5 बल्लेबाज़ी के असंभव से दिखने वाले रिकॉर्ड जो जल्द बन सकते हैं

पिछले करीब डेढ़ दशकों में क्रिकेट का खेल पूरी तरह बदल गया है, मुख्यत टी20 के आने की वजह से। शायद लोगों को इसका अंदेशा भी नहीं था की यह फॉर्मेट क्रिकेट पर अपनी इतनी छाप छोड़ देगा। टी20 क्रिकेट के शुरूआती दोनों में 140-150 का स्कोर अच्छा माना जाता था लेकिन अब मुश्किल परिस्थितियों में भी यह स्कोर छोटा लगता है। छोटे फॉर्मेट में बल्लेबाजों ने कई अलग तरह के शॉट खेलने शुरू कर दिए हैं जिससे रन तेजी गति से बनते हैं। अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट को शुरू हुए 13 साल हो चुके हैं और बल्लेबाज लगातार खतरनाक होते जा रहे हैं। बल्लेबाजी इतनी बदल गई है कि जो स्कोर कुछ समय पहले तक दूर नजर आते थे वह भी बनने लगे हैं। आज हम आपको ऐसे ही 5 रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं जो जल्द बन सकते हैं:

#1 टी20 में व्यक्तिगत दोहरा शतक

5 साल पहले जब क्रिस गेल ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की तरह से खेलते हुए पुणे वॉरियर्स के खिलाफ 175* रन बनाये थे तो पूरा क्रिकेट जगत चौंक गया था। वहीं हाल में ही जब आरोन फिंच ने ज़िम्बाब्वे के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय की सबसे बड़ी पारी खेली तो किसी को आश्चर्य नहीं हुआ। उन्होंने 172 रन बनाये थे। लोगों में उत्तेजना घटने के कई कारण हो सकते हैं। जैसे फिंच ने ये रन ज़िम्बाब्वे के खिलाफ बनाये थे जो रैंकिंग में 12वें स्थान पर है। इसका मतलब यह नहीं है ज़िम्बाब्वे के पास खिलाड़ी नहीं है। गेल ने भी यह रन पुणे के खिलाफ बनाये थे जो आईपीएल में कुछ खास नहीं कर पाई। सीमित ओवरों के खेल में बड़ा स्कोर बनना अब आम बात हो गयी है और इसी वजह से लोगों को बड़ा स्कोर बनने से आश्चर्य नहीं होता है। इससे पहले भी टी20 अंतरराष्ट्रीय का सबसे बड़ा स्कोर फिंच के नाम ही दर्ज था। अगर अब कोई बल्लेबाज दोहरा शतक बनाता है तभी लोगों को आश्चर्य होगा और यह जल्द बनता दिख सकता है। बल्लेबाज जिस तेजी से रन बनाने लगे हैं ऐसे में यह रिकॉर्ड भी ज्यादा दूर नहीं है।

#2 वनडे क्रिकेट में टीम द्वारा 500 का स्कोर

इंग्लैंड की टीम हाल में ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ समाप्त हुई सीरीज में 500 के स्कोर से मात्र 19 रन पीछे रह गयी। इंग्लैंड की पारी 481 रनों पर रुक गयी जबकि ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने अंतिम 4 ओवरों में सिर्फ 31 रन दिए थे। उसी दिन 19 जून 2018 को इंडिया ए ने लीस्टरशायर के खिलाफ 458 का स्कोर बनाया था। यह स्कोर लिस्ट ए क्रिकेट का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर था जिसे इंग्लैंड ने पीछे छोड़ दिया। हालांकि, लिस्ट ए क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर 496 है जो सरे ने 2007 में गूलस्टरशायकृर के खिलाफ बनाया था। सभी टीमों के पास हार्ड हिटिंग बल्लेबाज हैं जो तेजी से रन बनाने की तरफ़ देखते रहते हैं। इसके साथ ही कंडीशन और नियम भी उनके पक्ष में हैं। जिस तरह से क्रिकेट लगातार बल्लेबाजों के पक्ष में झुकता जा रहा है वैसे में अब वह दिन दूर नहीं कि टीम वनडे क्रिकेट में 500 रन बना देगी।

