Create
Notifications

5 कारण आखिर क्यों क्रिस गेल के न खेलने से बिग बैश लीग पर पड़ेगा असर

SENIOR ANALYST
Modified 16 Dec 2016

क्रिस गेल टी-20 के बेहद ही खतरनाक खिलाड़ी हैं । वो दुनिया के पहले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने टी-20 मैचों में पहला शतक लगाया । दुनिया भर की फ्रेंचाइजी बेस्ड लीग में भी गेल का बल्ला खूब बोला है । ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश लीग के 2011-12 सीजन में गेल ने सिडनी थंडर्स की तरफ से खेलते हुए  7 मैचों में 42 की औसत 150 के शानदार स्ट्राइक रेट से 252 रन बनाए है। उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में 22 छक्के जड़े और एक मैच में 11 छक्कों की मदद महज 54 गेंदों पर तूफानी शतक जड़ा। हालांकि 2012-13 का सीजन उनके लिए कुछ खास नहीं रहा, लेकिन इसके 5वें सीजन में उन्होंने जोरदार वापसी की और 7 मैचों में 29.14 की औसत से 204 रन बनाए। 2015-16 के बीबीएल सीजन में एडिलेड स्ट्राइकर्स के खिलाफ गेल ने महज 12 गेंदों पर अर्धशतक लगाकर युवराज सिंह के 2007 वर्ल्ड कप में बनाए गए सबसे तेज अर्धशतक की बराबरी कर ली । गेल ने अपनी तूफानी पारी में 7 छक्के और 2 चौके जड़े। भारत में गेल ने काफी रन बनाए हैं। इंडियन प्रीमियर लीग के 92 मैचों में गेल ने 153.36 के स्ट्राइक रेट से 3400 से भी ज्यादा रन बनाए हैं। 23 अप्रैल 2013 को गेल ने पुणे वारियर्स के खिलाफ 175 रनों की मैराथन पारी खेलकर टी-20 में सबसे बड़े व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड बनाया। इस मैच में कई और रिकॉर्ड भी टूटे जो नीचे दिए गए हैं।


  1. टी-20 का सबसे तेज शतक- महज 30 गेंदों में

  2. टी-20 में किसी भी टीम का सबसे बड़ा स्कोर-5 विकेट पर 263 रन

  3. एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के- गेल 17 छक्के, रॉयल चैलेंजर बैंगलुरु 21 छक्के

गेल आईपीएल के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने आईपीएल में 5 शतक लगाया है । वहीं गेंदबाजी में भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है। गेल ने 82 मैचों में 8.11 की इकोनॉमी रेट से 16 विकेट लिए हैं। इससे पता चलता है कि उन्होंने टीम के लिए किफायती गेंदबाजी की है। जमैका के इस विस्फोटक बल्लेबाज को वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड का भी पूरा साथ मिला। बोर्ड ने गेल को दुनिया भर के टी-20 लीग में खेलने की अनुमति दी। 'वर्ल्ड बॉस' के निकनेम से मशहूर गेल मैदान के अंदर भी और मैदान के बाहर भी दर्शकों का खूब मनोरजंन करते हैं।हालांकि उनके कुछ कामों की वजह से उन्हें परंपरागत क्रिकेट ज्यूरी से आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा।2015/16 के बिग बैश लीग सीजन में गेल को स्पोर्ट्स प्रजेंटर मेल मैक्लॉघ्लिन पर टिप्पणी करना महंगा पड़ गया । बीबीएल के हेड एंथोनी एवरैर्ड ने गेल की जमकर आलोचना की और फ्रेंचाइजी से उन्होंने गेल को दोबारा अनुबंधित करने के लिए मना किया । गेल ने भी एंथोनी की ये इच्छा पूरी कर ही दी और परिवार के साथ समय बिताने का हवाला देकर प्रतियोगिता में खेलने से मना कर दिया। गेल इस बार के सीजन में नहीं खेल रहे हैं ऐसे में बिग बैश लीग में उनकी कमी जरुर खलेगी। आइए आपको बताते हैं 5 ऐसे कारण क्यों बीबीएल में उनकी कमी खलेगी। 1. बहुत बड़े एंटरटेनर gayle क्रिस गेल वर्ल्ड क्रिकेट के बहुत बड़े एंटरटेनर हैं। मैदान पर अपनी बल्लेबाजी से वो दर्शकों का खूब मनोरंजन करते हैं।गेंदबाजों पर गेल जरा भी दया नहीं दिखाते हैं और जमकर धुनाई करते हैं। यहां तक कि गेल की विरोधी टीम के प्रशंसक भी गेल की बल्लेबाजी का पूरा लुत्फ उठाते हैं। गेल के लंबे-लंबे बाल उनको एक अलग ही लुक देते हैं । इस रुप में वो मशहूर यहूदी दिग्गज सैमसन से काफी मिलते-जुलते हैं। जब-जब गेल बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आते हैं पूरा स्टेडियम खचाखच भर जाता है और लोग अपने टीवी सेट्स के सामने बैठ जाते हैं। कोई भी गेल की बल्लेबाजी को मिस नहीं करना चाहता है। पूरी दुनिया की टी-20 लीग में गेल ने गजब की बल्लेबाजी की है। 35 साल की उम्र में भी गेल गजब के फुर्तीले हैं। उम्र के इस पड़ाव पर पहुंचकर ज्यादातर क्रिकेटर संन्यास के बारे में सोचने लगते हैं, लेकिन गेल अभी भी क्रिकेट का पूरा मजा उठा रहे हैं। उनकी फिटनेस की तारीफ तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू के कप्तान विराट कोहली ने भी की है, जो कि खुद बहुत फिट रहते हैं। इसी वजह से लीग और खासकर ऑस्ट्रेलियान क्रिकेट फैंस गेल की बल्लेबाजी को बहुत मिस करेंगे ।
1 / 5 NEXT
Published 16 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now