबाज को बहुत कम समय में खुद को क्रीज पर जमाना भी होता है और बड़े शॉट भी खेलने होते हैं। इसी लिए इस दौर के सबसे ताड़तोड़ बल्लेबाजों में से एक डेविड मिलर को इस लिस्ट में चौथे स्थान पर रखा गया है। यूं तो अन्य 20-20 मुकाबलों में मिलर के नाम 22 अर्धशतक हैं, लेकिन इंटरनेशनल करियर में उनके नाम सिर्फ एक ही फिफ्टी है। दक्षिण अफ्रीका के इस तूफानी बल्लेबाज को अपना पहला अर्धशतक जड़ने के लिए 34 पारियों का लंबा वक्त लगा। 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार बैटिंग करते हुए टी-20 इंटरनेशनल में वो पहली बार 50 के स्कोर तक पहुंचे । 2016 टी-20 विश्व-कप से पहले हुए इस मुकाबले में मिलर ने ये उपलब्धि, 158 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए हासिल की। इस मैच में 10 ओवर बाद अफ्रीकी टीम 72/4 स्कोर के साथ खस्ता हालत में थी जब मिलर क्रीज पर आए। कुछ ही पल में दो विकेट और गिर गए। लेकिन मिलर ने हार नहीं मानी और अपनी बल्लेबाजी का करिश्मा दिखाते हुए महज़ 35 गेंदों पर 53 रन जड़ दिए। मिलर के इस खेल से दक्षिण अफ्रीका ने मुकाबला जीत लिया। हालांकि मिलर के लिए ये अर्धशतक काफी देर से आया, लेकिन टीम के लिए सफल साबित हुआ। #3 मोहम्मद नबी (अफ़ग़ानिस्तान) - 38 innings

mohammad-nabi-1485981729-800

अफ़ग़ानिस्तान लिए मोहम्मद नबी काफी समय से एक ऑलराउंडर के रूप में खेल रहे हैं। इस खिलाड़ी को टी-20 में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय अर्धशतक बनाने के लिए 38 पारियों का इंतजार करना पड़ा। अपने देश के लिए 50 से ज्यादा टी-20 मैच खेल चुके नबी ने अपना पहला अर्धशतक जिंबाब्वे के खिलाफ लगाया। अक्सर निचले क्रम पर खेलने वाले इस बल्लेबाज ने 2016 विश्व-कप में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ शानदार पारी खेली। नागपुर में हुए इस मैच में उन्होंने सिर्फ 32 गेंदों पर 52 रन मारकर अपने करियर का पहला और एकलौता इंटरनेशनल अर्धशतक जड़ा। इस पारी में नबी ने चार चौके और दो छक्के लगाए। उनकी इस ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के चलते अफ़ग़ानिस्तान ने ज़िम्बाब्वे के सामने 186 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया। इसके बाद अफ़ग़ान टीम, 59 रनों से इस मैच को जीतने में कामयाब रही। #2 गैरी विल्सन (आयरलैंड) - 42 innings

gary-wilson-1485981681-800

साल 2016 में सबसे ज्यादा पारियां खेलकर पहली फिफ्टी बनाने के रिकॉर्ड कई बार टूटा। दो महीनों के भीतर ही ये रिकॉर्ड तीन बार ब्रेक हुआ, लेकिन अलग-अलग सीरीज में। जनवरी 2017 में 'डेजर्ट टी-20 टूर्नामेंट' के दौरान आयरलैंड के बल्लेबाज गैरी विल्सन ने सबसे ज्यादा पारियां खेलकर टी-20 इंटरनैशनल में अर्धशतक मारने का रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने स्कॉटलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में खेलते हुए ये मुकाम हासिल किया। इस फॉर्मेट में ज्यादा अच्छी परफॉर्मेंस नहीं देने वाले गैरी ने सेमीफाइनल मुकाबले में अपनी 42वीं पारी में 50 रन से ज्यादा बनाए। उन्होंने महज 29 गेंदे खेलकर 65 रनों की तूफानी बल्लेबाजी की। इस दौरान उन्होंने तीन छक्के और आठ चौके जडे़। हालांकि ये गैरी का आठवां टी-20 अर्धशतक था, लेकिन पहला अंतर्राष्ट्रीय था। लेकिन दो हफ्ते बाद ही, सबसे ज्यादा पारियां खेलकर फिफ्टी लगाने वाला उनका ये रिकॉर्ड एक भारतीय बल्लेबाज ने तोड़ दिया। #1 एम एस धोनी (भारत) – 66 innings

fifty dhoni

इस बात में कोई शक नहीं है कि एम एस धोनी दुनिया के सबसे बेहतरीन फीनिशर्स में से एक हैं। टी-20 क्रिकेट में अक्सर आखिरी ओवरों में आकर धोनी ने अपनी धूआंधार बल्लेबाजी के बलबूते भारत को कई मैच जिताए हैं। लेकिन, लगभग एक दशक से अंतर्राष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में नाम कमा रहे इस खिलाड़ी के नाम एक ही अर्धशतक है। ये उपलब्धि भी उन्होंने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ ही हासिल की है। एक फरवरी को बंगलुरू में खेले गए तीसरे टी-20 मैच में धोनी ने इंग्लिश गेंदबाजों की जमकर धुनाई की और अपना पहला अर्धशतक पूरा किया। ये हैरानी की बात है कि 76 अंतर्राष्ट्रीय मैच में, 66 पारियों में एक हजार से ज्यादा रन बनाने के बाद उनके आंकड़ों में पहली फिफ्टी दर्ज हुई। इसी के साथ धोनी ने सबसे ज्यादा ईनिंग्स में पहला अर्धशतक मारने का रिकॉर्ड बनाया। इस फाइनल मैच में धोनी ने सिर्फ 32 गेंदों पर अर्धशतक जड़कर टीम इंडिया को बड़े स्कोर तक पहुंचाने में अहम योगदान दिया। इस अर्धशतक के साथ ही उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल करियर में अपना सर्वाधिक स्कोर बनाया।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now