Create

आकाश चोपड़ा ने आईपीएल रिटेंशन पॉलिसी में नई टीमों के लिए बताई सबसे बड़ी दिक्कत

आईपीएल की रिटेंशन लिस्ट जारी हो गई है
आईपीएल की रिटेंशन लिस्ट जारी हो गई है
reaction-emoji
Nitesh

आईपीएल 2022 (IPL) के लिए रिटेंशन पॉलिसी का ऐलान हो गया है। इसके तहत सभी पुरानी टीमें चार-चार प्लेयर्स को रिटेन कर सकती हैं। वहीं जो दो नई टीमें आई हैं वो ड्रॉफ्ट के जरिए तीन प्लेयर्स का चयन कर सकती हैं। हालांकि पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने दोनों नई टीमों के लिए एक बड़ी दिक्कत के बारे में बताया है।

आकाश चोपड़ा के मुताबिक ड्रॉफ्ट के जरिए तीन भारतीय खिलाड़ी हासिल करने के लिए नई टीमों के पास मौका ही नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि अगर सभी आठ टीमें 3-3 भारतीय खिलाड़ियों को रिटेन करती हैं तो फिर 24 खिलाड़ी तो वैसे ही जाएंगे। इसके बाद दोनों नई टीमों के लिए बेहतरीन भारतीय खिलाड़ी बचेंगे ही कहां।

आईपीएल के आगामी सीजन से अहमदाबाद और लखनऊ दो नई टीमें आ रही हैं। इसके बाद टूर्नामेंट में टीमों की संख्या बढ़कर 10 हो जाएंगी और कुल 74 मुकाबले अब खेले जाएंगे। दो नई टीमें आने की वजह से अगले साल मेगा ऑक्शन भी होना है और इसी वजह से सभी टीमों को रिटेन और रिलीज करने का विकल्प दिया गया है।

नई रिटेंशन पॉलिसी के मुताबिक पुरानी आठों टीमें चार प्लेयर्स को रिटेन कर सकती हैं। वे चाहें तो तीन भारतीय और एक विदेशी या फिर दो भारतीय और दो विदेशी प्लेयर्स को रिटेन कर सकती हैं। इसके अलावा जो दो नई टीमें हैं वो ऑक्शन से पहले ड्रॉफ्ट के जरिए तीन खिलाड़ियों का चयन कर सकती हैं। इनमें दो भारतीय और एक विदेशी प्लेयर का चयन किया जा सकता है।

नई टीमों को बेहतरीन भारतीय खिलाड़ी नहीं मिल पाएंगे - आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर रिटेंशन पॉलिसी को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, "चार खिलाड़ी रिटेन किए जा सकते हैं और ये काफी बड़ा नंबर है। दिक्कत ये है कि अगर सभी टीमें औसतन तीन प्लेयर्स का चयन करें और वो सारे इंडियन ही हों तो फिर 24 खिलाड़ी तो वैसे ही हो जाएंगे। इसके बाद नई फ्रेंचाइजी को भारतीय खिलाड़ी कहां से मिलेंगे ?"


Edited by Nitesh
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...