Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

7 भारतीय क्रिकेटर जो भाग्यशाली रहे कि उन्हें वर्ल्ड कप टीम में चुना गया (1999-2019)

  • इस लिस्ट में कई हैरान कर देने वाले नाम शामिल हैं
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 20 Dec 2019, 22:56 IST

Enter caption

हर चार साल बाद आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए जब भी भारतीय टीम का चयन होता है तो कुछ आश्चर्यजनक नाम देखने को मिलते हैं। काफी बार ऐसा हुआ है कि जब टीम में अनुभवहीन खिलाड़ियों को चुना गया है लेकिन वे अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं या उन्हें खेलने का मौका ही नहीं मिला। 

तो यहां हम उन 7 खिलाड़ियों पर एक नज़र डालेंगे जिनकी किस्मत अच्छी थी कि उन्होंने वर्ल्ड कप के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम में जगह बनाई:

#1. अमय खुरासिया (1999)

Amay Khurasiya

1999 में पेप्सी कप में श्रीलंका के खिलाफ अपने डेब्यू मैच में शानदार अर्धशतक जड़ने के बाद अमय खुरासिया को 1999 में भारत की वर्ल्ड कप टीम में चुना गया था। लेकिन अपना पहला और एकमात्र वर्ल्ड कप खेल रहे खुरासिया को एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला।

उन्हें अपने आक्रमक खेल के कारण टीम में शामिल किया गया था लेकिन धीरे-धीरे विरोधी गेंदबाज़ों ने उनकी कमज़ोरियाँ को भांप लिया, जिसकी वजह से उनका प्रदर्शन कम से कमतर हो गया और अंततः 2011 में उन्हें अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कहना पड़ा। खुरासिया ने अपने करियर में भारत के लिए केवल 11 वनडे मैच खेले।

#2. सदगोपन रमेश (1999)

Sadagoppan Ramesh

सदगोपन रमेश ने अपने करियर की शुरुआत में भारत ए के लिए कुछ शानदार पारियां खेलीं थी, जिसने चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित किया। इसके बाद उन्हें 1999 में भारत की वर्ल्ड कप टीम में चुना गया।

Advertisement

वर्ल्ड कप के लगभग सभी मैचों में उन्होंने भारत के लिए ओपनिंग की। उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ 55 और केन्या के खिलाफ 44 रनों की कुछ अहम पारियां खेलीं। इसके अलावा, रमेश ने अपने पहले 12 टेस्ट मैचों में लगभग 50 के औसत से रन बनाए थे लेकिन उसके बाद वह अपने प्रदर्शन को बरकरार नहीं रख सके और जल्द ही सभी प्रारूपों में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया।

#3. संजय बांगर (2003)

संजय बांगर, ने 2001 में अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में और 2002 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट मे एक ऑल-राउंडर के रूप में शानदार प्रदर्शन किया था। हालांकि, 2003 में वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में नए थे, लेकिन फिर भी उन्हें वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया।

पर बांगर को किसी भी मैच में प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने का मौका नहीं मिला क्योंकि नंबर 7 पर दिनेश मोंगिया टीम की पहली पसंद थे और वो गेंदबाज़ी भी कर सकते थे।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 3 NEXT
Published 06 May 2019, 11:45 IST
Advertisement
Fetching more content...