Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के 5 ऐसे रिकॉर्ड जिन्हें शायद फैंस भूल गए होंगे 

आँकड़े
Published 25 Oct 2018, 19:20 IST
25 Oct 2018, 19:20 IST

Enter caption

क्रिकेट का खेल में नंबर और रिकॉर्ड्स काफ़ी मायने रखते हैं। इस ख़ूबसूरत से खेल में कई कीर्तिमान बनते हैं और कई टूटते भी हैं। बहुत सारे रिकॉर्ड्स क्रिकेट फ़ैंस के जहन में हमेशा ताज़ा रहते हैं तो कई रिकॉर्ड्स ऐसे भी हैं जिन्हें याद रखने की ज़हमत कोई नहीं उठाता। कई रिकॉर्ड्स दिलचस्प होते हैं तो कई दुखद, लेकिन इसी वजह से क्रिकेट का खेल आनोखा कहलाता है

हर किसी को सर डॉन ब्रैडमैन का टेस्ट में 99.94 का बल्लेबाज़ी औसत याद है। लेकिन किसी को भारत के बापू नाडकर्णी का वो रिकॉर्ड याद नहीं जब उन्होंने टेस्ट में लगातार 21 ओवर लगातार मेडेन फेंके थे। क्रिकेट के इतिहास में कई अनोखे रिकॉर्ड्स भी बने हैं जो वक़्त के साथ भूला दिए गए हैं।

इनमें से कुछ रिकॉर्ड्स इतने नाकारात्मक हैं कि उसे बनाने वाले खिलाड़ी याद नहीं रखना चाहेंगे। हम यहां ऐसे ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बने 5 रिकॉर्ड्स के बारे में चर्चा करेंगे जिसे काफ़ी कम लोग याद रखते हैं।


#5 टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज़्यादा बार बोल्ड आउट होने वाले बल्लेबाज़

Enter caption

सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि इस रिकॉर्ड को किसी और ने नहीं बल्कि भारत महान पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ ने बनाया है। द्रविड़ को ‘टीम इंडिया की दीवार’ कहा जाता है। आंकड़े बताते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वो सबसे ज़्यादा बार बोल्ड आउट हुए हैं।

द्रविड़ ने 164 टेस्ट मैच की 286 पारियों में 55 दफ़ा बोल्ड आउट हुए हैं, इसका मतलब ये है कि उनके टेस्ट करियर में 19.23 फ़ीसदी हिस्सेदारी बोल्ड आउट होने की है। इसके बाद सबसे ज़्यादा बार बोल्ड आउट होने का रिकॉर्ड भारत के ही सचिन तेंदुलकर के नाम है, वो इस मामले में वो द्रविड़ से महज़ एक कदम पीछे हैं।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर (53) और दक्षिण अफ़्रीका के महान ऑलराउंडर जैक्स कैलिस (46) इस मामले में क्रमश: तीसरे और चौथे स्थान पर कायम हैं। 

1 / 3 NEXT
Modified 20 Dec 2019, 19:27 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...