Create
Notifications

टेस्ट क्रिकेट के वो 5 रिकॉर्ड जो 2016 में टूटे

Modified 27 Dec 2016
पहले से ही टेस्ट क्रिकेट की हमेशा से आलोचना की जाती रही है और टी 20 का के आने के बाद इसका बुरा प्रभाव भी टेस्ट क्रिकेट पर पड़ा है। ये हमेशा से ही बहस का विषय रहा है। लेकिन 2016 क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में मील का पत्थर साबित हुआ है। 2016 टेस्ट क्रिकेट में रिकॉर्ड्स से भरा रहा है। वर्ल्ड टी 20, आईपीएल और तमाम टी 20 लीग्स के बावजूद टेस्ट क्रिकेट ने अपनी एक अलग जगह बरकरार रखी। हालांकि टेस्ट क्रिकेट को और ज्यादा रोमांचक बनाने और इस इसे नया रूप देने के लिए इसके साथ कई प्रयोग भी किए गए, मसलन डे –नाइट टेस्ट मैचों का आयोजन भी किया गया। आइए एक नजर डाल लेते हैं इस साल टूटने वाले 5 टेस्ट रिकॉर्ड्स पर: #5 टेस्ट क्रिकेट में ब्रैंडन मैकलम का सबसे तेज शतक 511639378-1482565389-800 पिछले एक दशक के अतंर्राष्ट्रीय करियर में अपनी तूफानी बैटिंग स्टाइल और विकेट के पीछे शानदार कीपिंग की वजह से ब्रैंडन मैकलम के चाहने वालों की फेहरिस्त बेहद लंबी है। मैकलम ने अपने प्रदर्शन के दमपर क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में भी अमिट छाप छोड़ी है। मैकलम ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में सफेद जर्सी में टेस्ट क्रिकेट का सबसे शतक लगाया। मैकलम ने अपने 101वें टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की जमकर धुनाई की। अपना 101वां टेस्ट खेलते ही मैकलम ने एक देश के लिए लगातार सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया। इससे पहले यह रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के ए बी डिविलियर्स के नाम था, जिन्होंने अपने देश के लिए लगातार 98 टेस्ट मैच खेले। मैकलम ने विवियन रिचर्ड्स और मिस्बाह उल हक से दो गेंद कम खेलकर टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाने का कारनामा किया। इससे पहले सबसे तेज टेस्ट शतक का रिकॉर्ड संयुक्त रूप से विवियन रिचर्ड्स और मिस्बाह उल हक के नाम था। जब मैकलम बल्लेबाजी करने उतरे तो उस समय न्यूजीलैंड का स्कोर 3 विकेट के नुकसान पर 32 रन था। लेकिन मैकलम ने इसकी परवाह ना करते हुए अपना नेचुरल गेम खेला और ग्राउंड के चारों और दमदार शाट्स लगाए हुए अपनी आखिरी टेस्ट पारी को यादगार बना दिया।
1 / 5 NEXT
Published 27 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now