Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

महेंद्र सिंह धोनी के ज़रिए की गई 7 मज़ाकिया टिप्पणियां जो स्टंप माइक में क़ैद हो गईं

ANALYST
Modified 18 Feb 2018, 17:45 IST
Advertisement

महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट टीम के शानदार खिलाड़ियों में से एक हैं। अपनी कप्तानी के दम पर महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया को काफी बुलंदियों तक पहुंचाने का काम किया। वहीं अपने बल्लेबाजी से भी महेंद्र सिंह धोनी ने सबको प्रभावित किया है। महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाज और एक पूर्व कप्तान के अलावा मैदान पर विकेटकीपिंग करने के लिए भी जाने जाते हैं। विकेटकीपिंग करते हुए मैदान पर महेंद्र सिंह धोनी फुर्ती बनाए रखते हैं। जिसके चलते उन्होंने मैदान पर कई ऐसे स्टंप भी किए हैं जिनको देखकर हर कोई हैरान रह जाए। महेंद्र सिंह धोनी अपने शांत स्वभाव के लिए भी जाने जाते हैं। इसके लिए ही उन्हें कैप्टन कूल के नाम से भी जाना जाता था। जिसके चलते मैदान पर वो कई बार अपने टीम के खिलाड़ियों से मजाकिया लहजे में बातचीत भी करते सुने गए हैं। अपने मजाकिया लहजे के चलते वो हर किसी के चहरे पर एक हल्की मुस्कान भी ला दिया करते हैं। मैदान पर विकेटकीपिंग करते हुए ऐसे काफी मौके आए हैं जब महेंद्र सिंह धोनी ने अपने मजाकिया लहजे में खिलाड़ियों को कुछ कहा हो। उनकी कई बार की गई टिप्पणी स्टंप माइक में भी कैद हो चुकी हैं। हाल ही में खेली गई भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज में भी धोनी स्टंप के पीछे से टिप्पणी करते हुए सुनाई दिए। उन्होंने कहा था 'ये आधा खेलेगा'. ये बात उन्होंने गेंदबाजी कर रहे जसप्रीत बुमराह से कही थी। इस दौरान डेविड मिलर बल्लेबाजी कर रहे थे। उनके कहे मुताबिक ही मिलर थोड़ा दौड़े और क्रॉस-बल्लेबाजी शॉट खेला। ये डिलीवरी उनके बल्ले से छूती हुई सीधा विकेटकीपर एमएस धोनी के हाथ में चली गई और मिलर को अपना विकेट गंवाना पड़ गया था। वहीं इस सीरीज के पांचवे वनडे मुकाबले में महेंद्र सिंह धोनी ने चहल से कहा 'जोर से कैच आएगा फिर मेरे को मत बोलना'। इसक अगले ओवर में ही बाएं हाथ के बल्लेबाज मिलर ने एक तेजतर्रार शॉट खेला। परिणामस्वरूप लेग-स्पिनर ने उस कैच को छोड़ दिया। आईए जानते हैं महेंद्र सिंह धोनी के जरिए मैदान पर की कई गई ऐसी ही कुछ मजेदार टिप्पणियों के बारे में, साथ ही इस वीडियो में भी आप देख सकते हैं धोनी के कुछ मज़ाकिया कमेंट जो माइक में हुए हैं क़ैद।  

   

# 7 जब रैना ने अपनी लाइन और लेंथ गंवा दी

  साल 2015 के एकदिवसीय विश्व कप में आयरलैंड के खिलाफ भारत के मुकाबले में सुरेश रैना पारी के मध्य ओवरों में विलियम पोर्टरफील्ड को गेंदबाजी कर रहे थे। इसके बाद धोनी ने रैना को लेकर टिप्पणी की। उदाहरण के तौर पर 36 वर्षीय रैना अपनी लाइन और लेंथ को बरकरार रखने के लिए वॉलीबॉल का इस्तेमाल कर रहे हों। बल्लेबाज क्रीज पर खड़ा होने के लिए कैसे संघर्ष कर रहा है, ये बताने के लिए धोनी ने रैना से कहा 'वो वॉलीबॉल की तरह खड़ा हुआ है बीच में'। इसके बाद ऑफ-स्पिनर रैना ने अपनी लाइन और लेंथ में सुधार करते हुए 10 ओवर में 40 रन देकर और एक विकेट अपने नाम करते हुए ओवरों की समाप्ति की।
1 / 7 NEXT
Published 18 Feb 2018, 17:45 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit