Create

"गुरबाज या साहा को आजमाने का समय आ गया है" - पूर्व खिलाड़ी ने मैथ्यू वेड को ड्रॉप करने की दी सलाह 

मैथ्यू वेड बल्ले के साथ पूरी तरह नाकाम रहे
मैथ्यू वेड बल्ले के साथ पूरी तरह नाकाम रहे

पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का मानना है कि गुजरात टाइटंस को मैथ्यू वेड (Matthew Wade) से आगे बढ़ना चाहिए और स्क्वाड में शामिल अन्य विकेटकीपर-बल्लेबाजों को मौका देना चाहिए। लगभग एक दशक से ज्यादा के समय के बाद आईपीएल (IPL) में वापसी करने वाले वेड अभी तक खराब प्रदर्शन ही करते आये हैं।

शुभमन गिल के जोड़ीदार के रूप में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने पांच मैच खेले हैं और 13.60 की औसत से 68 रन का ही योगदान दिया है। ऐसे में स्क्वाड में शामिल रमानुल्लाह गुरबाज या फिर रिद्धिमान साहा को टीम में शामिल किये जाने की चर्चा हो रही है। चोपड़ा ने गुजरात के टीम मैनेजमेंट से चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ इन दोनों में से किसी एक को मौका देने का आग्रह किया है।

अपने यूट्यूब चैनल पर उन्होंने कहा,

गुजरात की बल्लेबाजी को लेकर कुछ चिंता है। शुभमन गिल को रन बनाने होंगे क्योंकि मैथ्यू वेड बिल्कुल भी रन नहीं बना रहे हैं। पांच मैच हो चुके हैं, इसलिए रहमानुल्ला गुरबाज या रिद्धिमान साहा को आजमाने का समय आ गया है। साई सुदर्शन 3 पर विजय शंकर से बेहतर विकल्प होंगे। अभिनव मनोहर ने बल्ले से अच्छा काम किया है।

साई सुदर्शन ने दो मैचों में 46 रन बनाये और इस दौरान एक मैच में 35 रन की पारी खेली थी। वहीं विजय शानदार का प्रदर्शन खराब रहा है और उन्होंने तीन मैचों में महज 19 रन बनाये हैं।

गुजरात टाइटंस को हार्दिक पांड्या पर अधिक निर्भर नहीं रहना चाहिए - आकाश चोपड़ा

🆕 episode of our #InTheLockerRoom series. 👀 Captain Pandya address the team for the first time this #SeasonOfFirsts! #AavaDe #RRvGT https://t.co/wVxiL8890l

गुजरात टाइटंस ने अपने पांच में से चार मैचों में जीत हासिल की है। इन मैचों में कप्तान हार्दिक पांड्या का बल्ले के साथ काफी योगदान रहा है लेकिन आकाश चोपड़ा ने कहा कि टीम को बल्लेबाजी में हार्दिक के ऊपर बहुत अधिक निर्भर नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा,

हार्दिक पांड्या ने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की है, लेकिन वह भी किसी न किसी स्तर पर जल्दी आउट हो जाएंगे। ऐसा नहीं है कि वह हर बार आकर बड़े रन बनाने वाले हैं। गेंदबाजी में कोई चिंता नहीं है, लेकिन बल्लेबाजी एक समस्या है। डेविड मिलर ने एक मैच में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन वह उतना अच्छे नहीं रहे हैं। राहुल तेवतिया बहुत कम बल्लेबाजी कर रहे हैं और इसलिए उनके लिए अवसर सीमित हैं।

पांड्या आईपीएल 2022 में बल्ले से जबरदस्त फॉर्म में हैं। पांच मैचों में, उन्होंने 76 की औसत और 136.53 की स्ट्राइक रेट से 228 रन बनाए हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment