COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

97 रन पर ही बल्ला उठाकर अंजिक्य रहाणे ने शतक के लिए किया अभिवादन, सुरेश रैना ने सुधारी गलती

न्यूज़
941   //    29 Oct 2018, 15:12 IST

Enter caption
Enter caption

अजिंक्य रहाणे के नाबाद 144 और विकेटकीपर बल्लेबाज इशान किशन की 114 रनों का पारियों की बदौलत भारत सी ने भारत बी को हराकर देवधर ट्रॉफी अपने नाम कर ली। भारत सी के कप्तान की शतकीय पारी के साथ इस मैच में एक ऐसी घटना भी देखने को मिली जो वाकई हास्यास्पद थी। अजिंक्य रहाणे के इस शतकीय पारी के दौरान कुछ ऐसा हुआ जिससे सभी हैरान रह गए।

 दरअसल 37वें ओवर में 97 रन पर खेल रहे रहाणे ने गेंद को लॉन्गऑन की तरफ खेला और एक रन लेकर शतक के लिए अपना बल्ला हवा में उठाया, लेकिन कमेंटेटर्स ने बताया कि रहाणे अब भी शतक से दूर हैं। उनके साथी खिलाड़ी सुरेश रैना ने रहाणे को बताया कि वह अब भी शतक से तीन रन दूर हैं। इसके बाद रहाणे मुस्कराए और खेल को आगे जारी रखा। इसके बाद मैदान पर भी सभी हंसने लगे। बीसीसीआइ ने भी अपने ऑफिशियल टि्वटर हैंडल से इस मजेदार वीडियो को भी शेयर किया है।





दरअसल, स्कोर बोर्ड में गलती से रहाणे के 97 के स्कोर को 100 रन दिखा दिया गया था। इसी वजह से रहाणे 97 रन पर समझ बैठे कि उन्होंने सैकड़े का आंकड़ा छू लिया है और गलतफहमी का शिकार हो गए। स्कोर बोर्ड की इस गलती के बावजूद भी रहाणे अपने शतक से नहीं चूके। उन्होंने न सिर्फ अपना शतक पूरा किया बल्कि नाबाद 144 रनों की लाजवाब पारी भी खेल डाली। ये स्कोर रहाणे का वनडे क्रिकेट फॉर्मेट में अब तक का सबसे बड़ा स्कोर साबित हुआ।

टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी भारत सी को कप्तान अजिंक्य रहाणे और विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने शानदार शुरूआत दिलाई। रहाणे ने 156 गेंद में नाबाद 144 रन की पारी में नौ चौके और तीन छक्के लगाए। इन दोनों ने मिलकर 210 रनों की साझेदारी की। 

352 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत बी के लिए कप्तान श्रेयस अय्यर ने 114 गेंद में 11 चौके और आठ छक्कों की मदद से 148 रन बनाए लेकिन उनकी पारी टीम को जीत दिलाने के लिए काफी नहीं थी। जब तक वह क्रीज पर थे टीम जीत की ओर बढ़ रही थी लेकिन उनके आउट होते ही पारी लड़खड़ा गई। 

Topics you might be interested in:
ANALYST
write interesting cricket stuff
Fetching more content...