Create
Notifications

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंचने वाले भारतीय बल्लेबाजों पर एक नजर

ऋषि
visit

भारतीय टीम में हमेशा एक से बढ़कर एक बल्लेबाज पैदा हुए हैं। सीके नायडू से लेकर विराट कोहली तक भारतीय टीम ने एक से बढकर एक स्टार देखे हैं। इन खिलाड़ियों की गिनती न सिर्फ महान खिलाड़ियों में होती है बल्कि इन्होंने अपने देश के लिए ऐसा खेल दिखाया जिससे भारतीय क्रिकेट को एक पहचान मिली। इन खिलाड़ियों ने अपने करियर के कई बड़े रिकॉर्ड बनाएसी वजह से कई खिलाड़ी आईसीसी रैंकिंग में पहला स्थान पर पहुंचे। विराट कोहली ऐसे 7वें भारतीय खिलाड़ी हैं, जोकि आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंचे। अब हम आपको उन भारतीय बल्लेबाजों के बारे में बताएंगे जिन्हें आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहला स्थान हासिल हुआ है।

#7 सुनील गावस्कर

सुनील गावस्कर ने एक युवा खिलाड़ी से लेकर दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज बनने तक का सफर तय किया। 1987 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में संन्यास लेने से पहले उन्होंने एक बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए। वह पहले क्रिकेटर थे जिन्होंने टेस्ट मैचों में दस हजार रन और 30 से ज्यादा टेस्ट शतक लगाए। गावस्कर ने उस समय क्रिकेट खेला जिस समय दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज खेला करते थे। हालांकि अपनी मजबूत तकनीक की बदौलत उन्होंने दुनिया के हर देश में जाकर रन बनाए। मुंबई का यह बल्लेबाज 70 के दशक में अपने खेल के चरम पर था और इसी दौरान वह रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंचे। उन्होंने 1979 में इंग्लैंड के खिलाफ 916 रेटिंग पॉइंट हासिल किए। यह भारतीय बल्लेबाजों में विराट कोहली के बाद सबसे ज्यादा है। #6 दिलीप वेंगसरकर दिलीप वेंगसरकर भारतीय क्रिकेट के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। महाराष्ट्र के इस बल्लेबाज ने दुनिया के हर कोने में जाकर रन बनाए हैं और यही इनकी खासियत थी। 1983 विश्वकप में भारत की जीत के बाद वह भारतीय बल्लेबाजी के स्तंभ बन गए थे। साल 1983 से 1987 के बीच इस मध्यक्रम के बल्लेबाज ने सुनील गावस्कर, विव रिचर्ड्स, एलेन बॉर्डर और क्लाइव लॉयड जैसे बल्लेबाजों को पछाड़ कर रैंकिंग में पहला स्थान हासिल किया। वेंगसरकर 1988 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 837 रेटिंग के पॉइंट के साथ पहले स्थान पर पहुंचे थे।

#5 सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट इतिहास के सबसे महान बल्लेबाज कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर को इस सूची में देखकर किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिए। साल 1989 में मात्र 16 साल की उम्र में टेस्ट डेब्यू करने वाले सचिन ने जल्द ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी अलग पहचान बनाई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले सचिन के नाम अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे ज्यादा शतक भी दर्ज है। उन्होंने टेस्ट में 51 और वनडे में 49 शतकीय पारियां खेली हैं। कुल मिलाकर अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनके 100 शतक हैं। अपने 24 साल लंबे करियर के दौरान वह कुल 1157 दिनों तक टेस्ट में नंबर एक पर बने रहे। उन्होंने अपनी सर्वाधिक रेटिंग जनवरी 2011 में हासिल की।

#4 राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ ऐसे बल्लेबाज थे, जिनसे सभी खिलाड़ी प्रेरणा लेते रहेंगे। सचिन तेंदुलकर के भारतीय टीम में होने की वजह से उन्हें वह ख्याति नहीं मिली जिसके वो हक़दार थे। इसके बावजूद क्रिकेट इतिहास में उन्हें अपनी क्लास के लिए हमेशा याद किया जाएगा। अपने पूरे करियर में भारतीय टेस्ट टीम का अभिन्न अंग रहे द्रविड़ ने कई मौकों पर टीम के संकटमोचन बनकर खड़े रहे। इसी वजह से उन्हें भारतीय क्रिकेट का “द वॉल” नाम दिया गया। वह काफी समय तक टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पर बने रहे और इस दौरान उनकी सर्वाधिक रेटिंग 892 रही।

#3 गौतम गंभीर

गौतम गंभीर टेस्ट मैचों में भारतीय टीम के लिए शानदार बल्लेबाज रहे हैं। वो स्पिन और तेज़ गेंदबाजी दोनों को ही अच्छे से खेलते हैं। वीरेंद्र सहवाग के साथ मिलकर उन्होंने कई यादगार साझेदारी भी की। 2007 टी-20 विश्वकप और 2011 क्रिकेट विश्वकप के फाइनल के हीरो रहे गंभीर ने इन दोनों के बीच में टेस्ट क्रिकेट में भी जबरदस्त सफलता हासिल की। 2009 उनके लिए सबसे शानदार साल रहा जहाँ उन्होंने आईसीसी टेस्ट क्रिकेटर ऑफ़ द ईयर का अवार्ड भी जीता। वह कुछ समय के लिए 886 रेटिंग पॉइंट के साथ टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर भी रहे थे।

#2 वीरेंद्र सहवाग

क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में एक जैसी बल्लेबाजी करने की वजह से वीरेंद्र सहवाग क्रिकेट जगत में एक अलग मुकाम रखते हैं। सलामी बल्लेबाज के रूप में टेस्ट मैचों में भी वह गेंदबाजों पर टूट कर पड़ते थे और उन्होंने टेस्ट में बल्लेबाजी की परिभाषा ही बदल दी। “नजफगढ़ के नवाब” नाम से मशहूर सहवाग के पास किसी भी गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाने की क्षमता थी। वह एक मैच विनर बल्लेबाज थे जो अपने दम पर किसी भी परिस्थिती से मैच अपनी टीम की तरफ मोड़ देते थे। साल 2010 में वह श्रीलंका के खिलाफ लगातार 2 शतक बनाकर टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंचे। इस दौरान उनकी रेटिंग पॉइंट 866 थी।

#1 विराट कोहली

इस सूची में नया नाम वर्तमान भारतीय कप्तान विराट कोहली का जुड़ा है। क्रिकेट के सबसे महानतम बल्लेबाज बनने की ओर अग्रसर कोहली ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शानदार शतकीय पारी खेलकर यह मुकाम हासिल किया। इंग्लिश सरजमीं पर पिछली बार पूरी तरफ फेल रहे कोहली ने इस बार पहले ही मैच की दोनों पारियों में कुल मिलाकर 200 रन बनाकर सभी का मुंह बंद कर दिया। इसी के साथ उन्होंने एक साल का बैन झेल रहे स्टीव स्मिथ को भी टेस्ट रैंकिंग में पीछे छोड़ पहला स्थान हासिल कर लिया।उनके अभी 934 रेटिंग पॉइंट है जो भारतीय क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा है। कोहली ने इस मामले में सुनील गावस्कर (916) को पीछे छोड़ दिया है । लेखक: कव्वाली तेजा अनुवादक: ऋषिकेश सिंह

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now