Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IPL 2018: इस सीज़न में रिटेन किए गए 5 फ़्लाप खिलाड़ी

  • इस साल इन खिलाड़ियों को रिटेन करने का फ़ैसला ग़लत साबित हुआ
Modified 20 Dec 2019, 18:39 IST
साल 2018 की आईपीएल रिटेंशन पॉलिसी के तहत कोई भी टीम अपने 5 खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती थी। यहां मैच से पहले, सीधे रिटेन करने का रास्ता था और नीलामी के वक़्त, राइट टू मैच का भी इस्तेमाल किया गया था। खिलाड़ियों को टीम में बरक़रार रखने के लिए टीम के मालिकों ने काफ़ी ख़र्च किए हैं, लेकिन ऐसा हर फ़ैसला सही नहीं रहा है। कोलकाता नाइट राइडर्स टीम में गौतम गंभीर को रिटेन न किए जाने के फ़ैसले को लेकर काफ़ी सवाल उठाए गए थे, लेकिन केकेआर टीम के मालिकों का ये निर्णय सही साबित हुआ। गंभीर फ़िलहाल अच्छे फ़ॉर्म में नहीं चल रहे हैं। वो दिल्ली टीम के कप्तान बनाए गए थे, लेकिन टीम को एक के बाद एक मिली हार से निराश होकर गंभीर को कप्तानी से इस्तीफ़ा तक देना पड़ गया। इससे ये साबित होता है कि टीम में किसी खिलाड़ी को रिटेन करने की अहमियत क्या है। हम यहां ऐसे 5 खिलाड़ियों के बारे में चर्चा कर रहे हैं जिन्हें रिटेन करने का फ़ैसला टीम के नुकसानदेह रहा।

#5 सरफ़राज़ ख़ान


  सरफ़राज़ ख़ान पहली बार तब चर्चा में आए थे जब वो साल 2014 की आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए चुने गए थे। वो साल 2016 के भी अंडर-19 विश्व में शामिल हुए थे और उन्होंने उस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा अर्धशतक बनाया था। साल 2015 की आईपीएल नीलामी में उन्हें आरसीबी टीम ने ख़रीदा था, अपनी पहली आईपीएल टीम में सीनियर खिलाड़ियों का साथ मिला और उनके खेल में सुधार आया। साल 2018 में वो उन 3 खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्हें आरसीबी टीम ने रिटेन किया गया था, लेकिन वो इस साल कुछ ख़ास नहीं कर पाए। उन्होंने इस सीज़न में खेले गए 3 मैच में महज़ 11 रन बनाए हैं। वो आज प्लेइंग XI में अपने जगह बनाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं।
1 / 5 NEXT
Published 12 May 2018, 15:15 IST
Advertisement
Fetching more content...