Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

कप्तानी छूटने से ज्यादा निराश नहीं होंगे महेंद्र सिंह धोनी : एडम गिलक्रिस्ट

  • गिलक्रिस्ट ने पुणे टेस्ट में टीम की स्थिति के बारे में भी विचार प्रकट किए
ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 21:16 IST

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने कहा है कि महेंद्र सिंह धोनी कप्तानी छूटने से अधिक निराश नहीं होंगे और उनका मानना है कि भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज अपने खेल का पूरा लुत्फ़ उठाएंगे। गिलक्रिस्ट ने मुंबई मिरर को दिए इंटरव्यू में कहा, 'बल्लेबाजी, कीपिंग और कप्तानी एक समय में करना आसान काम नहीं है। मुझे नहीं लगता कि कप्तानी छूटने के बाद धोनी निराश हुए होंगे। उन्होंने वह सब कुछ हासिल किया जो संभवतः क्रिकेट में हासिल करने की जरुरत होती है। उन्होंने आईसीसी की सभी ट्रॉफियां जीती। मेरे ख्याल से वह सीमित ओवरों के खेल में अपनी उपस्थिति का पूरा लुत्फ़ उठाएंगे। पिछले 10-15 वर्षों में वह सबसे उत्सुक क्रिकेटरों में से एक रहे हैं।' पिछले शनिवार को ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रन के विशाल अंतर से हराया और इस नतीजे के बारे में बात करते हुए 46 वर्षीय ने कहा कि उन्हें स्टीव स्मिथ के नेतृत्व वाली टीम से भारत को मात देने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसी उम्मीद नहीं थी कि वह तीन दिन में ही मेजबान टीम को हरा देगी।
यह भी पढ़े : एमएस धोनी की कप्तानी का एक रिकॉर्ड, जिसे विराट कोहली कभी नहीं तोड़ सकेंगे गिलक्रिस्ट ने कहा, 'मुझे ऐसी संभावना था कि ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत को हरा सकती है, लेकिन तीन दिन में ही मैच ख़त्म करने की उम्मीद नहीं थी। मेरे विचार थे कि मैट रेनशॉ और पीटर हैंड्सकोंब के पास भारत में खेलने का अनुभव नहीं है, लेकिन दोनों ने बेहतरीन तैयारी की उस विकेट पर शानदार प्रदर्शन किया जो कि स्तर की नहीं थी। सबसे बड़ी बात कि ऑस्ट्रेलिया ने अच्छे से जीत दर्ज की और अब सीरीज को बेहद रोमांचक बना दिया। भारतीय टीम ऐसी परिस्थितियों में बेहतर खेलती है, लेकिन वह खुद को कोस रही होगी। वह दमदार वापसी की तैयारियों में जुटी होगी।' यह भी पढ़े : टेस्ट मैच के तीसरे दिन से टर्न लेना शुरू कर देगी बैंगलोर की पिच इस वर्ष आईपीएल नीलामी से एक दिन पहले धोनी को राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की कप्तानी से हटा दिया गया और उनकी जगह ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ को यह जिम्मेदारी सौंपी गई। जब 35 वर्षीय धोनी ने जनवरी में भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ी थी, तब उन्होंने आईपीएल और अपने राज्य झारखंड टीम का नेतृत्व करने के संकेत दिए थे। मगर अब उन्हें एक खिलाड़ी के रूप में ही खेलना होगा। बहरहाल, धोनी अपनी राज्य टीम झारखंड का विजय हजारे ट्रॉफी में नेतृत्व कर रहे हैं। इसके बाद उनकी प्राथमिकता आईपीएल होगी। उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में छत्तीसगढ़ के खिलाफ जोरदार शतक जमाया और टीम को जीत भी दिलाई।

Published 28 Feb 2017, 15:11 IST
Advertisement
Fetching more content...