Create
Notifications
Advertisement

उद्घाटन टेस्ट हारने के बाद भी अफगानिस्तान की टीम को उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए: सौरव गांगुली

  • उन्होंने एक कॉलम में यह बात लिखी है
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018, 20:22 IST

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने अफगानिस्तान की टीम को कहा है कि 2 दिन में टेस्ट मैच हारकर उन्हें निराश नहीं होना चाहिए। टाइम्स ऑफ़ इंडिया के लिए कॉलम में उन्होंने कहा कि असगर स्टैनिकजई की टीम एक पारी और 262 रनों से हारने के बाद अपने खेल में सुधार कर सकती है। दादा ने कहा कि इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि मेहमान टीम की हार हुई लेकिन ऐसा भी किसी ने नहीं सोचा था कि ये दो दिन में हार जाएंगे। उन्हें यह याद नहीं रखना चाहिए कि मैच कितने दिन चला बल्कि यह सोचना चाहिए कि दो दिनों के खेल के बाद हमें किन चीजों पर सुधार करने की आवश्यकता महसूस हुई है। आगे पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि ऐसा कई टीमों के साथ हुआ है। जब श्रीलंका, बांग्लादेश और जिम्बाब्वे की टीमें टेस्ट क्रिकेट में आई थी तो उनके साथ भी यह घटित हुआ था। समय के साथ सब ठीक हो जाता है। आयरलैंड को भी समय देने की जरूरत है। बल्लेबाजों को लेकर गांगुली ने कहा कि अफगानिस्तान के बल्लेबाजों को सफल होने के लिए धैर्य दिखाने की जरूरत है। वे अभी भी टी20 मूड में हैं और खेलते समय फुटवर्क की कमी उनमें साफ़ तौर पर देखी गई थी। राशिद खान के बारे में उन्होंने कहा कि यह 19 वर्षीय लेग स्पिनर पूर्व भारतीय दिग्गज अनिल कुंबले से बातचीत करके सीख सकता है। गौरतलब है कि राशिद खान ने 154 रन देकर 2 विकेट झटके थे और उनकी लाइन भी काफी खराब थी। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 474 रन बनाए थे। जवाब में अफगानिस्तान की पूरी टीम दूसरे दिन में दो बार आउट हो गई थी। पहली पारी में मेहमान टीम ने 109 रन बनाए थे। इसके बाद फॉलोऑन खेलते हुए दूसरी पारी भी 103 रनों पर समाप्त हो गई थी।

Published 18 Jun 2018, 19:29 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit