Create

"यह चयनकर्ताओं का निर्णय था, मेरे वश में कुछ नहीं था", टेस्ट उपकप्तानी से हटाए जाने पर अजिंक्य रहाणे की आई प्रतिक्रिया 

अजिंक्य रहाणे ने हाल ही में कई अहम बातों का खुलासा किया है
अजिंक्य रहाणे ने हाल ही में कई अहम बातों का खुलासा किया है

भले ही अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक सीरीज जीत हासिल की थी, लेकिन बल्लेबाजी में लगातार अच्छा प्रदर्शन न करने के कारण वे काफी मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। इसी के साथ दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले उन्हें टेस्ट उपकप्तान के पद से भी हटा दिया गया था।

खराब प्रदर्शन के कारण समय दर समय रहाणे को टेस्ट टीम से बाहर करने की मांग भी की जाती रही है। हाल ही में बीते दक्षिण अफ्रीका दौरे पर उन्होंने 6 पारियों में मात्र 136 रन बनाए थे। इस सीरीज में भारतीय टीम को 2-1 से हार का सामना भी करना पड़ा था। इसके अलावा 2021 में रहाणे का टेस्ट क्रिकेट में प्रदर्शन भी बेहद खराब रहा।

जब चयनकर्ताओं ने अजिंक्य रहाणे की जगह रोहित शर्मा को टेस्ट क्रिकेट का उपकप्तान बनाने का फैसला किया था, तो इस फैसले से कई क्रिकेट विशेषज्ञ हैरान भी हुए, क्योंकि टेस्ट कप्तान के रूप में उनका प्रदर्शन बहुत ही शानदार रहा है। रहाणे ने भारत के लिए 6 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है, जिनमें उन्हें कभी भी हार का सामना नहीं करना पड़ा है।

हाल ही में, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने रहाणे को आगामी रणजी ट्रॉफी सीजन में भाग लेने की सलाह दी थी और अब उन्हें मुंबई रणजी टीम में भी शामिल कर लिया गया है।

मैं रोहित के लिए खुश हूं - अजिंक्य रहाणे

भारतीय टेस्ट उपकप्तान के पद से हटाए जाने के बाद अजिंक्य रहाणे ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा कि यह पूरी तरह से चयनकर्ताओं का निर्णय था, उनके वश में कुछ भी नहीं था और वे इस फैसले से खुश भी हैं।

उन्होंने कहा,

यह (रोहित को उपकप्तान बनाना) पूरी तरह से चयनकर्ताओं का निर्णय था। मेरे वश में कुछ भी नहीं था। मैं उस फैसले का सम्मान करता हूं। रोहित वास्तव में अच्छा कर रहा है और वह अच्छी तरह से टीम का नेतृत्व कर रहा है। वहां तक पहुंचने के लिए उसने काफी क्रिकेट खेला है। हम दोनों अच्छे दोस्त हैं। मैं रोहित के लिए बहुत खुश हूं।

रहाणे ने आगे कहा,

मैं उस चीज़ के बारे में नहीं सोचता जो मेरे वश में नहीं है। यह चयनकर्ताओं का निर्णय था। चयनकर्ताओं ने मुझे उपकप्तान बनाया और उन्होंने मुझे कप्तान भी बनाया। रोहित को उपकप्तान बनाना उनका फैसला था और मैं इसका पूरा सम्मान करता हूं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment