Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

युवराज सिंह और एमएस धोनी के लिए गौतम गंभीर के बयान के 5 सही अर्थ

Rahul Pandey
ANALYST
Modified 29 Aug 2017, 14:08 IST
Advertisement
# 4 युवराज अब वो ऑलराउंडर नहीं हैं

1b6de-1503647945-800

अगर हम 2011 के विश्व कप में भारत के विजयी अभियान को देखते हैं, तो बल्ले और गेंद दोनों के साथ टीम के  लिए खड़ा होने वाला और प्रदर्शन करने वाला खिलाड़ी युवराज सिंह है। यह युवराज का आलराउंड प्रदर्शन था, जिसने भारत की जीत सुनिश्चित की और उन्हें मैन ऑफ द टूर्नामेंट पुरस्कार प्रदान किया।

उनकी वापसी के बाद से, युवराज ने अच्छी गेंदबाजी करने और बीच ओवरों में विकेट लेने की क्षमता खो दी है। काफी समय से उन्होंने गेंदबाज़ी भी लगभग बंद कर दी है और सिर्फ एक बल्लेबाज़ के तौर पर उनका टीम में बना रहना मुश्किल होगा।

बल्ले के साथ युवराज के प्रदर्शन ने बल्लेबाज के रूप में जगह देने के लिए पर्याप्त नहीं किया है। इसके साथ ही उनका सुस्त क्षेत्ररक्षण उनके कारणों की मदद नहीं करता है। केदार जाधव और हार्दिक पांड्या की पसंद अब इस रोल में बिलकुल फिट हैं, इसलिए युवराज वापसी करने के लिए संघर्ष करेंगे।

PREVIOUS 2 / 5 NEXT
Published 29 Aug 2017, 14:08 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit