COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

विश्व एकादश टीम जो वनडे में ऑस्ट्रेलिया को मात दे सकती है

13   //    21 Jul 2018, 11:38 IST

क्रिकेट इतिहास में हमें कई महान खिलाड़ी को देखने का मौका मिला है, जिन्होंने इस खेल को नई ऊंचाइयां दी हैं। स्ट्रोक मास्टर सर डॉन ब्रैडमैन से लेकर विराट कोहली की बेख़ौफ़ बल्लेबाज़ी, डेनिस लिली की पेस गेंदबाज़ी से लेकर वसीम अकरम की रिवर्स स्विंग गेंद, पारंपरिक फिरकी गेंदबाज़ी से आधुनिक स्पिन बॉलिंग, जॉन्टी रॉड्स की फ्लाइंग थ्रो से लेकर जडेजा की ज़बरदस्त फ़ील्डिंग तक सब कुछ क्रिकेट में देखने को मिला है। कई खिलाड़ियों ने तो क्रिकेट को देखने का नज़रिया ही बदल दिया है।

हांलाकि खिलाड़ी किसी भी खेल का अहम हिस्सा होते हैं, लेकिन हमें ये बात नहीं भूलनी चाहिए कि क्रिकेट एक टीम गेम है। एक खिलाड़ी अपने दम पर टीम के लिए ज़रूरी योगदान दे सकता है लेकिन अगर जीत हासिल करनी है तो पूरी टीम को मिलकर खेलना होता है। 1970 के दशक की वेस्टइंडीज़ टीम और 21वीं सदी के पहले दशक की ऑस्ट्रेलियाई टीम विश्व की सबसे बेहतरीन टीम्स में से एक थी। इन दोनों टीम्स ने दशकों तक विश्व क्रिकेट पर राज किया है। आपको याद होगा कि साल 2005 में आईसीसी सुपर सीरीज़ आयोजित हुई थी जो वर्ल्ड XI और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई थी। इस सीरीज़ में 3 वनडे और 1 टेस्ट मैच खेला गया था। ऑस्ट्रेलिया ने ये सभी मैच अपने नाम किए थे।

स्टार खिलाड़ियों से भरी वर्ल्ड XI टीम भी ऑस्ट्रेलियाई बाधा पार करने में नाकाम रही, लेकिन आज अगर ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ विश्व एकदाश टीम तैयार कर दी जाए तो शायद हालात वैसे नहीं होंगे जैसे कि साल 2005 में हुए थे। हम यहां विश्व के बेहतरीन खिलाड़ियों को मिलाकर विश्व एकदाश टीम तैयार कर रहे हैं जो ऑस्ट्रेलिया एकादश को हराने की ताक़त रखती है।

ओपनर (शिखर धवन और रोहित शर्मा)



मौजूदा दौर की बात करें तो भारतीय सलामी जोड़ी से बेहतर ओपनिंग कोई और नहीं कर सकता। हांलाकि इनके पास कुछ नाकामियां भी हाथ आई हैं, लेकिन ज़्यादातर मौकों पर ये जोड़ी हिट रही है। 76 वनडे पारियों में इस जोड़ी ने 45 की औसत से 3382 रन बनाए हैं। शिखर धवन और रोहित शर्मा ने मिलकर कई सालों से भारतीय बल्लेबाज़ी में जान फूंक दी है। रोहित की बल्लेबाज़ी का औसत साल 2016 में 63 के आसपास था जो साल 2017 में 70 के पार जा पहुंचा। धवन का औसत 50 के आसपास है और वो कई मौके पर टीम इंडिया के अहम योगदान देते हैं। विश्व एकादश में ये जोड़ी धमाल मचा सकती है।

1 / 5 NEXT
Advertisement
Fetching more content...