#3 टी20 में टीम द्वारा 300 का स्कोर

टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर ऑस्ट्रेलिया के नाम है जो उसने श्रीलंका के खिलाफ 2016 में बनाया था। उस मैच में ग्लेन मैक्सवेल ने 65 गेंदों पर 145 रनों की पारी खेली थी। आईपीएल 2013 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने भी 263 का स्कोर बनाया था। इसी मैच में गेल ने 175* रनों की पारी खेली थी। टी20 अंतर्राष्ट्रीय में सबसे बड़े स्कोर का रिकॉर्ड सबसे पहले श्रीलंका के नाम था। पहले टी20 विश्वकप में श्रीलंका ने केन्या के खिलाफ 260/6 का स्कोर बनाया था। हालांकि हाल ही में टी20 में केन्या ने बर्मुडा के ख़िलाफ़ 270 रन बनाते हुए नया रिकॉर्ड स्थापित कर दिया है, इस मैच को अंतर्राष्ट्रीय दर्जा नहीं हासिल था इसलिए ये टी20 का रिकॉर्ड है। जिस तरह से बल्लेबाज टी20 के विशेषज्ञ होते जा रहे हैं और मैदान भी छोटे होते जा रहे हैं। ऐसे में कभी भी टी20 मैच में 300 का स्कोर बन सकता है।

# वनडे क्रिकेट में तिहरा शतक

2010 में सचिन तेंदुलकर द्वारा वनडे क्रिकेट का पहला दोहरा शतक बनाने से पहले वनडे का व्यक्तिगत सर्वाधिक स्कोर 194 था जो सईद अनवर ने 1997 और चार्ल्स कोवेंट्री ने 2009 में बनाया था। पहला दोहरा शतक लगने में 2962 वनडे मैच लग गये। मास्टर ब्लास्टर के उस दोहरे शतक के बाद सबकुछ बदल गया और अगले करीब 1000 वनडे मैचों में 6 दोहरे शतक लग चुके हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि वनडे क्रिकेट भी कितना बदल गया है। वनडे क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर 264 रन है जो रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ बनाया था। बल्लेबाज अब जिस तरह बल्लेबाजी करने लगे हैं और नियम भी उनके पक्ष में बन चुके हैं। ऐसे में जल्द ही वनडे क्रिकेट में तिहरा शतक देखने को मिल सकता है।

#5 9 गेंदों में अर्धशतक

अब तक जितने भी रिकॉर्ड्स की बात हुई उसमें से सबसे मुश्किल और क़रीब क़रीब नमुमकिन जैसा रिकॉर्ड यही है, जिन्हें क्रिकेट के बारे में थोड़ा भी ज्ञान होगा उन्हें पता होगा कि अर्धशतक बनाने में कम से कम 9 गेंद चाहिए। अभी सबसे तेज ़अर्धशतक का रिकॉर्ड युवराज सिंह और क्रिस गेल के नाम है जिन्होंने 12 गेंदों में यह पचासा पूरा किया था। युवी ने पहले टी20 विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ यह पारी खेली थी वहीं गेल ने बिग बैश 2016 में एडिलेड स्ट्राइकर्स के खिलाफ ये रन बनाएं थे। आजकल सीमित ओवरों के खेल में जिस तरह की सपाट पिच बनने लगे हैं और बल्लेबाज जिस आसानी ने छक्के मारने लगे हैं, उसे देखते हुए यह रिकॉर्ड भी शायद जल्द बन जाये। इस रिकॉर्ड को बनाने का मतलब होगा कि लगातार 9 गेंदों पर छक्के लगाना, जो मुश्किल ज़रूर है लेकिन क्रिकेट में नमुमकिन कुछ भी नहीं। लेखक- विश्वनाथ रेड्डी अनुवादक- ऋषिकेश सिंह

App download animated image Get the free App now