आईपीएल 2016: वह 5 कारण जो बैंगलोर को इस बार बना सकते हैं चैंपियन

531730754-1464262192-800

अगर इससे पहले हुए आईपीएल सीजन पर नजर डालें तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इस सीजन में जबरदस्त वापसी की है। लेकिन इसके लिए आईपीएल और उसके इतिहास को धन्यवाद जिसमें ऐसी कहानियां, सफलता और जिजीविसा देखने मिलती है। एक महीने पहले आरसीबी अंकतालिका में नीचे खड़ी थी और आज टीम फाइनल खेलने को तैयार है। साथ ही टीम अपना पहला आईपीएल जीतने के लिए आशान्वित भी है। कागजों पर आरसीबी हमेशा एक मजबूत टीम मानी जाती रही है। लेकिन टीम अबतक मात्र 3 बार ही फाइनल तक का सफर तय कर पायी है। इस बार उन्होंने गुजरात लायंस को हराया है। विराट और उनकी टीम इस बार कप भी उठाना चाहेंगी। हम आपको 5 ऐसे कारण बता रहे हैं कि जो बंगलौर को इस बार आईपीएल का बादशाह बना सकते हैं: #1 मोमेंटम मुंबई इंडियंस से हारने के बाद आरसीबी को प्लेऑफ़ में पहुंचने के लिए अपने सारे मुक़ाबले जीतने थे, टीम ने जीता भी। गुजरात लायंस को 144 रन से हराने के बाद आरसीबी ने केकेआर, किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली डेयरडेविल्स को हराने में कामयाबी पायी। अगर आरसीबी पहले क्वालीफ़ायर में गुजरात लायंस से हार गयी होती तो उसे एक और मैच खेलने का मौका मिलता। लेकिन टीम ने पहले ही मैच में जीत दर्ज करके फाइनल में जगह बना ली। ऐसे में किसी टीम के मोमेंटम को बदलना बहुत कठिन हो जाता है। #2 घर का फायदा 7d77b4de6ce2f6770a32ce91a039a32c-1464262499-800 आईपीएल का इस बार का फाइनल बंगलौर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेल जाएगा जो आरसीबी का होम ग्राउंड भी है। जब आप अपने होम ग्राउंड पर फाइनल मुकाबला खेल रहे होते हैं। तो आपको अपार समर्थन मिलता है। इससे टीम का हौसला काफी बढ़ता है। इसके आलावा टीम में जब दुनिया के बेहतरीन क्रिकेटर हों तो इसका भी फायदा मिलता है। चिन्नास्वामी स्टेडियम का छोटा ग्राउंड बल्लेबाजों के लिए काफी मुफीद है। #3 अंततः गेंदबाज़ी में सुधार हुआ 389eed626a54dca46791095a2f4ec44d-1464261746-800 आधे टूर्नामेंट तक किसी को भी ये मालूम नहीं था कि बंगलौर के दो गेंदबाज़ सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की श्रेणी में आ पाएंगे। इसके आलावा आरसीबी की टूर्नामेंट में खराब शुरुआत की वजह उनकी गेंदबाजी को माना जा रहा था। जो हर बड़े स्कोर को बचाने में असफल साबित हुए थे। लेकिन सौभाग्यवश टूर्नामेंट के आख़िरी चरण में बंगलौर की गेंदबाज़ी में काफ़ी सुधार देखने को मिला। वॉट्सन और चहल को क्रिस जॉर्डन, इकबाल अब्दुल्लाह और श्रीनाथ अरविन्द का अच्छा साथ मिला है। इन खिलाड़ियों का एक इकाई के तौर पर अच्छा प्रदर्शन रहा है। #4 त्रिमूर्ति c0ba6e1f2f07cb26826b895e0e78d3e1-1464261661-800 आरसीबी को उनकी मजबूत बल्लेबाज़ी के लिए जाना जाता है। साथ ही इस बार के सीजन में उनकी बल्लेबाज़ी अच्छी भी रही है। विराट कोहली और एबी डीविलियर्स ने इस पूरे सीज़न में तूफानी बल्लेबाज़ी की है। वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाली लिस्ट में भी शामिल हैं। हालांकि क्रिस गेल की बल्लेबाज़ी मिली जुली रही है। लेकिन उनका टीम में होना ही विपक्षी टीम पर दबाव बनाने के लिए काफी होता है। हालांकि इस सीज़न में उनकी खराब फॉर्म तो रही है साथ ही वह विवादों में भी फंसते रहे हैं। #5 विराट कोहली का दृढ़ संकल्प 521885976-1464261333-800 विराट कोहली बतौर कप्तान और बल्लेबाज़ अपने चरम फॉर्म में हैं। कोहली को अच्छा करने के लिए उनकी लगातार जीतने की भूख प्रेरित करती है। बतौर बल्लेबाज़ वह टीम का नेतृत्व आगे बढ़कर करते हैं। कोहली को अपनी गेंदबाज़ी के बारे में पता है जिसकी भरपाई वह बल्लेबाजों से करवाना जानते हैं। कोहली अपना शत-प्रतिशत मैदान पर देते आये हैं। उनकी मैदान पर तेजी देखने लायक होती है। लम्बे समय बाद क्वालीफ़ायर मुकाबले में वह चेज करने के दौरान जीरो पर आउट हुए थे। टी-20 वर्ल्डकप में मिली हार को पचाने के लिए कोहली इस बार आईपीएल ट्राफी उठाने को बेकरार हैं। लेखक: अमित सिन्हा, अनुवादक: मनोज तिवारी

Edited by Staff Editor