WIvIND: पहले टेस्ट से पहले विराट कोहली के सामने 5 परेशानियां

1

वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम रवाना हो चुकी है और पहले टेस्ट का इंतज़ार अब ख़त्म ही होने वाला है। दोनों ही टीमें 21 जुलाई से होने वाले टेस्ट से पहले मैदान में अभ्यास कर जीत के लिए खूब पसीना बहा रही हैं। भारतीय टीम के नए कोच अनिल कुंबले का सफर भी इसी सीरीज़ के साथ शुरू हुआ है और वो टीम के अभ्यास में उनका बखूबी साथ देते नज़र आ रहे हैं। भारतीय टीम इस सीरीज़ में प्रबल दावेदार दिख रही है और मेजबान को कड़ी टक्कर देने के लिए पूरी तरह तैयार भी है। सवाल ये उठता है कि इस सीरीज़ में भारतीय-XI में किस किस खिलाड़ी को जगह मिलेगी? क्या के एल राहुल को मौका मिलेगा? कप्तान विराट कोहली के लिए इन बातों पर फैसला करना बेहद कठिन हो रहा है कि किसको टीम में जगह दी जाए और किसको नहीं। अजिंक्य रहाणे, मुरली विजय, रिद्धीमान साहा, आर अश्विन जैसे खिलाड़ियों के अलावा और भी कई ऐसे नाम हैं जिन्हें टीम में जगह दी जानी चाहिए या नहीं ये कोहली के लिए एक बड़ा फैसला होगा। एक नज़र डालते हैं उन बातों पर जो कोहली के लिए टीम चयन में सामने आएंगी। #1 टीम कॉम्बिनेशन पहले मैच के लिए सही कॉम्बिनेशन चुनना कोहली के लिए एक बड़ा प्रेशर होगा। कुछ समय पहले जब भारतीय गेंदबाज़ टेस्ट मैचों में 20 विकेट लेने में असमर्थ रहते थे तब हमने ये देखा है कि कोहली 5 गेंदबाजों के साथ मैदान में उतरते थे। लेकिन पिछली सीरीज़ जो भारत ने खेली थी उसमें कोहली चार गेंदबाजों के साथ उतरे थे। अब ये देखना काफी दिलचस्प होगा कि कोहली किस कॉम्बिनेशन के साथ उतरते हैं। अगर कोहली चार गेंदबाजों के साथ उतरते हैं तो टीम में रोहित शर्मा छठे नंबर पर बल्लेबाज़ के तौर पर शामिल होंगे, पर अगर कोहली 6-5 के कॉम्बिनेशन के साथ उतरेंगे तो रोहित को बाहर बैठना होगा और उनकी जगह कोई गेंदबाज खेलेगा। अब देखना ये है कि कोहली 7-4 या 6-5 के कॉम्बिनेशन के साथ उतरते हैं। #2 दूसरा सलामी बल्लेबाज़ 2 चयनकर्ताओं ने इस सीरीज़ के लिए टीम में तीन सलामी बल्लेबाजों का चयन किया है। सलामी बल्लेबाज़ी करते हुए टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए मुरली विजय ने पिछले कुछ सालों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। दूसरे ओपनर की दौड़ में शिखर धवन और के एल राहुल के बीच में मुक़ाबला हो सकता है। जबकि देखा जाए तो विजय के साथ पिछले कुछ समय से धवन सलामी बल्लेबाज़ी करते आए हैं, हालांकि धवन लंबे फॉर्मेट में खुद को पूरी तरह साबित नहीं कर पाये हैं पर वार्म-अप मैच में अर्द्धशतक जमा कर चयनकर्ताओं के सामने एक विकल्प ज़रूर रख दिया है। दूसरी तरफ राहुल ने भी अपने 5 टेस्ट मैचों में दो शतक लगाकर चयनकर्ताओं के सामने खुद को साबित कर दिया है। साथ ही साथ पहले दो वार्म अप मैच में दो अर्द्धशतक लगाकर राहुल सलामी बल्लेबाज़ी के एक कड़े दावेदार हैं। #3 नंबर-3 पर कौन ? 3 किसी भी बल्लेबाज़ी क्रम में नंबर-3 की पोज़िशन सबसे अहम होती है चाहे वो टेस्ट हो या वनडे। पिछले कुछ दशक से इस जगह को राहुल द्रविड ने बखूबी संभाला है पर उनके संन्यास के बाद टीम की इस जगह को चेतेश्वर पुजारा संभाल रहे हैं। पुजरा इस नंबर पर बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे थे पर वो कुछ खराब दौर से गुजरने के कारण टीम से बाहर हो गए। उनकी जगह पर रोहित शर्मा को टीम में शामिल किया गया पर रोहित भी उस मौके को भुना नहीं पाये। रोहित के खराब प्रदर्शन की वजह से पुजरा को दोबारा टीम में शामिल किया गया। अब सवाल ये है कि क्या पुजरा नंबर-3 पर बल्लेबाजी करेंगे या फिर कप्तान कोहली इस जगह को अपनाएंगे? #4 बॉलिंग कॉम्बिनेशन 4 जैसा कि हमने पिछले स्लाइड में विचार विमर्श किया है कि कोहली के सामने टीम कॉम्बिनेशन क्या होगी, तो अगर कोहली 7-4 के कॉम्बिनेशन के साथ जाते हैं तो गेंदबाजी में दो तेज़ गेंदबाज और दो स्पिनर शामिल होंगे। पर अगर कप्तान कोहली 6-5 के कॉम्बिनेशन के साथ जाते हैं तो टीम में उनके लिए सर दर्द और भी बढ़ सकता है कि 3 तेज़ गेंदबाज और दो स्पिनर के साथ जाया जाए या फिर 2 तेज़ गेंदबाज और तीन स्पिनर के साथ उतरा जाए। कैरेबीयाई ट्रैक काफी धीमा होने के कारण अभ्ज्यास मैच में स्पिनर को काफी मदद मिली थी तो इसमें कोई ताजुब नहीं होगा अगर कोहली 3 स्पिनर के साथ उतरें। #5 भारतीय गेंदबाजी में ज़्यादा गेंदबाज की परेशानी 5 जैसा कि देखा जा रहा है भारतीय प्लेइंग-XI में आर अश्विन और ईशांत शर्मा की जगह तो पक्की दिखाई दे रही है। पर सवाल ये है कि इनके अलावा और कौन से गेंदबाज टीम में शामिल होंगे। तेज़ गेंदबाजों में कप्तान कोहली के सामने उमेश यादव और वरुण आरोन जैसे कई विकल्प हैं, पर शामी की टीम में वापसी से ये कोहली के लिए एक बड़ी समस्या होगी की ईशांत के साथ गेंदबाजी में कौन जगह पा सकेगा। अगर स्पिनर की बात की जाए तो अश्विन प्लेइंग-XI में पक्का है पर उनका साथ कौन देंगे रवीन्द्र जडेजा या फिर अमित मिश्रा? हो सकता है कि मिश्रा को जडेजा से पहले टीम में मौका दिया जाय। अब ये तो आने वाला वक़्त ही बता पाएगा कि कौन टीम में होगा और कौन होगा टीम से बाहर।

App download animated image Get the free App now